रोजगार देने के मामले में IIT दिल्ली भारत में नंबर-1, दुनिया में 27वां स्थान हासिल

एम्पलॉयबिलिटी रैंकिंग एंड सर्वे 2020 के अनुसार आईआईटी दिल्ली को भारत का सर्वश्रेष्ठ रोजगार क्षमता वाला उच्च शिक्षा संस्थान घोषित किया गया है। दुनिया भर में इसे 27 वी रैंक हासिल हुई है।

 Global Employability Ranking & Survey 2020
Global Employability Ranking & Survey 2020 

मुख्य बातें

  • आईआईटी दिल्ली भारत का सर्वश्रेष्ठ रोजगार क्षमता वाला उच्च शिक्षा संस्थान घोषित
  • देश का सबसे अधिक रोजगार देने वाला विश्वविद्यालय बना IIT दिल्ली
  • 2010 में आईआईटी दिल्ली की रैंक 54 नंबर पर थी लेकिन इस बार 27 वें नंबर पर

नई दिल्ली: भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान आईआईटी दिल्ली को हाल ही में जारी ग्लोबल एम्पलॉयबिलिटी रैंकिंग एंड सर्वे या GEURS 2020 के अनुसार देश का सबसे अधिक रोजगार देने वाला विश्वविद्यालय बताया गया है। GEURS एक ऐसी संस्था है जो देशों और उनके विश्वविद्यालयों का सर्वे करती है और पता लगाती है कि कहां से कितना रोजगार उत्पन्न हो रहा है। भारत ने इस सर्वे में एक सराहनीय वृद्धि दिखाई है। गौर हो कि साल 2010 में भारत की रैंक 23वीं थी। लेकिन इस बार भारत की रैंक में सुधार हुआ है और वह 15वें स्थान पर आकर खड़ा हो गया है। वही विश्वविद्यालयों की बात करें तो साल 2010 में आईआईटी दिल्ली की रैंक 54 नंबर पर थी लेकिन इस बार 27 वें नंबर पर है।

फ्रेंच एचआर कंसलटेंसी ग्रुप एंड टाइम्स हायर एजुकेशन द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट में, जहां अमेरिका अभी शीर्ष स्थान पर बना हुआ है। वहीं पिछले एक दशक में कई विश्वविद्यालयों ने रोजगार में जबरदस्त सुधार दिखाया है। सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले देशों में जर्मनी, चीन और दक्षिण कोरिया जैसे देश शामिल हैं। पहले के मुकाबले भारत ने भी बेहतर प्रदर्शन किया है और शीर्ष 250 रैंक के अंदर अपने विश्वविद्यालयों की संख्या बढ़ाई है।

हालांकि, एकमात्र भारतीय विज्ञान संस्थान बैंगलोर है जिसकी रैंक साल 2019 में 43 थी अब वह घटकर 71वें रैंक पर आ गया है। आईआईटी बॉम्बे मे भी 25 स्थानों का सुधार हुआ है साल 2019 में इसकी रैंक 153 थी जो अब 128 हो गई है। आईआईटी खड़गपुर और एमिटी यूनिवर्सिटी ने इस साल शीर्ष के 250 विश्वविद्यालयों में एंट्री ले ली है। जहां आईआईटी खड़गपुर को 195 रैंक हासिल हुई वही एमिटी यूनिवर्सिटी को 236वां रैंक प्राप्त हुआ। ग्लोबल एम्पलॉयबिलिटी रैंकिंग एंड सर्वे 2020 के अनुसार भारत के यह विश्वविद्यालय 250 के अंदर अपना स्थान प्राप्त करने में सफल रहे हैं।

  1. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, आईआईटी दिल्ली 27वां स्थान
  2. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस, बैंगलोर 71वां स्थान
  3. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, आईआईटी बॉम्बे 128वां स्थान
  4. भारतीय प्रबंधन संस्थान, आईआईएम अहमदाबाद 184वां स्थान
  5. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, आईआईटी खड़गपुर 195 वां स्थान
  6. एमिटी यूनिवर्सिटी 236 वां स्थान

कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी अमेरिका को पहला स्थान 

वहीं अगर ग्लोबल लिस्ट देखें तो इस बार कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी अमेरिका को पहला स्थान प्राप्त है। दूसरा स्थान भी अमेरिका के मैसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी को प्राप्त है। तीसरे नंबर पर हावर्ड यूनिवर्सिटी यूएसए काबिज है। चौथे नंबर पर यूनिवर्सिटी ऑफ कैंब्रिज यूके है। छठे नंबर पर टोक्यो जापान विश्वविद्यालय और सातवें नंबर पर स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी यूएसए है।

टोरंटो कनाडा विश्वविद्यालय को आठवां स्थान

टोरंटो कनाडा विश्वविद्यालय को आठवां स्थान प्राप्त है, वहीं नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर को नवां स्थान प्राप्त हुआ है। दसवें नंबर पर येले यूनिवर्सिटी यूएसए है। 11वां नंबर न्यू यॉर्क यूनिवर्सिटी USA ने हासिल किया है। 12 वीं पायदान पर म्युनिख जर्मनी का तकनीकी विश्वविद्यालय खड़ा है और 13वें नंबर पर ईटीएच ज़्यूरिख़ स्वीटजरलैंड है। प्रिंसटन यूनिवर्सिटी यूएसए को 14 स्थान हासिल है, वहीं 15वें नंबर पर ऑस्ट्रेलियाई राष्ट्रीय विश्वविद्यालय काबिज है।

कुल मिलाकर देखा जाए तो पिछले 10 साल के मुकाबले इस बार अमेरिका और ब्रिटेन के विश्वविद्यालयों में गिरावट देखी गई है। अमेरिका का स्कोर पिछले 10 वर्षों में तकरीबन 51% तक गिर गया है। वहीं 46% की गिरावट के साथ रोजगार के लिए सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले देशों के मामले में ब्रिटेन दूसरे पायदान से चौथे स्थान पर खिसक गया है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर