बिहार में 12वीं तक के स्‍टूडेंट्स की होगी ऑनलाइन पढ़ाई, इस ऐप पर किताबें उपलब्‍ध

Bihar students upto class 12th: कोरोना वायरस महामारी के बीच बिहार के सरकारी स्‍कूलों के पौने दो करोड़ स्‍टूडेंट्स को ऑनलाइन पढ़ाई की सुविधा मिल गई है। इनके लिए विद्यावाहिनी बिहार ऐप लॉन्‍च किया गया है।

vidyavahini bihar app
विद्यावाहिनी बिहार ऐप 

मुख्य बातें

  • बिहार के सरकारी स्‍कूल के स्‍टूडेंट्स को ऑनलाइन पढ़ाई की सुविधा मिली
  • शिक्षा विभाग ने विद्यावाहिनी बिहार ऐप का शुभारंभ किया
  • इस ऐप में पहली से 12वीं तक की सभी किताबों को अपलोड किया गया

पटना: कोरोना वायरस महामारी के बीच बिहार ने सरकार स्‍कूल के स्‍टूडेंट्स को बड़ा तोहफा दिया है। प्रदेश के सरकारी स्‍कूलों के पौने दो करोड़ स्‍टूडेंट्स को ऑनलाइन पढ़ाई की सुविधा मिल गई है। बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतिश कुमार के निर्देश पर शिक्षा विभाग ने शुक्रवार को विद्यावाहिनी बिहार ऐप का शुभारंभ किया। शिक्षामंत्री कृष्‍णनंदन प्रसाद वर्मा ने ऐप लॉन्‍च करने के बाद कहा कि इस पर पहली से 12वीं तक की सभी किताबें अपलोड की गई हैं। स्‍टूडेंट्स और टीचर्स की सुविधा के लिए प्रत्‍येक चैप्‍टर के नोट्स भी तैयार कर विद्यावाहिनी बिहार ऐप पर उपलब्‍ध कराए गए हैं।

गूगल प्‍ले स्‍टोर से डाउनलोड करें ऐप

प्राथमिक शिक्षा निदेशक डॉ रंजीत कुमार सिंह ने बताया कि पहली से 12वीं के करीब 1 करोड़ 75 लाख स्‍टूडेंट्स की सुविधा के लिए ऐप को लॉन्‍च किया गया है। प्रत्‍येक विषय में एक-एक चैप्‍टर के हिसाब से नोट्स दिए गए हैं। इससे स्‍टूडेंट्स को पढ़ाई में सहूलियत होगी। स्‍टूडेंट्स गूगल प्‍ले स्‍टोर में जाकर विद्यावाहिनी बिहार ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं। इसके अलावा बिहार राज्‍य पाठ्य पुस्‍तक प्रकाशन निगम की वेबसाइट (बीएसटीबीपीसी डॉट जीओवी डॉट इन) और रनलाइव डॉट इन पर दिए गए लिंक पर जाकर भी डाउनलोड किया जा सकता है।

पटना यूनिवर्सिटी के हॉस्‍टल होंगे दुरुस्‍त

पटना यूनिवर्सिटी के प्रभारी कुलपति प्रो एचएन प्रसाद ने सभी हॉस्‍टल अधीक्षकों को जरूरी कार्यों को अविलंब समाप्‍त कराने का निर्देश‍ दिया है। डीएसडब्‍ल्‍यू प्रोफेसर एनके झा ने बताया कि लॉकडाउन की अवधि में सभी छात्रावास खाली हैं। इसे ध्‍यान में रखते हुए मरम्‍मत के सभी काम तत्‍काल पूरा करा लेने का निर्देश कुलपति ने संबंधितों को दिया है।

अगली खबर