Happy Children's Day 2021 Shayari, Wishes Images: शायराना अंदाज में इन तस्वीरों से भेजें बाल दिवस की बधाई

Happy Children's Day 2021 Wishes Hindi Shayari, Images, Messages: हर साल 14 नवंबर को चिल्ड्रेंस डे मनाया जाता है। इस दिन पंडित जवाहरलाल नेहरू के जन्मदिन भी होता है। आज इस खास मौके पर आप शायराना अंदाज में इन तस्वीरों से दोस्तों को भेजें बधाई संदेश।

Children's Day, Children's Day 2021, happy Children's Day, happy Children's Day, Children's Day shayari in hindi, Children's Day wishes shayari in hindi, happy Children's Day shayari in hindi, happy Children's Day shayari in hindi, happy Children's Day
Children's Day shayari in hindi,बाल दिवस की हिंदी शायरी   |  तस्वीर साभार: Times Now
मुख्य बातें
  • हर साल 14 नंवबर को पूरे देश में बाल दिवस मनाया जाता है
  • देश के पथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू का जन्म भी 14 नवंबर को ही हुआ था
  • यह दिन बच्‍चों के लिए बेहद खास होता है तो बड़े भी इस दिन अपने बचपन की यादों को ताजा करते हैं

Happy Children's Day 2021 Wishes Hindi Shayari, Images, Messages:  बाल दिवस यानी Children's Day 14 नवंबर को मनाया जाता है।  देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के जन्‍मदिन को मनाया जाता है।  पंडित नेहरू को बच्‍चों से बेहद स्‍नेह था और इसलिए बच्‍चे उन्‍हें 'चाचा नेहरू' बुलाते थे।

यह दिन बच्‍चों के लिए बेहद खास होता है तो बड़े भी इस दिन अपने बचपन की यादों को ताजा करते हैं। इस मौक पर आप शायरी के खास अंदाज में बधाई संदेश भेज सकते हैं। 

बाल दिवस की शायरी

चाचा जी के हम है बच्चे प्यारे,
माँ-बाप के राज दुलारे,
आ गया है चाचा जी का जन्मदिवस,
आओ मिलकर मनाये बाल दिवस।

बच्चो के आंसू कड़वे होते हैं
उन्हें मीठा करिये
बच्चो की जिज्ञासा गहरी होती है
उसे शांत करिये
बच्चो का दुःख तीव्र होता है
इसे उससे ले लें
बच्चो का दिल कोमल होता है
इसे कठोर ना बनाएं

 
देश की प्रगति के हम है आधार,
हम करेंगे चाचा नेहरू के सपने साकार।
चाचा नेहरू के सम्मान में बाल दिवस पर शायरी
चाचा का है जन्मदिवस,
सभी बच्चे आएंगे,
चाचा जी को फूल गुलाब से,
हम बच्चे सब महकाएँगे।

माँ की कहानी थी,
परियों का फ़साना था,
बारिश में कागज की नाव थी,
बचपन का वो हर मौसम सुहाना था।

दुनिया का सबसे सच्चा समय,
दुनिया का सबसे अच्छा दिन,
दुनिया का सबसे हसीन पल,
सिर्फ बचपन में ही मिलता है,

अचकन में फूल लगाते थे,
हमेशा मुस्कुराते थे,
बच्चों से प्यार जताते थे,
चाचा नेहरू प्यारे थे।

ना रोने की कोई वजह थी,
ना हँसने का कोई बहाना था,
क्यों हो गए हम इतने बड़े,
इससे अच्छा तो वो बचपन का जमाना था।

झूठ बोलते थे फिर भी कितने सच्चे थे हम,
ये उन दिनों की बात है जब बच्चे थे हम।

चाचा नेहरू का था बच्चों से बहुत पुराना नाता,
जन्मदिवस चाचा नेहरू का बाल दिवस कहलाता।

सबके मन को भाते चाचा नेहरू,
बच्चों को हँसाते चाचा नेहरू,
दिल में भरा अनोखा प्यार,
करते वो बच्चों को प्यार बेशुमार।

खबर ना होती कुछ सुबह की,
ना कोई शाम का ठिकाना था,
थक हार के आना स्कूल से,
पर खेलने को तो जरूर था जाना।

बाल दिवस है चाचा का जन्मदिवस,
ये है हम सबको प्यारा,
काश आज भी होते हमारे साथ चाचा प्यारे,
इनका प्यार है सबसे न्यारा।
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर