Assam Tour: असम का शहर जो कहलाता है स्वर्ग! खासियत जानकर आप भी कहेंगे- 'एक ट्रिप तो बनती हैं!'

नदी, झीलों, पहाड़ों, चाय के बागानों और ढ़ेरों सुहाने नजारे को अपने आंचल में समेटे असम देश दुनिया के पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है। यहां से गुजरती ब्रम्हपुत्र नदी असम की खूबसूरती में चार चांद लगा देती है।

Assam most beautiful cities
असम के 10 सबसे शानदार शहर 
मुख्य बातें
  • ब्रम्हपुत्र नदी के किनारे बसा गुवाहटी असम की सुंदरता में लगाता है चार चांद।
  • काजीरंगा नेशनल पार्क एक सींघ वाले गैंडे के लिए है देश दुनिया में प्रसिद्ध।
  • असम के इस शहर को नवाजा जाता है स्वर्ग से, एक बार अवश्य करें सैर।

उत्तर पूर्व भारत का सबसे बड़ा राज्य असम चारों ओर पर्वतों और पहाड़ियों से घिरा एक बेहद शानदार प्रदेश है। प्राचीन काल से ही भारत की विभिन्न जीतियां इस प्रदेश की पहाड़ियों और घाटियों पर समय समय पर बसी और यहां की मिश्रित संस्कृति में अपना योगदान दिया। नदी, झीलों, पहाड़ों, चाय के बागानों और ढ़ेरों सुहाने नजारे को अपने आंचल में समेटे असम देश दुनिया के पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है।

यहां से गुजरती ब्रम्हपुत्र नदी असम की खूबसूरती में चार चांद लगा देती है। असम के अंतर्गत इसी नदी पर विश्व का सबसे बड़ा नदी द्वीप माजुली स्थित है। यहां पर लाखों की संख्या में पर्यटक इस खूबसूरत नजारे का दीदार करने आते हैं। वास्तव में विविधता का यह शहर अपने खूबसूरत पर्यटन स्थलों के लिए देश दुनिया के पर्यटन मानचित्र पर धाक जमाए खड़ा है।

1. जोरहट: असम की चाय का हर कोई दीवाना है। यदि असम के चाय के बागानों को करीब से देखना है तो जोरहट की सैर अवश्य करें। यहां की पहाड़ियों पर हरे भरे चाय के बागानों को देखकर आपको अत्यंत सुकून का अहसास होगा। साथ ही आपको बता दें यहां पर चाय के कई रिसर्च इंस्टीट्यूट भी हैं, जहां पर आप अलग अलग तरह की चाय का स्वाद भी ले सकते हैं। ऐसे में एक बार असम के जोरहट शहर की सैर अवश्य करें।

2. गुवाहटी:

ब्रम्हपुत्र नदी के किनारे बसा गुवाहटी असम की सुंदरता में चार चांद लगाता है। गुवाहटी शहर को नॉर्थ ईस्ट इंडिया की सेवन सिस्टर्स का प्रवेश द्वार भी कहते हैं। यह शहर अपने प्राचीन मंदिरों के लिए भक्तों के आस्था का प्रमुख केंद्र हैं। यह पर अनेको प्राचीन मंदिर हैं, जो अपने साथ कई ऐतिहासिक कहानियों को समेटे हैं। यहां पर देवी कामाख्या का मंदिर है, जो भक्तों के आस्था का प्रमुख केंद्र है। साथ ही आपको बता दें यहां पर एक चिड़िया घर है, जो उत्तर पूर्व राज्य का सबसे बड़ा चिड़िया घर है। ऐसे में यदि आप अप्रैल माह में असम घूमने की योजना बना रहे हैं तो गुवाहटी की सैर अवश्य करें।

3. दिसपुर: दिसुपुर चाय के खेतों पर पड़ती सूरज की लालिमा औऱ अनूठी परंपराओं के लिए देश दुनिया में प्रसिद्ध है। यह असम राज्य की राजधानी है। इस शहर की खूबसूरती आपको मंत्रमुग्ध कर देंगी। दिसुपुर प्राचीन मंदिरों के साथ भारतीय संस्कृति का गवाह है। यहां का मौसम सालभर खुशनुमा रहता है। ऐसे में इस शहर का भ्रमण अवश्य करें।

4. मानस नेशनल पार्क: मानस नेशनल पार्क यूनेस्को द्वारा यूनेस्को प्राकृतिक विश्व धरोहर स्थल में शामिल है। मानस नेशनल पार्क भारत के प्रमुख राष्ट्रीय उद्यानों में से एक है, जो बाघ अभ्यारण्य, गोल्डन लंगूर औऱ लाल रंग के पांडा के लिए देश दुनिया में शुमार है। आपको बता दें मानस नेशनल पार्क बाघ की सबसे बड़ी आबादी वाला दूसरा सबसे बड़ा राज्य है। अप्रैल के महीने में यहां का मौसम सुहाना होता है। ऐसे में आप इस महीने मानस नेशनल पार्क की सैर जरूर करें।

5. काजीरंगा नेशनल पार्क:

आपको बता दें काजीरंगा नेशनल पार्क असम राज्य के गोलाघाट और नागांव जिले में स्थित एक बहुत ही प्रसिद्ध नेशनल पार्क है। काजीरंगा नेशनल पार्क दुनिया का एक ऐसा पार्क है, जो एक सींग वाले गैंडों की सबसे अधिक आबादी के लिए प्रसिद्ध है। इस राष्ट्रीय पार्क को 1985 में विश्व विरासत स्थल के रूप में घोषित किया गया है। इस पार्क को भारतीय बाघों का घर भी कहा जाता है। यहां पर आप जीप से पार्क का भ्रमण करते हुए एक सींघ वाले गैंडों और बाघों को सड़क पर देख सकते हैं। आपको बता दें फोटोग्राफी के लिए काजीरंगा नेशनल पार्क बेहद शानदार जगह है। ऐसे में अप्रैल के महीनें काजीरंगा नेशनल पार्क का भ्रमण अवश्य करें।

6. नामेरी नेशनल पार्क: नामेरी राष्ट्रीय उद्यान असम राज्य का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है, जो अपने हाथियों औऱ अन्य जानवरों के लिए प्रसिद्ध है। इस पार्क में पाए जाने वाले जानवरों में बाघ, तेंदुआ, गौर, जंगली सुअर आदि शामिल हैं। आपको बता दें यह पार्क पक्षी प्रेमियों के लिए स्वर्ग से कम नहीं है। यहां पर राष्ट्रीय उद्यान में जंगल सफारी भी उपलब्ध है, जो पर्यटकों की यात्रा को उत्साह से भर देते हैं। ऐसे में एक बार नामेरी नेशनल पार्क की सैर अवश्य करें।

7. कामाख्या देवी मंदिर:

गुवाहटी के दर्शनीय स्थलों में कामाख्या देवी मंदिर बेहद प्रसिद्ध है। इस मंदिर को लेकर हिंदु धर्म में विशेष मान्यता है। नीलांचल की पहाड़ियों पर बसा मां कामख्या का मंदिर भक्तों की आस्था का प्रमुख केंद्र है। असम आने वाले लोग मां कामख्या के मंदिर का दर्शन जरूर करते हैं। ऐसे में एक बार मां कामख्या देवी का दर्शन जरूर करें।

8. काकोचांग झरना: काकोचांग भारत के शानदार झरनों में से एक है। यहां पर पहाड़ों से गिरते पानी को देख आप मंत्रमुग्ध हो उठेंगे। काकोचांग झरने की यात्रा वास्तव में आपके जीवन का सबसे यादगार पल होगा। यहां पर झीलों से बरसते पानी में भीगते हुए चाय का स्वाद आपके लिए बेहद खूबसूरत होगा।

9. डिब्रूगढ़: ब्रम्हपुत्र नदी के किनारे बसा डिब्रूगढ़ एक ऐतिहासिक शहर है यह पर्यटन की लिहाज से बेहद खूबसूरत है। असम के इस शहर को स्वर्ग से नवाजा जाता है। वास्तव में डिब्रूगढ़ की खूबसूरती किसी जन्नत से कम नहीं है। यहां का शांत औऱ सुकुन वातावरण पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है डिब्रूगढ़ को लोग टी सिटी ऑफ इंडिया के नाम से जानते हैं। ऐसे में इस शहर की सैर अवश्य करें।

10. माजुली: असम के माजुली की खूबसूरती को लफ्जों में बयां कर पाना नामुमकिन है। असम के अंतर्गत इसी नदी पर विश्व का सबसे बड़ा नदी द्वीप माजुली है। आपको बता दें लगभग 1200 से अधिक किलोमीटर में फैला माजुली देश दुनिया में सबसे बड़ा द्वीप है। ऐसे में एक बार माजुली की सैर अवश्य करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर