AICTE की इस स्कीम पर पढ़ाई के लिए हर साल मिलते हैं 50 हजार, जानें पात्रता और शर्तें

AICTE Scholarship Scheme: योजना के तहत  स्कीम का फायदा अधिकतम 4 साल के लिए प्राप्त किया जा सकता है। स्कॉलरशिप का लाभ लेने के लिए आवेदक का आधार और बैंक खाता लिंक होना चाहिए।

Multibagger Stock
फाइल फोटो: एआईसीटीई योजना का ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है।  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • AICTE की SWANATH स्कीम के तहत चयनित छात्र-छात्रा को एक साल में 50 हजार रुपये की स्कॉलरशिप मिलती है।
  • योजना के तहत हर साल 1000 डिग्री कोर्स और 1000 डिप्लोमा कोर्स के छात्र-छात्राओं  का चयन किया जाता है।
  • केंद्र और राज्य सरकार या AICTE की किसी स्कॉलरशिप स्कीम का पहले से लाभ मिलने पर योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

नई दिल्ली:  अगर कोई छात्रा या छात्रा AICTE से मान्यता प्राप्त डिग्री कोर्स और डिप्लोमा कोर्स से पढ़ाई कर रहा है। तो वह AICTE की SWANATH स्कीम का लाभ लेने के लिए आवेदन कर सकता है। इसके तहत चयनित छात्र-छात्रा को एक साल में 50 हजार रुपये की स्कॉलरशिप मिलती है। इस योजना के तहत हर साल 1000 डिग्री कोर्स और 1000 डिप्लोमा कोर्स के छात्र-छात्राओं  का चयन किया जाता है।

कौन है पात्र

अखिल भारतीय तकनीकी परिषद (AICTE) की SWANATH स्कीम के अनुसार अनाथ बच्चे, कोविड-19 के कारण अपने माता या पिता में किसी को खो देने वाले बच्चे, सेना और सेंट्रल पैरा मिलिट्री फोर्स के शहीदों के बच्चे, ऐसे बच्चे जिनके माता-पिता की सालाना आय 8 लाख रुपये के कम है। इसके अलावा AICTE से मान्यता प्राप्त रेगुलर पाठ्यक्रम का छात्र या छात्रा होनी चाहिए।

साथ ही अगर किसी छात्र या छात्रा को केंद्र और राज्य सरकार या AICTE की किसी स्कॉलरशिप स्कीम का पहले से लाभ मिल रहा है तो वह योजना का पात्र नहीं होगा।

कैसे करें आवेदन

जो छात्र या छात्रा योजना के लिए पात्र शर्तों को पूरा करते हैं, वह स्कॉलरशिप स्कीम के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। योजना के तहत  स्कीम का फायदा अधिकतम 4 साल के लिए प्राप्त किया जा सकता है। स्कीम के तहत स्कॉलरशिप का लाभ लेने के लिए आवेदक का आधार और बैंक खाता लिंक होना चाहिए। जिससे 50000 रुपये की राशि उसके खाते में पहुंचाई जा सके।

इस स्थिति में आवेदन हो सकता है रिजेक्ट

अगर किसी छात्र-छात्रा ने ऐसे कॉलेज या विश्व विद्यालय से आवेदन किया है, जो AICTE से मान्यता प्राप्त नहीं है। तो आवेदन रिजेक्ट हो सकता है। आवेदक ने ड्यूल डिग्री कोर्स में प्रवेश ले रखा है। स्कॉलरशिप प्राप्त करने के बाद हर साल, अगली कक्षा में जाने का प्रमाणपत्र जमा नहीं करना। परिवार की सालाना आय के लिए जरूरी प्रमाण पत्र नहीं  होने की स्थिति में आवेदन रिजेक्ट हो सकता है।


 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर