Tips to improve leadership qualities: नेतृत्व क्षमता को है बढ़ाना, तो ये 5 छोटी आदतें आएंगी बहुत काम

How to Develop Leadership Quality : नेतृत्व क्षमता किसी भी क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए बेहद जरूरी है। कुछ चीजें यदि आप अपनी आदत में शुमार कर लें, तो आप में भी नेतृत्व क्षमता बेहतर हो सकती है।

How to improve leadership qualities 5 small habits to boost tips in hindi
How to Develop Leadership Quality 

मुख्य बातें

  • अपनी सोच और विचार को एक दायरे से बाहर न‍िकालें
  • जिम्मेदारी से भागना नहीं, उसे उठाना सीखें
  • सोच आम राय से बनाएं और उस पर कायम रहें

सफलता के लिए बेहतरीन नेतृत्व क्षमता की जरूरत होती है। आप भी जानते हैं कि जो किसी भी कार्य को करने में पीछे नहीं रहते और हमेशा आगे बढ़कर काम करते हैं, उन्हें जीवन में सफलता ज्यादा मिलती है। ऐसे लोगों में खासियत उनका नेतृत्व क्षमता ही होती है। हालांकि ये बात भी सत्य है कि ये क्षमता सभी में नहीं होती, लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि जिनमें ये क्षमता न हो वह इसे विकसित नहीं कर सकते। नेतृत्व क्षमता को विकसित करने के लिए जरूरी सोच के साथ आदतों में भी भी कुछ बदलाव और कुछ चीजों का शुमार करना होगा।

How to develop Leadership 

1. अपनी सोच को वृहद बनाओ

नेतृत्व क्षमता विकसित करने की शुरुआत हमेशा सोच के साथ ही शुरू होती है। यदि आपकी सोच वृहद नहीं होगी तो आप बड़ा काम नहीं कर सकेंगे। इसके लिए जरूरी है कि आप किसी भी कार्य को शुरू करने से पहले ये जरूर सोचें कि इसे क्यों करें। इसके दूरगामी परिणाम क्या होंगे और इसे क्यों करना ही चाहिए। सोच का विस्तार आपको आगे बढ़ने में मदद करेगा।

2. जिम्मेदारी उठाने और लेने की क्षमता

जिम्मेदारी उठाने और लेने की क्षमता को विकसित करें। जब तक आप किसी कमी या अच्छाई कि जिम्मेदारी को उठाना नहीं सीखेंगे आप नेतृत्व नहीं कर सकेंगे। हार या जीत का जिम्मा उठना बड़ी बात है और इसे जब आप सीख जाएंगे तो आप भी नेतृत्व करने के लिए तैयार होंगे।

3. एक सोच विकसित करना

जो आप सोच रहे हैं वह सभी सोचें इसके लिए आपके अंदर वो क्षमता होनी चाहिए कि आप उनको ये सोचने पर मजबूर कर सकें। इसके लिए कोई जादू काम नहीं करता बल्कि इसके लिए आपकी सोच की मजबूती और तर्क काम करता है। तर्क की क्षमता से आप अपनी सोच की ओर सबको मोड़ सकते हैं। एक सोच के साथ चलें। नेतृत्व क्षमता के लिए मल्टी टॉस्किंग की जरूरत नहीं। मल्टी टास्किंग दरअसल गैरी केलर ने अपनी बुक में इसे टास्क स्विचिंग से कंपेयर किया है। इसलिए मल्टी टास्किंग आपके नेतृत्व क्षमता को डगमगा सकती है।

4. दूसरों की बातों को सुनना सीखें

अपनी चलाने से पहले लोगों की सुने। ऐसे लोग तभी नेता बन पाते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि नेतृत्व करने वाला ग्राउंड लेवल तक जाता है और तब अपना एक विचार तय करता है। ये विचार तमाम लोगों की सोच से मैच भी करता है, इसलिए लोग अपने नेता की बात सुनने को राजी होते हैं।

5. हर दिन नया सोचें और अपडेट रहे

जमाना टेक्नालॉजी का है। ऐसे में जरूरी है कि आप भी अपडेट रहे और खुद को रोज नया सोचने के लिए तैयार रखें। नई बातों और विचारों का हर कोई सम्मान और बढ़ावा देता है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर