सितंबर के पहले सप्ताह में हो सकती हैं CBSE की कंपार्टमेंट परीक्षाएं, कई राज्यों के स्कूलों ने जारी किए फॉर्म

एजुकेशन
आईएएनएस
Updated Aug 14, 2020 | 07:36 IST

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) 10वीं और 12वीं के जिन छात्रों की कंपार्टमेंंट आई है उनकी परीक्षा का आयोजन सितंबर के पहले सप्ताह के दौरान किया जा सकता है।

CBSE likly to conduct Class 10 and 12 compartment exams in September first week
सितंबर के पहले हफ्ते में हो सकते हैं CBSE कंपार्टमेंट पेपर  |  तस्वीर साभार: BCCL

मुख्य बातें

  • सीबीएसई की 10वीं और 12वीं के छात्रों की कंपार्टमेंट परीक्षाएं सितंबर माह के पहले हफ्ते में सभव
  • कई राज्यों में स्कूलों ने कंपार्टमेंट परीक्षा के लिए फॉर्म भी जारी किए
  • 10वीं में अधिकांश छात्रों की गणित, सोशल साइंस और साइंस में कंपार्टमेंट आई है

Central Board of Secondary Education (CBSE): केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) 10वीं और 12वीं के छात्रों की कंपार्टमेंट परीक्षाएं सितंबर माह के दौरान ले सकता है। हालांकि इसके लिए अभी कोई तारीख तय नहीं की गई है। स्कूल और छात्रों को इस बारे में सूचित किया जा रहा है। कई राज्यों में स्कूलों ने कंपार्टमेंट परीक्षा के लिए फॉर्म भी जारी कर दिए हैं। सीबीएसई ने कंपार्टमेंट परीक्षाएं के संबंध में पत्र जारी कर दिया है, जिसकी कॉपी सभी संबंधित स्कूलों को दी गई है। इससे पहले सीबीएसई ने कंपार्टमेंट परीक्षाएं कराने या न कराने को लेकर छात्रों और उनके अभिभावकों से सुझाव मांगे थे।

मिले थे ये सुझाव

सीबीएसई को मिले अधिकांश सुझावों में अधिकतर सुझाव परीक्षा रद्द कराने के पक्ष में थे, लेकिन बोर्ड ने कंपार्टमेंट परीक्षा कराने का निर्णय लिया है। अगले सप्ताह परीक्षा की तारीख जारी होने की संभावना है। सामान्य रूप से बोर्ड परीक्षाओं के नतीजे जारी होने के बाद कंपार्टमेंट की परीक्षाएं जुलाई माह में ली जाती हैं। हालांकि इस बार कोरोना संक्रमण के कारण पहले बोर्ड की कई परीक्षाएं रद्द करनी पड़ीं और फिर 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के नतीजे में भी देरी हुई।

अदालत में दिया था जवाब

इससे पहले सीबीएसई ने अदालत में अपना जवाब दाखिल करते हुए कंपार्टमेंट परीक्षा कराने की बात कही। शिक्षा मंत्रालय और सीबीएसई के वरिष्ठ अधिकारियों के मुताबिक, कंपार्टमेंट की ये परीक्षाएं सितंबर के पहले सप्ताह में करवाई जा सकती हैं। 10वीं में अधिकांश छात्रों की गणित, सोशल साइंस और साइंस में कंपार्टमेंट आई है। वहीं 12वीं में गणित, अकाउंट और इकोनॉमिक्स में आई है।

सीबीएसई ने कहा, जेईईई मेन, नीट (यूजी) और जेईई एडवांस बड़ी परीक्षाएं हैं। इनके लिए बोर्ड रिजल्ट की जरूरत पड़ती है। इसी के आधार पर उच्चतर शिक्षा में प्रवेश मिलता है। ऐसे में कंपार्टमेंट की परीक्षाएं करवाना आवश्यक है, क्योंकि कई ऐसे छात्रों ने इन परीक्षाओं का फॉर्म भरा है, जिनकी इस वर्ष कंपार्टमेंट आई है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर