Odisha Matric Result 2020: ओडिशा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट घोषित, orissaresults.nic.in पर कैसे करें चेक

ओडिशा में 10वीं की परीक्षा का रिजल्ट घोषित कर दिया गया है। परीक्षार्थी ओडिशा हायर सेकेंडरी एजुकेशन की वेबसाइट पर जाकर अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं।

orisha matric results
ओड़िशा मैट्रिक रिजल्ट 

ओडिशा मैट्रिक परीक्षा 2020 का रिजल्ट  घोषित हो चुका है। रिजल्ट की घोषणा होते ही हायर सेकेंडरी एजुकेशन का रिजल्ट इसके ऑफिशियल वेबसाइट bseodisha.nic.in, orissaresults.nic.in पर ऑनलाइन भी कर दिया गया है। ओडिशा 10वीं परीक्षा के लिए रिजल्ट चेक करने का तरीका स्टेप बाय स्टेप जान सकते हैं। छात्र ये ध्यान दें कि ओडिशा बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन की पुरानी वेबसाइट  bseodisha.ac.in अब बंद हो गई है इसलिए इस पर जाकर अपना रिजल्ट चेक करने की भूल ना करें।

परीक्षा का रिजल्ट ऑफिशियल वेबसाइट bseodisha.nic.in और ओडिशा रिजल्ट की ऑफिशियल वेबसाइट orissaresults.nic.in  पर जारी किया जाएगा। इनके अलावा एक तीसरी वेबसाइट examresults.net और indiaresults.com पर भी ओडिशा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट देखा जा सकता है।
कैसे चेक करें-

  • इसके लिए सबसे पहले http://orissaresults.nic.in/ ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं।
  • वार्षिक HSC Result 2020 वेबसाइट पर साढ़े 11 बजे एक्टिवेट हो जाएगा। 
  • लिंक पर क्लिक करें, एक नया विंडो ओपन होगा।
  • अपना रोल नंबर और रजिस्ट्रेशन नंबर डाल कर सबमिट करें।
  • आपकी स्क्रीन पर आपका रिजल्ट आ जाएगा।

 लड़कियों का उत्तीर्ण प्रतिशत 81.98 रहा जबकि लड़कों का उत्तीर्ण प्रतिशत 77.80 रहा

लड़कियों का उत्तीर्ण प्रतिशत 81.98 रहा जबकि लड़कों का उत्तीर्ण प्रतिशत 77.80 रहा। परीक्षा में कुल उत्तीर्ण प्रतिशत 78.76 रहा।स्कूल एवं जन शिक्षा मंत्री एस आर दास ने कहा कि 5,34,843 छात्रों में से 4,21,256 छात्रों ने परीक्षा पास की। मंत्री ने कहा, ‘इस वर्ष उत्तीर्ण प्रतिशत 78.76 है जबकि पिछले वर्ष यह 72.35 प्रतिशत रहा। पिछले वर्ष की तुलना में यह 6.41 प्रतिशत अधिक है।’इस वर्ष 2,62,738 छात्राओं में से, 2,15,367 छात्राओं ने परीक्षा पास की। मंत्री ने कहा कि 2,47,451 छात्रों में से 1,92,501 छात्रों ने परीक्षा उत्तीर्ण की।मंत्री ने कहा कि 1,279 परीक्षार्थियों को इस बार ए1 ग्रेड (90 प्रतिशत से ऊपर) मिला, पिछले साल यह संख्या 1,180 थी।उन्होंने सफल परीक्षार्थियों को बधाई देते हुए कहा,‘ जो परीक्षा में फेल हुए हैं उन्हें ऐसा नहीं समझना चाहिए कि यह उनकी अंतिम परीक्षा थी। उन्हें जीवन में सफलता के अनेक अवसर मिलेंगे।‘

ओडिशा बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन हर साल फरवरी या मार्च में 10वीं की परीक्षा आयोजित करता है। इस परीक्षा में 4 से 5 लाख बच्चे शामिल होते हैं। इस साल 19 फरवरी से 1 मार्च तक 10वीं की परीक्षा आयोजित की गई थी। हालांकि परीक्षा का पेपर पहले ही तैयार हो गया था इसलिए परीक्षा का आयोजन टाला नहीं गया लेकिन कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव के बाद इसके रिजल्ट आने में देरी हो गई।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर