'पहले उसने मेरे साथ छेड़खानी की, फिर मेरे पिता की हत्या कर दी', हाथरस पीड़िता ने न्याय मांगा

Hathras Molestation Case : इस घटना पर सियासत तेज हो गई है। कांग्रेस और समाजवादी पार्टी (सपा) ने कानून-व्यवस्था को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा है।

 First he molested me and now killed my father : hathras victim
हाथरस पीड़िता ने न्याय मांगा। 

हाथरस (उत्तर प्रदेश) : हाथरस एक बार फिर चर्चा में है। यहां छेड़खानी के आरोपी ने लड़की के पिता की गोली मारकर हत्या कर दी है। पुलिस ने इस मामले में अब तक दो लोगों को गिरफ्तार किया है। लड़की के पिता ने जुलाई 2018 में मुख्य आरोपी गौरव शर्मा के खिलाफ अपने बेटी से छेड़खानी की शिकायत दर्ज कराई थी। इस शिकायत के बाद आरोपी आरोपी थोड़े समय के लिए जेल भी गया था। पुलिस का कहना है कि हत्या मामले में चार लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हुई है और दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने मामले में आरोपियों के खिलाफ रासुका लगाने का निर्देश दिया है। 

गौरव शर्मा के खिलाफ दर्ज है छेड़खानी का केस
हाथरस के पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल ने बताया, 'एक मार्च को शाम चार बजे ससनी पुलिस स्टेशन को सूचना मिली कि नोजलपुर गांव में गौरव शर्मा और उसके दोस्तों ने अमरीष शर्मा की गोली मारकर हत्या कर दी है। अस्पताल लाए जाते समय अमरीष ने दम तोड़ दिया।' पुलिस अधिकारी ने बताया कि पुलिस की टीम सोमवार को घटनास्थल पर पहुंची और जांच शुरू की। पुलिस अधीक्षक ने कहा, 'जांच के दौरान पता चला कि अमरीष शर्मा ने जुलाई 2018 में गौरव शर्मा के खिलाफ छेड़खानी का केस दर्ज कराया था। शिकायत के बाद उसे जेल हुई थी और एक महीने के बाद वह जमानत पर रिहा हुआ। इसके बाद से ही दोनों परिवारों के बीच विवाद चल रहा था।'

पीड़ित लड़की ने न्याय मांगा
मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक पुलिस स्टेशन के बाहर पीड़ित लड़की यह कहते हुए पाई गई, 'पहले उसने मेरे साथ छेड़खानी की और अब इसने मेरे पिता की हत्या कर दी है। इसका नाम गौरव शर्मा है। वह हमारे गांव आया था। इसने मेरे पिता की गोली मारकर हत्या कर दी। मुझे न्याय दें।' घटना के बारे में बताते हुए अधिकारी ने कहा, 'गौरव शर्मा की पत्नी एवं चाची और अमरीष की दोनों बेटियां गांव के मंदिर में गई थीं। यहां पर पुराने मामले को लेकर उनके बीच कहासुनी शुरू हो गई। यहां पर अमरीष और गौरव पहुंचे और वे भी आपस में झगड़ने लगे। आरोपी ने बाद में अमरीष को गोली मार दी। अमरीष को जब अस्पताल पहुंचाया जा रहा था तो उसने दम तोड़ दिया।' पुलिस अधीक्षक ने कहा कि फरार आरोपी को पकड़ने के लिए टीमें बनाई गई है।

सपा-कांग्रेस ने यूपी सरकार को घेरा
वहीं, इस घटना पर सियासत तेज हो गई है। कांग्रेस और समाजवादी पार्टी (सपा) ने कानून-व्यवस्था को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित ने कहा कि यूपी में बदमाशों के बीच पुलिस का खौफ समाप्त हो गया है। राज्य में कानून-व्यवस्था निचले पायदान पर पहुंच गया है। सपा प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने कहा कि यूपी में बदमाश जेल से छूटने के बाद लोगों की हत्याएं कर रहे हैं। प्रदेश में कानून का राज खत्म हो गया है। वहीं, भाजपा ने सपा पर पलटवार किया है। भाजपा का कहना है कि गौरव शर्मा सपा का सक्रिय कार्यकर्ता है। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर