tiktok video: वाराणसी में गंगा किनारे "टिकटॉक वीडियो" बनाना पड़ा भारी, पांच लड़कों की मौत

Varanasi tiktok video incident: वाराणसी में शुक्रवार की सुबह बड़ा हादसा हो गया। गंगा किनारे रेती पर टिकटॉक वीडियो बनाते समय एक एक कर पांच किशोर गंगा में डूब गए। 

tik tok video incident varanasi
पांचों किशोरों ने पहले रेत पर टिकटॉक वीडियो बनाया और इसके बाद नदी में नहाने लगे (प्रतीकात्मक फोटो)poip 

मुख्य बातें

  • वाराणसी में गंगा किनारे किनारे रेती पर टिकटॉक वीडियो बना रहे थे पांच किशोर
  • फिर वो गंगाजी में नहाने लगे इसी दौरान एक किशोर डूबने लगा, जिसे बचाने की कोशिश में चार अन्य भी डूब गए
  • शोर सुनकर कुछ मल्लाह अपनी नावों को लेकर किशोरों को बचाने के लिए भागे लेकिन कामयाब ना हो सके

वाराणसी: यूपी के वाराणसी में शुक्रवार को बड़ा हादसा पेश आया, वहां के सिपहिया घाट पर गंगा नदी में पांच किशोर नहाने गए थे वहां पर गंगा के किनारे रेती पर टिकटॉक वीडियो बनाते समय एक एक कर पांच किशोर गंगा में डूब गए, आसपास के लोग उन्हें बचाने दौड़े लेकिन सफल नहीं हो सके बाद में पुलिस ने गोताखोरों की मदद से पांचों किशोरों का शव बरामद कर लिया है।

रामनगर थाना के वारीगढ़ही के 17 साल के तौसीफ, 14 साल के फरदीन, 15 साल के शैफ और 15 साल के ही रिजवान और 14 साल के सकी अपने दो अन्य दोस्तों के साथ घर से लगभग एक किलोमीटर दूर गंगा नदी में नहाने गए थे।

पांचों किशोरों ने पहले रेत पर टिकटॉक वीडियो बनाया और इसके बाद नदी में नहाने लगे। इसी दौरान एक किशोर डूबने लगा, जिसे बचाने की कोशिश में चार अन्य किशोर भी डूब गए।

सूत्रों ने बताया कि घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने गोताखोरों की मदद से पांचों किशोरों को नदी से निकाल कर ट्रामा सेंटर ले गई, जहां डॉक्टरों ने पांचों को मृत घोषित कर दिया। पुलिस के अनुसार पांचों किशोर घर से किसी काम का बहाना बनाकर निकले थे, किसी ने घर पर गंगा में स्नान करने जाने की बात नहीं बतायी थी।

पांचों टिकटॉक वीडियो बनाने के लिए बीच गंगा में उभरी रेती तक पहुंच गए

सिपहिया घाट के बीच इन दिनों बीच गंगा में काफी रेती उभरी हुई है वहां पर पांचों किशोर टिकटॉक वीडियो बनाने के लिए बीच गंगा में उभरी रेती तक पहुंच गए। वीडियो बनाने के दौरान एक किशोर डूबने लगा तो दूसरा उसे बचाने के लिए कूदा तो देखते ही देखते एक दूसरे को बचाने के प्रयास में पांचों किशोर डूबने लगे तो शोर सुनकर कुछ मल्लाह अपनी नावों को लेकर किशोरों को बचाने के लिए भागे लेकिन जब तक वहां पहुंच पाते पांचों डूब चुके थे। 

घटना की जानकारी मिलने पर रामनगर पुलिस के गोताखोरों के दल के साथ मौके पर पहुंची वहां करीब दो घंटे की मशक्‍कत के बाद पांचों किशोरों को पानी से निकाला गया। और एंबुलेंस से लाल बहादुर शास्‍त्री अस्‍पताल ले जाया गया वहां पहुंचने पर डॉक्‍टरों ने उन पांचों को मृत घोषित कर दिया। 

अगली खबर