Independence Day Speech 2022: 15 अगस्त पर दमदार भाषण, जागृत हो उठेगा देशभक्ति का जज्बा

Independence Day Speech in Hindi 2022, Swatantrata Diwas Par Bhashan in Hindi: यदि आप भी स्वतंत्रता दिवस के दिन स्कूल, कॉलेज या किसी कार्यक्रम में भाषण प्रतियोगिता में भाग ले रहे हैं, तो हमारे इस लेख पर एक नजर अवश्य डालें। यहां से आइडिया लेकर व तैयारी कर आप भाषण प्रतियोगिता में पहला स्थान प्राप्त कर सकते हैं।

independence day speech,speech on independence day,independence day speech in english,
15 अगस्त पर दमदार भाषण | फोटो आभार (Istock)  |  तस्वीर साभार: फेसबुक
मुख्य बातें
  • भारत आजादी का 75वां वर्षगांठ मनाने जा रहा है।
  • इस दिन भारत ब्रिटिशों के औपनिवेशिक शासन से मुक्त हो गया था।
  • 15 अगस्त पर स्पीच के लिए ऐसे करें तैयारी।

Speech On Independence Day 2022: भारत इस वर्ष आजादी का 75वां वर्षगांठ मना रहा है। भौगोलिक, धार्मिक व सांस्कृतिक विविधता वाला यह देश आजादी के 75 सालों में मोहब्बत व नफरत के कई पड़ाव से होकर गुजरा है। साल 1947 में भारतीयों ने इस दिन ब्रिटिश शासन से स्वतंत्रता प्राप्त की थी, यह भारत का राष्ट्रीय त्योहार है। इस दिन भारत ब्रिटिशों के औपनिवेशिक शासन से मुक्त हो गया था। इस वर्ष 15 अगस्त के उपलक्ष्य में हर घर तिरंगा अभियान चलाया जा रहा है, ताकि लोगों को भारतीय ध्वज फहराने व घर लाने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके। अगस्त के शुरुआती दिनों से ही स्कूल, कॉलेज से लेकर देश के सरकारी विभागों में तिरंगा यात्रा निकाली जा रही है। साथ ही स्वतंत्रता दिवस के दिन विशेष कार्यक्रम के आयोजन की तैयारियां चल रही हैं।  ऐसे में यदि आप भी स्वतंत्रता दिवस के दिन स्कूल, कॉलेज या किसी कार्यक्रम में भाषण प्रतियोगिता में भाग ले रहे हैं, तो हमारे इस लेख पर एक नजर अवश्य डालें। यहां से आइडिया लेकर व तैयारी कर आप भाषण प्रतियोगिता में पहला स्थान प्राप्त कर सकते हैं।

Independence Day Short Speech in Hindi: Read here

Independence Day 2022 - कविता से करें भाषण की शुरुआत

तिरंगा ही आन है...
तिरंगा ही शान है।
तिरंगा ही हम हिंदुस्तानियों की पहचान है।

आदरणीय प्राधानाचार्य, मुख्य अतिथि, शिक्षकगण व मेरे प्यारे देशवासियों सर्वप्रथम आप सभी को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं। आज हम अपने महान भारत के 75वें स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाने के लिए एकत्रित हुए हैं। 15 अगस्त भारत के गर्व और सौभाग्य का दिवस है। यही वह दिन है जब भारत ब्रिटिशों की 200 साल की बेड़ियों से मुक्त हुआ था। 15 अगस्त भारतवर्ष का राष्ट्रीय पर्व है। भारत देश 15 अगस्त 1947 को ब्रिटिश शासन से मुक्त हुआ और एक स्वतंत्र राष्ट्र बना। इस दिन को हर भारतवासी स्वतंत्रता दिवस के रूप में हर्षोल्लास के साथ मनाते हैं।

यौन उत्पीड़न के खिलाफ एक्शन में केरल सरकार, चलाया जाएगा जागरूकता अभियान

ध्यान रहे भाषण के बीच में देशभक्ति कविताओं या शायरी का उल्लेख अवश्य करें, ताकि लोगों के अंदर देशभक्ति का जज्बा जागृत हो सके। ऐसे में आप नीचे दिए इस लाइन का वर्णन कर सकते हैं।

आजादी की कभी शाम नहीं होने देंगे,
शहीदों की कुर्बानी बदनाम नहीं होने देंगे,
बची होगी जब तक एक बूंद भी लहू की,
तब तक भारत माता का आंचल नीलाम नहीं होने देंगे।

भाषण के बीच करें इस कविता का उल्लेख, लगेंगे भारत माता की जय के नारे

प्रत्येक वर्ष 15 अगस्त के दिन लाल किले के प्राचीर से प्राधानमंत्री देशवासियों को संबोधित करते हैं। 15 अगस्त 1947 के दिन भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने दिल्ली में लाल किले के, लाहौरी गेट के ऊपर भारतीय राष्ट्रीय ध्वज फहराया था। महात्मा गांधी के नेतृत्व में भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में लोगों ने काफी हद तक अहिंसक प्रतिरोध और आंदोलनों में हिस्सा लिया था। स्वतंत्रता के बाद भारत को दो भागों में विभाजित किया गया, जिसमें भारत और पाकिस्तान का उदय हुआ। विभाजन के बाद दोनों देशों के बीच धर्म के आधार पर दंगे भड़क गए और सांप्रदायिक हिंसा की अनेक घटनाएं होने लगी।

यूपी लेखपाल मेन्स परीक्षा की फाइनल आंसर की जल्द, ऐसे करें डाउनलोड

Independence Day 2022 - भाषण के दौरान इन बिंदुओं का रखें ध्यान

  • ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी 1619 में भारत पहुंची थी।
  • साल 1757 में भारत में ब्रटिश शासन की शुरुआत हुई।
  • 22 जुलाई को आयोजित संविधान सभा में भारतीय राष्ट्रीय ध्वज को अपने वर्तमान स्वरूप में अपनाया गया।
  • इस बार 15 अगस्त को देश स्वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ मनाने जा रहा है।
Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर