'कानपुर में दिखा 'नोटों का पहाड़' लेकिन क्रेडिट लेने कोई आगे नहीं आया', PM मोदी का विपक्ष पर तंज

Piyush Jain news : चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'ये लोग हमारे काम को देखकर जरूर कहते हैं कि ये तो हमने किया था...मैं सोच रहा था, बीते दिनों जो बक्शे भर-भर के नोट मिले हैं। उसके बाद भी ये लोग यही कहेंगे कि ये भी हमने ही किया है।'

 Cash recovery from Piyush Jain home, PM Modi targets opposition
कानपुर में पीएम मोदी ने विपक्ष पर साधा निशाना।   |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • पीएम मोदी ने मंगलवार को कानपुर में मेट्रो का उद्घाटन किया
  • आईआईटी कानपुर के दीक्षांत समारोह में शामिल हुए प्रधानमंत्री
  • चुनाव सभा में विपक्ष पर बरसे, पीय़ूष जैन के यहां मिले कैश पर कसा कंज

कानपुर : इत्र कारोबारी पीयूष जैन के आवासीय परिसर से करोड़ों रुपए कैश की बरामदगी होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष पर निशाना साधा है। प्रधानमंत्री ने मंगलवार विपक्ष पर तंज कसते हुए कहा कि जो विपक्ष उनकी सरकार द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों का श्रेय लेने में हमेशा आगे रहता है लेकिन वह इत्र कारोबारी के यहां से बरामद कैश का श्रेय लेने के लिए आगे नहीं आया। प्रधानमंत्री ने कहा कि बीते दिनों नोटों का पहाड़ जो पूरे देश ने देखा, यही विपक्ष की उपलब्धि और यही उनकी सच्चाई है।'  

यही उनकी उपलब्धि है-पीएम मोदी

चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, 'ये लोग हमारे काम को देखकर जरूर कहते हैं कि ये तो हमने किया था...मैं सोच रहा था, बीते दिनों जो बक्शे भर-भर के नोट मिले हैं। उसके बाद भी ये लोग यही कहेंगे कि ये भी हमने ही किया है। आप कानपुर वाले लोग तो कारोबार, व्यवसाय को अच्छी तरह से जानते हैं। साल 2017 से पहले भ्रष्टाचार का इत्र जो उन्होंने पूरे यूपी में छिड़क रखा था, वो फिर सबके सामने आ गया है। लेकिन वे लोग अब अपने मुंह पर ताला लगाकर बैठे हैं। क्रेडिट लेने के लिए आगे नहीं आ रहे हैं। नोटों का पहाड़ जो पूरे देश ने देखा यही उनकी उपलब्धि और यही उनकी सच्चाई है।'

Piyush Jain: अहमदाबाद से निकले सुराग तब जाकर खुला पीयूष जैन की 'काली कमाई' का राज, जानें कब क्या हुआ

जैन के घर से मिले 194 करोड़ रु. कैश
बता दें कि करोड़ों रुपये की टैक्स चोरी के आरोप में जैन को गिरफ्तार किया गया है। वह 15 दिनों की न्यायिक हिरासत में है। अधिकारियों को पीयूष जैन के कानपुर स्थित घर और फैक्ट्री में छापेमारी के बाद कुल 194 करोड़ रुपये कैश और 23 किलोग्राम सोना मिला है। कानपुर के आवास पर कैश की बरामदगी इतनी ज्यादा थी कि उसे गिनने के लिए नोट गिनने वाली आठ मशीनें लगाई गईं। अधिकारियों से पूछताछ में कई हैरान करने वाली बातें सामने आई हैं। जैन की 'काली कमाई' के राज से धीरे-धीरे परदा उठ रहा है। 

Sawal Public Ka: पीयूष जैन का नोटों का तहखाना, 'समाजवादी इत्र' में खुशबू या काले धन की बदबू?

कन्नौज स्थित घर से मिले 17 करोड़ नकद
केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने सोमवार को जारी एक बयान में कहा कि पान मसाला (गुटखा) एवं इत्र कारोबारी पीयूष जैन के कानपुर स्थित आवास से 177.45 करोड़ रुपये की अघोषित नकदी मिली है। मंत्रालय के मुताबिक, यह किसी भी ठिकाने से बरामद एवं जब्त की गई अब तक की सबसे बड़ी अघोषित नकदी है। इसके अलावा कारोबारी के कन्नौज स्थित ठिकानों (आवासीय और कारखाना परिसर) से भी तलाशी दल को करीब 17 करोड़ रुपये की नकदी मिली है। डीजीजीआई की अहमदाबाद इकाई ने कर चोरी के आरोप में 22 दिसंबर को जैन के ठिकानों की तलाशी शुरू की थी। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर