Friendship Shayari: 'इक ताबीज तेरी मेरी दोस्ती को भी चाहिए'... पढ़िए दोस्ती को लफ्जों में बयां करतीं शायरियां

10 Friendship Shayari: दोस्ती को जज्बातों में बयां करने वाली 10 मोहब्बत की शायरियां, जिन्‍हें आप अपने जिगरी यारों को भेज सकते हैं।

Friendship Shayari
Friendship Shayari 

10 Friendship Shayari: कुछ रिश्ते खून के होते हैं कुछ रिश्ते पैसे के होते हैं जो लोग बिना रिश्ते के ही रिश्ते निभाते हैं शायद वही दोस्त कहलाते हैं। दुनिया में कुछ रिश्ते ऐसे होते हैं जो हमें ईश्वर की तरफ से नहीं मिलते बल्कि हम उन्हें खुद अपनी जिंदगी के लिए चुनते हैं। जी हां उन्हीं में से एक रिश्ता है दोस्ती का, हम अपने दोस्त खुद ही चुनते हैं। दोस्ती का यह रिश्ता अपने सभी सगे संबंधियों से भी करीब का रिश्ता होता है। ये दोस्त हमारी खुशी में साथ नाचते हैं तो वहीं गम में हाथ थामें हमारे साथ खड़े रहते हैं। ऐसे में आज हम आपकी दोस्ती को जज्बातों में बयां करने के लिए कुछ शायरियां लेकर आए हैं। जिसे आप अपने दोस्तों को भेजकर अपनी दोस्ती को बयां कर सकते हैं।

इक ताबीज तेरी मेरी दोस्ती को भी चाहिए
थोड़ी सी दिखी नहीं कि नजर लग गई।

हर मोड़ पर मुकाम नहीं होता,
दिल के रिश्तों का कोई काम नहीं होता,
चिराग की रौशनी से ढ़ूंढा है आपको,
आप जैसा दोस्त मिलना आसान नहीं होता। 

दोस्ती नाम है सुख-दुख की कहानी का,
दोस्ती राज है सदा ही मुस्कुराने का ,
यह कोई पल भर की पहचान नहीं है,
दोस्ती वादा है उम्र भर साथ निभाने का।

कहीं अंधेरा तो कहीं शाम होगी,
मेरी हर खुशी तेरे नाम होगी,
कभी मांग कर तो देख हमसे ए दोस्त,
होठों पर हंसी और हथेली पर जान होगी।

हम अपने आप पर गुरुर नहीं करते,
किसी को प्यार करने पर मजबूर नहीं करते,
जिसे एक बार दिल से दोस्त बना लें,
उसे मरते दम तक दिल से दूर नहीं करते।

हर मोड़ पर मुकाम नहीं होता,
दिल के रिश्तों का कोई नाम नहीं होता,
चिराग की रौशनी से ढ़ूढ़ा है आपको,
आप जैसा दोस्त मिलना आसान नहीं होता। 

शुक्रिया ऐ दोस्त मेरी जिन्दगी में आने के लिए,
हर लम्हें को इतना खूबसूरत बनाने के लिए,
तू है तो हर खुशी पर मेरा नाम लिख गया,
शुक्रिया मुझे इतना खुशनसीब बनाने के लिए।

खुशबू की तरह मेरी सांसो में रहना,
लहू बनके मेरी नस-नस में बहना,
दोस्ती होती है रिश्तों का अनमोल गहना,
इसलिए दोस्त को कभी अलविदा न कहना।



जब कोई ख्याल दिल से टकराता है,
दिल न चाहकर भी खामोश रहता है
कोई सब कुछ कहकर दोस्ती जताता है
कोई कुछ न कहकर दोस्ती निभाता है।

सबने कहा दोस्ती एक दर्द है,
हमने कहा दर्द कुबूल है!
सबने कहा दर्द के साथ जी ना पाओगे,
हमने कहा तेरी दोस्ती के साथ मरना कबूल है!!

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर