इस बार नहीं कर पाएंगे गणपति जी का मूर्ति विसर्जन, कराना होगा पहले ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

लाइफस्टाइल
श्वेता सिंह
श्वेता सिंह | सीनियर असिस्टेंट प्रोड्यूसर
Updated Aug 22, 2020 | 17:43 IST

Ganapati Visarjan: गणपति विसर्जन के नियम इस बार बदल गए हैं। इस बार आपको इसके लिए ऑनलाइन राजिस्टेशन से लेकर कई नियमों का पालन करना होगा।

Immersion of Ganpati idols
गणपति की मूर्तियों का विसर्जन।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • इस साल गणेश उत्सव पर मूर्ति स्थापना नहीं की जाएगी
  • कई जगह सार्वजनिक स्थानों पर विसर्जन के नियमों में भारी बदलाव
  • इस साल बीएमसी घर-घर जाकर मूर्तियों को लेगी और उनका विसर्जन होगा

नई दिल्ली: साल 2020 का गणेश उत्सव सभी को याद रहने वाला है। इस साल गणेश उत्सव पूरे देश में फीका रहने वाला है। कोरोना की मार कुछ इस तरह से पड़ा कि पर्व-त्यौहार के तौर तरीकों में बदलाव करना पड़ा है। देश के कई हिस्सों में इस साल गणेश उत्सव पर मूर्ति स्थापना नहीं की जाएगी, तो कई जगह सार्वजनिक स्थानों पर विसर्जन के नियमों में भारी बदलाव किये गए हैं।  

विसर्जन से पहले रजिस्ट्रेशन  

कोरोना के चलते कई जगहों पर इस साल विसर्जन के लिए पहले से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ा है। बिना उसके ये संभव नहीं होगा। हर साल गाजे-बाजे के साथ बप्पा को विदा किया जाता था, लेकिन इस बार दृश्य कुछ और ही होगा।  

BMC ने बनायी वेबसाइट 

महाराष्ट्र में गणेश उत्सव की धूम पूरे देश के लिए आकर्षण का केंद्र बनती है। मुंबई के कई गणपति पंडालों के दर्शन के लिए लोग पूरे देश से पहुँचते हैं, लेकिन इस बार कोरोना को देखते हुए विसर्जन के लिए खास तरह के नियम बनाए गए हैं। मुंबई की महानगर पालिका ने शहर के लोगों के लिए एक वेबसाइट बनाई है। इसपर पहले आपको रजिस्ट्रेशन कराना होगा।   

मुंबई में जनता नहीं बीएमसी कर्मचारी करेंगे विसर्जन  

इस साल बीएमसी घर-घर जाकर मूर्तियों को लेगी और उनका विसर्जन होगा। शहर में कई जगहों पर संग्रह का स्थान बनाया जाएगा। यहां लोगों को मूर्तियों यानी अपने गणपति बप्पा को जमा करना होगा। खुद बीएमसी के कर्मचारी उन मूर्तियों का विसर्जन करेंगे। मुंबई में हर साल छोटे बड़े पंडाल अपनी क्षमता के अनुसार धूम-धाम से बप्पा को नम आंखों से विदाई देते हुए उन्हें समंदर में विसर्जित करते हैं, लेकिन इस बार उन्हें बप्पा को बीएमसी के कर्मचारियों को सौंपना होगा जिसका वो विसर्जन करेंगे।  

कोरोना के चलते इस बार पूरे देश में धार्मिक अनुष्ठानों के लिए कड़े सुरक्षा नियमों का पालन किया जा रहा है। आप भी सरकार के निर्देश का पालन करते हुए ही गणेश उत्सव का पर्व मनाएं। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर