NEET Result 2021 Date: इस तारीख के बाद घोषित हो सकते है परिणाम, जानें महत्वपूर्ण जानकारी

NEET Result 2021, NEET 2021 Phase 2 Registration Last Date: NEET UG 2021 का रिजल्ट 26 अक्टूबर के बाद जारी होने की उम्मीद है क्योंकि NTA ने NEET चरण 2 पंजीकरण की आवेदन तिथियां बढ़ा दी हैं...

NEET 2021 Result Qualifying Criteria For Unreserved Category Students
NEET 2021 Result Criteria  
मुख्य बातें
  • NEET UG 2021 का रिजल्ट जल्द जारी होने की उम्मीद है।
  • 26 अक्टूबर के बाद रिजल्ट आने की संभावना है।
  • जानें अनारक्षित केटेगरी के लिए क्या है क्वालिफिकेशन क्राइटेरिया।

NEET 2021 Result: NEET UG 2021 का रिजल्ट 26 अक्टूबर के बाद जारी होने की उम्मीद है क्योंकि NTA ने NEET चरण 2 पंजीकरण की आवेदन तिथियां बढ़ा दी हैं। अनारक्षित श्रेणी के छात्रों को परीक्षा पास करने के लिए न्यूनतम 50th पर्सेंटाइल प्राप्त करने की आवश्यकता होगी। छात्र अपने NEET आवेदन संख्या और पासवर्ड या अन्य पूछे गए क्रेडेंशियल का उपयोग करके परिणाम neet.nta.nic.in पर देख सकेंगे।

अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) सहित आरक्षित श्रेणी के छात्रों को नीट यूजी 2021 क्वालिफाई करने के लिए 40th पर्सेंटाइल स्कोर करना होगा।

पीडब्ल्यूडी (अनारक्षित) श्रेणी से संबंधित मेडिकल उम्मीदवारों को 45th पर्सेंटाइल हासिल करना होगा और आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों को परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए 40th पर्सेंटाइल प्राप्त करना होगा।

एनटीए द्वारा राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (एनईईटी) यूजी - 2021 में प्राप्त अंकों के आधार पर अखिल भारतीय रैंक के क्रम में सफल उम्मीदवारों की सूची तैयार की जाएगी। परिणाम के साथ, एनटीए नीट 2021 क्वालिफाई करने वाले छात्रों की अखिल भारतीय मेरिट सूची भी जारी करेगा। मेरिट सूची अखिल भारतीय रैंक (AIR) पर आधारित होगी और छात्रों को मौजूदा NEET आरक्षण नीति पर विचार करते हुए AIR के आधार पर अंडर ग्रेजुएट मेडिकल कोर्ड में प्रवेश दिया जाएगा।

नीट यूजी 2021: टाई-ब्रेकिंग नियम

  • - एनटीए उन मामलों में रैंक तय करेगा जब दो छात्र इन मानदंडों के माध्यम से समान रैंक हासिल करते हैं।
  • - जीव विज्ञान (वनस्पति विज्ञान और प्राणीशास्त्र) में उच्च अंक प्राप्त करने वाले उम्मीदवारों को प्राथमिकता दी जाएगी।
  • - इसके बाद रसायन विज्ञान में उच्च अंक प्राप्त करने वाले उम्मीदवार को चांस ज्यादा होंगे।
  • - अगर फिर भी टाई रहता है तो सभी विषयों में गलत उत्तरों और सही उत्तरों की संख्या के कम अनुपात वाले उम्मीदवारों पर विचार किया जाएगा।
Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर