JNU molestation case: यूनिवर्सिटी प्रशासन पर छात्र संगठन नाराज, दिल्ली पुलिस को कर रहे हैं सहयोग

जेएनयू कैंपस में छेड़छाड़ मामले में छात्र संगठनों को विश्वविद्यालय प्रशासन से नाराजगी है। इस बीच यूनिवर्सिटी प्रशासन का कहना है कि वो दिल्ली पुलिस को जांच में सहयोग कर रहे हैं।

JNU molestation case, delhi ploice, student union, delhi crime latest news
JNU molestation case: यूनिवर्सिटी प्रशासन पर छात्र संगठन नाराज, दिल्ली पुलिस को कर रहे हैं सहयोग 
मुख्य बातें
  • जेनयू यूनिवर्सिटी छेड़छाड़ मामला, दिल्ली पुलिस ने दर्ज की एफआईआर
  • छात्र संगठनों को यूनिवर्सिटी प्रशासन से नाराजगी
  • जेएनयू प्रशासन का बयान- दिल्ली पुलिस से सभी जानकारियों को कर रहे हैं साझा

 जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) प्रशासन ने शुक्रवार को कहा कि परिसर में कथित छेड़छाड़ की घटना की जांच में वह पुलिस के साथ समन्वय कर रहा है।विश्वविद्यालय ने कहा कि उसने सभी पक्षों को घटना से संबंधित जानकारी एजेंसियों के साथ साझा करने की सलाह दी है। छात्र संघ घटना के दिन से ही इस मुद्दे पर ‘चुप’ रहने के लिए प्रशासन की आलोचना कर रहा है।

17 जनवरी की वारदात
घटना 17 जनवरी की रात को एक पीएचडी छात्रा के साथ जेएनयू नर्सरी के पास आर्यभट्ट रोड पर घटी थी। परिसर के अंदर सड़क पर टहल रही छात्रा से एक शख्स ने छेड़छाड़ की थी। व्यक्ति ने कथित तौर पर बलात्कार का प्रयास किया, लेकिन छात्रा के शोर मचाने पर आरोपी ने उसका फोन छीन लिया। घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया। पुलिस ने इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं की है।

यूनिवर्सिटी प्रशासन के रवैये से छात्र नाराज
घटना को निंदनीय बताते हुए, जेएनयू के रजिस्ट्रार प्रोफेसर रविकेश ने एक बयान में कहा कि जांच चल रही है और सभी पक्षों से सतर्क रहने का अनुरोध किया गया है। जेएनयू ने एक बयान में कहा है, ‘‘विश्वविद्यालय प्रशासन सुरक्षा शाखा के साथ जांच की प्रक्रिया में पुलिस के साथ करीबी समन्वय बनाए हुए है। इस घटना से संबंधित कोई भी जानकारी होने पर तुरंत ही सुरक्षा शाखा या पुलिस को सूचित करने की सलाह दी जाती है।बयान में यह भी कहा गया है कि परिसर में किसी भी प्रकार की हिंसा के प्रति विश्वविद्यालय में ‘कतई बर्दाश्त नहीं करने’ की नीति है और परिसर में रहने वाले सभी लोगों को सुरक्षित माहौल देने के लिए वह प्रतिबद्ध है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर