ICSE Result 2020: पूर्व सीएम अखिलेश यादव की बेटी अदिति को मिले 98 फीसद अंक, पिता बोले- बधाई

एजुकेशन
ललित राय
Updated Jul 11, 2020 | 18:33 IST

Akhilesh yadav daughter gets 98 % marks: यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव की बेटी अदिति को आईसीएसई बोर्ड की परीक्षा में शानदार कामयाबी मिली है। उन्होंने 98 फीसद अंक हासिल किए।

ICSE Result 2020: पूर्व सीएम अखिलेश यादव की बेटी अदिति को मिले 98 फीसद अंक, पिता बोले- बधाई
10 जुलाई को घोषित किए गए थे नतीजे 

मुख्य बातें

  • 10 जुलाई को आईसीएसई बोर्ड ने 12वीं के रिजल्ट किए घोषित
  • इस वर्ष टॉपर्स के नाम का नहीं किया गया ऐलान
  • पूर्व सीएम अखिलेश यादव की बेटी अदिति ने हासिल किए 98 फीसद अंक

एक पिता का सपना होता है कि उसका बेटा या बेटी बेहतर प्रदर्शन करे। जब उसका बेटा या बेटी बाप की हसरत को पूरी करता है तो वो गदगद हो उठता है। यहां हम बात कर रहे हैं यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव की जिनकी बेटी अदिति ने आईसीएसई बोर्ड के 12वीं परीक्षा में 98 फीसद अंक हासिल किए। आईसीएसई बोर्ड का रिजल्ट 10 जुलाई को जारी किया गया था। सीआईएससीई बोर्ड, आईसीएसई के नाम से प्रचलन में है। 

अखिलेश यादव की बेटी को मिले 98 फीसद अंक
12वीं के नतीजों में कामयाबी हासिल करने वाले छात्र cisce.org पर मार्क्स देख सकते हैं। यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने ट्वीट कर जानकारी दी कि उनकी बेटी 12वीं की परीक्षा में 98 फीसद अंक पाने में कामयाब हुई। वो न केवल अपनी बेटी को बधाई देते हैं बल्कि उन सभी छात्रों को बधाई देते हैं जिन्हें कामयाबी मिली इसके साथ ही वो सभी छात्रों के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हैं। 

पिछले साल की तुलना में .3 फीसद रिजल्ट ज्यादा
ICSE, ISC परिणाम 2020 को कक्षा 10 वीं के लिए उत्तीर्ण प्रतिशत को 99.3% रहा और 12 वीं कक्षा का नतीजा  96.8%  रहा जो कि पिछले साल की तुलना में 0.3 प्रतिशत अधिक था। इस साल बोर्ड के अध्यक्ष ने घोषणा की कि किसी भी टॉपर की सूची जारी नहीं की जाएगी क्योंकि कई परीक्षाएं आयोजित नहीं की गई थीं और एक महामारी के प्रकोप के कारण बाधित हुई थीं। छात्रों, शिक्षकों और कई विशेषज्ञों ने छात्रों के प्रयासों के लिए प्रेरित करने के लिए बोर्ड के इस निर्णय की प्रशंसा की है।

इस वर्ष टॉपर्स के नाम की घोषणा नहीं हुई
इस वर्ष कक्षा 10 वीं से 6 और कक्षा 12 वीं में 8 परीक्षाएं सरकार द्वारा लॉकडाउन की घोषणा के कारण आयोजित नहीं की जा सकीं। माता-पिता के विरोध के कारण बोर्ड द्वारा परीक्षा आयोजित नहीं की जा सकी, जिसके बाद परीक्षा के आयोजन के खिलाफ एक जनहित याचिका दायर की गई। इसलिए CBSE की तर्ज पर बोर्ड ने एक नई मार्किंग स्कीम जारी की, जिसे यहाँ क्लिक करके देखा जा सकता है।

पिछले साल के टॉपर थे जमनाबाई नरसी स्कूल, जूहू, मुंबई की जूही रूपेश कजारिया और लिटिल फ्लावर कॉन्वेंट स्कूल के मनहर बंसल, मुक्तसर आईसीएसई परिणाम 2019 में 99 प्रतिशत के साथ। देवेश कुमार अग्रवाल और विभा स्वामीनाथन ने आईएससी बोर्ड परीक्षा 2019 में टॉप किया था। विषयों में पूर्ण अंक आए। 2020 के परिणाम cisce.org पर देखे जा सकते हैं।

अगली खबर