Guru Gobind Singh Jayanti 2022 Quotes: गुरु गोबिंद सिंह के ये है अनमोल विचार, बदल देंगे आपकी जिंदगी

Guru Gobind Singh Jayanti 2022 Wishes, Quotes in Hindi: सिखों के 10 वें गुरु गुरु गोबिंद सिंह जी महाराज की जयंती है। उनकी जंयती पर देशभर के गुरुद्वारों में भजन, कीर्तन, अरदास और लंगर का आयोजन किया जाता है।

Guru Gobind Singh Jayanti 2022 Quotes These are priceless thoughts of Guru Gobind Singh, will change your life
गुरु गोबिंद सिंह के ये है अनमोल विचार, बदल देंगे आपकी जिंदगी 
मुख्य बातें
  • गुरु गोबिंद की जयंती आज, देशभर में होता है इस दिन कार्यक्रमों का आयोजन
  • दिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू के बावजूद मिलेंगी इस विशेष अवसर के लिए रियायतें
  • गुरु गोबिंद जी के विचारों को अगर अपना लें तो नहीं होगी कभी भी निराशा

Guru Gobind Singh Quotes, Messages:  सिखों के 10वें गुरु गुरु गोबिंद सिंह जी महाराज की आज जयंती है। सिखों के दसवें गुरु गोबिंद जी का जन्म 22 दिसम्बर 1666 को बिहार के पटना जिले में हुआ था जिन्होंने सामाजिक समानता का पुरजोर समर्थन किया। वह उत्पीड़न और भेदभाव के खिलाफ खड़े हुए और इसलिए लोगों के लिए एक महान प्रेरणा का स्त्रोत बने। ग्रेगोरियन कैलेंडर के अनुसार, गुरु गोबिंद सिंह की जयंती हर साल दिसंबर या जनवरी में पड़ती है। लेकिन गुरु की जयंती का वार्षिक उत्सव नानकशाही कैलेंडर के अनुसार होता है। इस साल यह 9 जनवरी 2022 को पड़ रहा है।

देशभर में होते हैं कार्यक्रम

 उनकी जयंती पर हल साल उनके भक्त इकट्ठा होते हैं और आशीर्वाद के लिए गुरुद्वारों में प्रार्थना सभा तथा बड़ी सभाओं का आयोजन किया जाता है जिसमें वे भक्ति गीत गाते हैं। गुरुद्वारों, उनके पूजा स्थल पर विशेष अरदास की जाती है। इस शुभ अवसर पर, कई भक्त पंजाब के स्वर्ण मंदिर में प्रार्थना करने और पवित्र सरोवर में डुबकी लगाने के लिए आते हैं। हालांकि इस साल देश में बढ़ते कोविड -19 मामलों की वजह सीमित संख्या में लोग एकत्र हो सकेंगे।

guru gobind singh jayanti 2021 : जानें खालसा पंथ के संस्थापक गुरु गोविंद सिंह साहब के जीवन से जुड़ी खास बातें
 

गुरु गोबिंद सिंह के कुछ अनमोल विचार

  1. मेरी बात सुनो जो लोग दुसरे से प्रेम करते है वही लोग प्रभु को महसूस कर सकते है। उन्ही लोगो का जीवन पूर्ण है जिनके अंदर भगवान के नाम की महसूस करते है।
  2. अगर आप केवल अपने भविष्य के ही विषय  में सोचते रहें तो आप अपने वर्तमान को भी खो देंगे।
  3.  'दसवंड देना'- इसका मतलब है हर व्यक्ति को अपनी कमाई का दसवां हिस्सा दान में दे देना चाहिए। 
  4. जब आप अपने अन्दर बैठे अहंकार को मिटा देंगे, तभी आपको वास्तविक शांति की प्राप्त होगी।
  5. 'कम करन विच दरीदार नहीं करना', अर्थात् व्यक्ति को अपने काम में खूब मेहनत करनी चाहिए। काम को लेकर कोताही कभी भी नहीं बरतनी चाहिए। 
  6.  दूसरे की निंदा करना, उससे द्वेष रखना गलत है. अपनी मेहनत पर विश्वास करें।
  7. गुरु गोबिंद सिंह जी का मानना था कि हर मनुष्य का जन्म अच्छे कर्मों के लिए हुआ है. उसे बुरे कर्मों से दूर ही रहना चाहिए।
  8. निर्बल पर कभी अपनी तलवार चलाने के लिए उतावले मत होईये, वरना  विधाता आप का ही खून बहायेगा।

आपको बता दें कि दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने रविवार को मनाए जाने वाले गुरु गोबिंद सिंह की जयंती के अवसर पर सप्ताहांत कर्फ्यू मानदंडों में ढील देने की घोषणा की है।

Guru Gobind Singh Jayanti 2021: गुरु गोबिंद सिंह की जयंती पर जानें ये 10 उपदेश, संवर जाएगा जीवन
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर