MPSC Exam: इंतजार हुआ खत्म, CM उद्धव ठाकरे 22 मार्च तक प्रारंभिक परीक्षा, छात्रों ने काटा था बवाल

एजुकेशन
ललित राय
Updated Mar 11, 2021 | 23:31 IST

महाराष्ट्र लोकसेवा आयोग की प्रारंभिक परीक्षा 22 मार्च तक होने की उम्मीद है। इस संंबंध में सीएम उद्धव ठाकरे ने खुद जानकारी दी।

MPSC Exam: बार बार परीक्षा टलने से नाराज छात्र सड़कों पर उतरें, CM उद्धव ठाकरे बोले बस थोड़ा इंतजार
उद्धव ठाकरे , सीएम, महाराष्ट्र 

मुख्य बातें

  • महाराष्ट्र लोकसेवा आयोग की परीक्षा कई बार टलने से छात्र थे नाराज,
  • सीएम उद्धव ठाकरे बोले-22 मार्च तक होगी प्री परीक्षा
  • सीएम ने छात्रों ने अपील करते हुए कहा था कि वो राजनीतिक दलों के मोहरे ना बनें

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बृहस्पतिवार शाम को कहा कि महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (एमपीएससी) की प्रारंभिक परीक्षा 22 मार्च तक आयोजित की जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रारंभिक परीक्षा 14 मार्च से आठ दिनों के भीतर आयोजित की जाएगी। तारीखों की घोषणा शुक्रवार को जाएगी, यह मेरा आपसे वादा है।’’इससे पहले इस परीक्षा को स्थगित करने का फैसला किया गया था। यह परीक्षा 14 मार्च (रविवार) को होनी थी।ठाकरे ने कहा कि परीक्षाओं को स्थगित किये जाने के परिणामस्वरूप किसी भी छात्र को उम्र के आधार पर परीक्षा देने से रोका नहीं जाएगा।

बार बार परीक्षा टाले जाने से नाराज थे छात्र
महाराष्ट्र लोकसेवा आयोग की परीक्षा को कोविड की वजह से एक बार और टाल दिया गया है। इस फैसले से नाराज छात्रों ने जमकर बवाल काटा। महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि  पिछली बार जब यह (MPSC परीक्षा) स्थगित कर दिया गया था, तो मैंने आश्वासन दिया कि अगली तारीख घोषित होने पर इसे और स्थगित नहीं किया जाएगा। आज यह COVID के कारण स्थगित कर दिया गया था। मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि स्थगन 2-3 महीने नहीं बल्कि कुछ दिनों के लिए है। 

राजनीतिक लोगों का मेहरा न बनें छात्र
छात्रों की भावनाओं के साथ खेलना नहीं चाहते, लेकिन अपने स्वास्थ्य के साथ भी खेलना नहीं चाहते। यह अतिरिक्त समय जो मैं चाह रहा हूं वह केवल स्टाफ और अन्य आवश्यक चीजों की बेहतर तैयारी के लिए है। मैं छात्रों और अभिभावकों से अपील करता हूं कि वे किसी भी राजनीतिक बंदूक के लिए कंधा न दें।

ड्यूटी में लगे छात्रों के लिए निगेटिव रिपोर्ट जरूरी
परीक्षा ड्यूटी में लगे लोगों को  COVID19 के लिए निगेटिव टेस्ट रिपोर्ट जरूरी होगा । इसके लिए जरूरी है कि परीक्षा ड्यूटी में लगे लोगों को पहले टीका लगाया जाए। किसी को अपने मन में कोई संदेह नहीं होना चाहिए कि परीक्षार्थी स्वयं संक्रमित हैं। हम कल तक नई तारीख घोषित करेंगे। उन्होंने कहा कि छात्रों के भविष्य के साथ राज्य सरकार खिलवाड़ करने के बारे में सोचा भी नहीं जा सकता है

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर