तय समय पर होंगी JEE-NEET की परीक्षाएं, सुरक्षा के लिए NTA ने जारी कीं गाइडलाइंस

JEE-NEET: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) की तरफ से स्पष्ट किया गया है कि JEE (मेन) और NEET (UG) की परीक्षाओं पहले से घोषित तारीखों पर आयोजित की जाएंगी।

exam
एनईईटी और जेईई की परीक्षाएं 

मुख्य बातें

  • जेईई मेन और नीट परीक्षा सितंबर में निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होगी
  • जेईई (मेन) 1 सितंबर से 6 सितंबर के बीच आयोजित किया जाना है
  • नीट-यूजी का आयोजन 13 सितंबर को होगा

नई दिल्ली: संयुक्त प्रवेश परीक्षा (JEE) और राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET) को स्थगित करने के कई अनुरोधों के बीच नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) की तरफ से स्पष्ट किया गया है कि JEE (मेन) और NEET (UG) की परीक्षाओं पहले से घोषित तारीखों पर आयोजित की जाएंगी, जो क्रमशः 1 से 6 सितंबर और 13 सितंबर को हैं। इसके अलावा राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी ने मंगलवार को नए दिशानिर्देशों और अपडेट की घोषणा की। 

एजेंसी ने कहा कि एनईईटी 2020 के लिए एडमिट कार्ड शीघ्र ही जारी किए जाएंगे। एजेंसी ने पहले जेईई परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी किए थे।

NTA द्वारा की गई नई घोषणाएं निम्न हैं:

  • राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी ने यह सुनिश्चित किया है कि 99% से अधिक उम्मीदवारों को इन दोनों परीक्षाओं में केंद्र उनकी पहली पसंद का मिले।
  • जेईई मेन के मामले में परीक्षा केंद्रों की संख्या 570 से 660 और एनईईटी यूजी के लिए 2546 से 3843 की गई है।
  • JEE (मेन) कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट (CBT) होगा और NEET (UG) पेन पेपर बेस्ड टेस्ट होगा।
  • जेईई (मेन) के मामले में शिफ्टों की संख्या 8 से बढ़ाकर 12 कर दी गई है, और प्रति पाली उम्मीदवारों की संख्या 1.32 लाख से घटाकर 85000 कर दी गई है।
  • सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए जेईई (मेन) में वैकल्पिक सीटों पर उम्मीदवारों को बैठाया जाएगा। NEET (UG) के मामले में प्रति कमरे में उम्मीदवारों की संख्या 24 से घटाकर 12 कर दी गई है।
  • परीक्षा केंद्रों के बाहर भी पर्याप्त व्यवस्था की गई है ताकि उम्मीदवारों के बीच पर्याप्त सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे। प्रवेश-निकास की अलग व्यवस्था की जाएगी।

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने जेईई (मेन) और नीट स्नातक परीक्षा स्थगित करने का अनुरोध करने वाली याचिका को खारिज कर दिया था। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए कई छात्रों और अभिभावकों ने प्रवेश परीक्षा स्थगित करने की मांग की है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सरकार से नीट और जेईई को लेकर छात्रों की चिंताओं पर विचार करने और स्वीकार्य समाधान निकालने का आग्रह किया। राहुल गांधी ने ट्वीट किया, 'भारत सरकार को नीट, जेईई परीक्षा के बारे में छात्रों के मन की बात को सुनना चाहिए और स्वीकार्य समाधान पर पहुंचना चाहिए।'

इस वर्ष जेईई-मुख्य परीक्षा के लिए 9.53 लाख विद्यार्थियों ने पंजीकरण कराया है जबकि नीट के लिए 15.97 लाख विद्यार्थियों ने पंजीकरण कराया है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर