GATE 2022 परीक्षा में 15 दिन से भी कम समय, नए बदलाव से लेकर जानें अहम बातें

GATE Exam 2022: गेट की परीक्षा 5 फरवरी से 13 फरवरी के बीच आयोजित की जाएगी। एडमिट कार्ड के लिए 15 जनवरी से डाउनलोड लिंक एक्टिवेट कर दिया गया है।

GATE EXAM 2022
गेट परीक्षा फरवरी में आयोजित होगी  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • इस बार गेट में दो नए विषय को शामिल किया गया है।
  • परीक्षा दो सत्रों में आयोजित होगी और एक पेपर के लिए 3 घंटे का समय मिलेगा।
  • इस बार गेट में कुल 29 विषय रखे गए हैं।

नई दिल्ली:  इस साल गेट 2022 परीक्षा (GATE 2022 Exam) का आयोजन 5-13 फरवरी के बीच किया जाएगा। परीक्षा का आयोजन आईआईटी खड़गपुर द्वारा किया जा रहा है।  परीक्षा का सिलेबस और  पैटर्न भी जारी कर दिया गया है। इस बार परीक्षा में दो नए विषय जोड़े गए हैं। साथ ही कोरोना प्रोटकॉल को ध्यान में रखते हुए परीक्षा आयोजित की जाएगी। इसे देखते हुए उम्मीदवारों को परीक्षा के शेड्यूल से लेकर रिजल्ट तक के बारे में जानकारी रखना बेहद अहम है। 

इस बार दो नए विषय

परीक्षा में इस बार नेवल आर्किटेक्चर एंड मरीन इंजीनियरिंग और जियोमैटिक्स इंजीनियरिंग विषय जोड़े गए हैं। आईआईटी खड़गपुर द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार जियोमैटिक्स इंजीनियरिंग के पेपर में 15 अंक जनरल एप्टीट्यूड के होंगे। जबकि 55 अंक और 30 अंक के दो सेक्शन होंगे। 55 अंक वाला पार्ट -ए अनिवार्य होगा, जबकि 30 अंक वाला पार्ट-बी वैकल्पिक होगा। जिसमें में दो में से एक सेक्शन को हल करना होगा।

वहीं नेवल आर्किटेक्चर एंड मरीन इंजीनियरिंग के पेपर में 15 अंक जनरल एप्टीट्यूड के होंगे जबकि शेष 85 अंक सिलेबस के आधार पर दिए गए प्रश्नों पर आधारित होंगे।

ये भी पढ़ें:  गेट एडमिट कार्ड हुए जारी, इस वेबसाइट से कर सकते हैं डाउनलोड

परीक्षा पैटर्न

कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट 
परीक्षा अवधि- 3 घंटे
कुल पेपर की संख्या- 29
सेक्शन- जनरल एप्टीट्यूड 
कैंडिडेट द्वारा चुने गए विषय- बहुविकल्पीय प्रश्न 
रिजल्ट- 17 मार्च 2022

परीक्षा 2 सत्रों में आयोजित की जाएगी। विस्तृत जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.. https://gate.iitkgp.ac.in/sessions_paper.html

तैयारी में रखें इन बातों का ध्यान

चूंकि परीक्षा में 15 दिन से भी कम समय बचा है तो मॉक टेस्ट और पिछले साल के पेपर्स व प्रैक्टिस पेपर्स सॉल्व करें।  रिविजन का तरीका बदलें, जिससे कम समय में ज्यादा से ज्यादा सिलेबस रिवाइज्ड किया जा सके। टाइम मैंनेंजमेंट का खास तौर से ध्यान दें। जिन टॉपिक्स में आपको तैयारी कमजोर लगती हैं, उस पर फोकस बढ़ा दें। परीक्षा से पहले पूरे सिलेबस को जरूर रिवाइज करें।

Also Read: HPTET Nov Result 2021: हिमाचल प्रदेश टेट के नतीजे जारी, इस तरह करें चेक

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर