क्वारंटाइन में ऐसे करें कमरे और बाथरूम को स्टेरलाइज्ड, घर को बनाएं कोरोना मुक्त

लाइफस्टाइल
Updated Mar 27, 2020 | 07:26 IST | Ritu Singh

Room Sterilized Tips : क्वारंटाइन में घर में बंद हो जाना ही काफी नहीं है। जिस बेडरूम या बाथरूम को आप यूज कर हरे उसे भी सेनेटाइज कर स्टेरलाइज्डकरना होगा।

Room Sterilized Tips, रूम को सेटनेटाइज करने के टिप्स
Room Sterilized Tips, रूम को सेटनेटाइज करने के टिप्स 

मुख्य बातें

  • गर्म पानी में ब्लीच डाल कर स्प्रे करें तैयार
  • तकिया और गद्दों के दोनों ओर कीटाणुनाशक स्प्रे करें
  • चादर, तकिये के कवर आदि को गर्म पानी में धोएं

कोरोना वायरस से बचने के लिए देश में 21 दिन का लॉकडाउन कर दिया गया है, लेकिन घर में बंद रहने से ही केवल आप कोरोना वायरस के खतरे से नहीं बच सकते। यदि आप घर से बाहर जरूरी सामान लेने के लिए भी निकल रहे तो आपको खुद को ही नहीं अपने बेडरूम को भी सेनेटाइज करना जरूरी होगा। इतना ही नहीं आप या आपके परिवार का कोई सदस्य यदि किसी कोरोना वायरस के सस्पेक्टेड के संपर्क आया हो और वह आइसोलेशन में हो तो उसे भी अपने कमरे को बार बार स्टेरलाइज्ड करना जरूरी होगा। ताकि वह और उसके परिवार के अन्य सदस्य में ये रोग न आने पाएं। इसके लिए बेडरूम के साथ टॉयलेट को भी सेनेटाइज कर स्टेरलाइज्ड करना होगा।

सेनेटाइजनेश के वक्त अपनी सुरक्षा का ध्यान रखें

यदि आप घर को सेनेटाइज कर रहे तो सबसे पहले आपको अपनी सुरक्षा का ध्यान देना होगा। मास्क पहने, चश्मा लगाएं ताकि गलती से भी हाथ आंखों से सीधे टच न हो और हाथ में दस्ताने जरूर पहनें। दिन में दो बार कमरे को यदि सेनेटाइज कर दिया जाए तो वायरस का खतरा खत्म हो सकता है।

ऐसे करें अपने कमरे या टॉयलेट को सेनेटाइज

  • एक मग में गर्म पानी मिला लें और इसमें 1 कप ब्लीच मिला दें। अब इसे एक स्प्रे बॉटल में डाल दें। अब इस स्प्रे को आप कूड़े के डिब्बे पर डाल दें। ये दिन में दो से तीन बार करें। हर बार कूड़ा फेंकने के बाद ऐसा करें।
  • कमरे में डस्टबिन हो ते उसे भी दिन में दो बार ब्लीच स्प्रे डाल कर साफ करें और फिर से नया पॉलिथीन बैग लगा दें।
  • ब्लीच स्प्रे को आप कमरे के सभी बड़ी सतहों  जैसे काउंटरटॉप्स, दरवाजे और दीवारों को पोंछने के लिए करें।
  • फर्नीचर, लाइट स्विच, दरवाजे के हैंडल, कंप्यूटर की बोर्ड, रिमोर्ट और मोबाइल पर कोई भी जीवाणुरोधी स्प्रे डाल कर पोंछें। छोटे, तंग स्थानों पर पहुंचने के लिए जीवाणुरोधी घोल में पोंछे को डाल कर पोंछें।
  • गर्म पानी और 1 कप ब्लीच को वैक्यूम फिल्टर में डाल दें और कमरे में पड़ी कालीन या फुटमैट पर आप ये स्प्रे करें।
  • कमरें के तकिए और चादर को बिस्तर से हटा दें। गर्म पानी में चादरें और तकिए धोएं।
  • इसके बाद तकिए को वैक्यूम करें और फिर उसे भाप दें या नम होने तक एक कीटाणुनाशक स्प्रे के साथ स्प्रे करें।  इसके बाद तकिए को सूखने दें।
  • गद्दे को वैक्यूम करें और इसके दोनों ओर भाप दें या नम होने तक एक कीटाणुनाशक स्प्रे के साथ स्प्रे करें। भाप देने या दूसरी तरफ स्प्रे करने से पहले गद्दे के एक तरफ सूखने दें।
  • पर्दे को धुलें या वैक्यूम करें और फिर भाप दें या नम होने तक कीटाणुनाशक स्प्रे के साथ स्प्रे करें।
  • डोर नॉब, विंडो सिल्स, फ़र्नीचर पुल/ नोज़ जैसी कठोर सतहों पर भाप या कीटाणुनाशक वाइप्स का उपयोग करें और सतहों को सूखने दें।
  • बाथरूम में ब्लीच का उपयोग करें। टॉयलेट सीट पर बार-बार ब्लीच स्प्रे को डालते रहें। वहीं बेसिन के नल और बेसिन के साथ फर्श को भी ऐसे ही सेनेटाइज करते रहें।
  • रुमाल-तौलिये का इस्तेमाल यदि कर रहे है तो उसे भी बार-बार धोएं या टिशू पेपर का यूज करें।
  • टिशू पेपर को ढक्कन वाले डस्टबिन में डालें।
  • स्लीपर को भी सेनेटाइज करना न भूलें। इसे भी आप कीटाणुनाशक स्प्रे से साफ कर सकते हैं।

इन तरीकों से आप अपने बेडरूम और टॉयलेट की सफाई पर खास ध्यान दें क्योंकि इस समय ज्यादातर समय बेडरूम में ही बीत रहा है।

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...