शख्स ने एक-एक कर की अपने पांच बच्चों की हत्या, ऐसे दिया वारदात को अंजाम

हरियाणा के जींद में एक झकझोर करने वाली वारदात सामने आई है। यहां एक शख्स ने एक-एक कर अपने पांच बच्चों की तांत्रिक के कहने पर हत्या कर दी। आरोपी गिरफ्तार किया जा चुका है।

Haryana Man Killed his five kids in Jind cops arrested the accused
तांत्रिक के कहने पर एक-एक कर की अपने पांच बच्चों की हत्या  |  तस्वीर साभार: Getty Images

मुख्य बातें

  • हरियाणा के जींद में सामने आई सनसनीखेज वारदात
  • एक शख्स ने की अपने पांच बच्चों की हत्या, कहा जा रहा है कि तांत्रिक के कहने पर की हत्या
  • पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार, पड़ोसियों के सामने किया आरोपी ने गुनाह कबूल

जींद (हरियाणा):  हरियाणा पुलिस ने एक ऐसे शख्स को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है जिसने अपने ही बच्चों की हत्या कर दी। टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, आरोपी ने एक तांत्रिक के कहने पर अपने पांच बच्चों को एक-एक मार डाला। दरअसल हाल ही में आरोपी की दो बेटियों मुस्कान (11 साल) और निशा (7 साल) की डूबकर मौत हो गई थी। जिनकी  लाश 15 जुलाई को हांसी-बुटाना लिंक नहर से मिली। दोनों लड़कियों के गायब होने के बाद इनके मजदूर पिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। जुम्मा की पत्नी छठे बच्चे के साथ गर्भवती है।

भोलेपन का नाटक
38 वर्षीय व्यक्ति ने इस सप्ताह की शुरुआत में टीओआई को बताया था कि उसने पांच साल के दौरानअपने सभी पांच बच्चों को खो दिया है। आरोपी ने बताया, 'सबसे पहले मैंने अपने बेटे को पांच साल पहले सोते समय मृत पाया गया था। दो साल बाद, मेरी एक बेटी की खेलते समय अचानक मृत्यु हो गई। फिर, लगभग एक साल पहले मेरे दूसरे बेटे को उल्टी होने लगी और बाद में उसकी मृत्यु हो गई और अब, मेरी दो बेटियां चली गईं। मैं न्याय मांग रहा हूं और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई चाहता हूं।'

इस तरह दिया वारदात को अंजाम

 दिलचस्प बात यह है कि आरोपी ने पहले अपने तीन बच्चों के पोस्टमार्टम के लिए किसी डॉक्टर या अस्पताल से संपर्क नहीं किया था। सफीदों के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) अजीत सिंह शेखावत ने कुछ समय पहले कहा था कि पुलिस ने एक लापता व्यक्ति की रिपोर्ट दर्ज की थी, लेकिन जब दो शव पाए गए तो पुलिस को संदेह हुआ और पुलिस ने इसके बजाय हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। आरोपी ने कथित तौर पर अपनी दो बेटियों को कुछ दवा खिलाई, ताकि उन्हें नींद आ सके और जब वे बेहोश हो गईं तो उन्हें नहर में फेंक दिया।

गांव वालों के सामने स्वीकार किया अपराध

सभी लोग इस दंपति के के प्रति सहानुभूति जताने लगे कुछ पड़ोसियों को सभी बच्चों की मौत को लेकर संदेह हुआ। आरोपी ने अपने कृत्य को लेकर कुछ पड़ोसियों को बताया। हैरान ग्रामीण उसे पुलिस में ले गए लेकिन पुलिस ने कोई सख्त कार्रवाई नहीं की। उस व्यक्ति ने कुछ 30 ग्रामीणों के सामने फिर से सच्चाई स्वीकार की और पुलिस को गांव में बुलाया गया और उस आदमी को उनके हवाले कर दिया गया। आरोपी ने ग्रामीणों को बताया था कि उसकी आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण उसने जघन्य अपराध किया है।

मामले की पुष्टि करते हुए, जींद जिले के डीआईजी / एसएसपी अश्विन शेणवी ने कहा, 'प्रथम दृष्टया आरोपी ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है, लेकिन हमें अधिक जानकारी का इंतजार है। हम मामले की जांच कर रहे हैं और जल्द ही घटना का खुलासा करेंगे।'

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर