DP में टीना डाबी की तस्वीर लगाई, फिर फर्राटेदार अंग्रेजी में लोगों को भेजे संदेश, मांगे गिफ्ट्स

Tina Dabi news: जैसलमेर की जिलाधिकारी टीना डाबी नाम पर लोगों से धोखाधड़ी करने की कोशिश की गई है। पुलिस ने इस मामले में एक युवक को गिरफ्तार किया है। युवक ने डाबी के नाम पर लोगों से गिफ्ट मांगे थे।

youth detained for allegedly trying to dupe people over WhatsApp using photos of Tina Dabi
जैसलमेर की डीएम हैं टीना डाबी।   |  तस्वीर साभार: Instagram

IAS officer Tina Dabi: जैसलमेर की आईएएस अफसर टीना डाबी के नाम पर धोखाधड़ी करने का मामला सामने आया है। एक युवक ने वाट्सएप की डीपी में टीना डाबी की तस्वीर लगाकर लोगों को ठगने की कोशिश की। हालांकि, युवक पकड़ा गया। पुलिस ने युवक को डुंगरपुर से हिरासत में लिया है। दरअसल, राजस्थान प्रशासनिक सेवा की अधिकारी सुनीता चौधरी को टीना डाबी के नाम से वाट्सएप पर एक संदेश मिला। इस संदेश में युवक ने चौधरी से अमेजन गिफ्ट कार्ड मांगा। युवक की अंग्रेजी इतनी सलीकेदार थी कि शुरू में किसी को संदेह नहीं हुआ कि यह डाबी नहीं बल्कि कोई और है। 

डीपी में टीना डाबी की तस्वीर लगाई
रिपोर्टों के मुताबिक युवक ने एक नए मोबाइल नंबर को वाट्सएप से जोड़ा और फिर इसकी डीपी में आईएएस डाबी की तस्वीर लगाई। युवक लोगों को डाबी के नाम से संदेश भेजने लगा। उसने लोगों से अलग-अलग कीमत वाले अमेजन गिफ्ट कार्ड भेजने की मांग की। बिना गलती वाले अंग्रेजी संदेशों को देखकर लोगों को लगा कि डाबी ही उन्हें मैसेज कर रही हैं।

युवक ने अमेजन गिफ्ट कार्ड्स मांगे
वाट्सएप पर एक ऐसा ही संदेश सोमवार को यूआईटी सचिव (आरएएस) चौधरी को मिला। एक बार चौधरी भी मान गईं कि यह संदेश डाबी की तरफ से आया है। चौधरी ने कहा, 'मुझे लगा कि आईएएस डाबी को कुछ काम  होगा। फिर जालसाज ने संदेश में मुझसे अमेजन गिफ्ट कार्ड्स भेजने की मांग की। चूंकि, मैं अमेजन यूज नहीं करती इसलिए इस बारे में आईएएस डाबी से बात करनी चाही। जब मैंने उन्हें फोन किया तो वह यह सब जानकर हैरान रह गईं। अपने नाम पर ठगी एवं धोखाधड़ी होता देख डाबी ने जैसलमेर के पुलिस अधीक्षक को तुरंत इस बारे में सूचना दी।'

जब IAS टीना डाबी के सामने 'गुलाबी आंखें' गाना गाने लगे थे बिहार के DM रिची पांडेय, फिर हुआ था ऐसा

डाबी ने लोगों से सतर्क रहने की अपील की
जैसलमेर की पुलिस ने इस नंबर का पता लगाना शुरू किया तो इसका लोकेशन डुंगरपुर में मिला। बाद में इस नंबर और युवक के बारे में जानकारी डुंगरपुर के एसपी को दी गई। पुलिस युवक को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ कर रही है। आईएएस डाबी ने लोगों से उनके नाम पर अज्ञात नंबरों से आने वाले संदेशों पर सावधान रहने की अपील की है। डाबी का कहना है उनके पास एक ही आधिकारिक मोबाइल नंबर है। 
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर