जिम ट्रेनर की हत्‍या के सिलसिले में 2 शार्पशूटर गिरफ्तार, बीते साल सुर्खियों में रहा था हत्‍याकांड

Gym Trainer murder case: दिल्‍ली के नजफगढ़ इलाके में बीते साल एक जिम ट्रेनर व टिक-टॉक स्‍टार की हत्‍या के सिलसिले में पुलिस ने महत्‍वपूर्ण गिरफ्तारियां की हैं।

जिम ट्रेनर की हत्‍या के सिलसिले में 2 शार्पशूटर गिरफ्तार, बीते साल सुर्खियों में रहा था हत्‍याकांड
जिम ट्रेनर की हत्‍या के सिलसिले में 2 शार्पशूटर गिरफ्तार, बीते साल सुर्खियों में रहा था हत्‍याकांड  |  तस्वीर साभार: BCCL

मुख्य बातें

  • दिल्‍ली के नजफगढ़ इलाके में बीते साल एक जिम ट्रेनर की हत्‍या कर दी गई थी
  • वह सोशल मीडिया पर भी खूब एक्टिव था, टिक-टॉक पर उसके लाखों फॉलोअर्स थे
  • पुलिस ने इस मामले में हरियाणा-दिल्‍ली बॉर्डर से आरोप‍ियों को गिरफ्तार किया है

नई दिल्‍ली : जिम ट्रेनर मोहित मोर की हत्‍या के सिलसिले में दिल्‍ली पुलिस ने दो शार्पशूटर्स को गिरफ्तार किया है। दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल ने कुख्‍यात गैंगस्‍टर्स विकास और रोहित मलिक को पंजाब-हरियाणा बॉर्डर से गिरफ्तार किया। गैंस्‍टर विकास को टिकटॉक स्‍टार व जिम ट्रेनर मोहित मोर की हत्‍या के मामले में भी संलिप्‍त माना जा रहा है। मोहित की बीते साल मई में गोली मारकर हत्‍या कर दी गई थी।

बताया जाता है कि एनकाउंटर से डर से विकास ने एक वीडियो मैसेज भी शूट कर अपने दोस्‍तों को भेज दिया था। उसके दो अन्‍य सहयोगियों को भी पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने की सूचना है।

बीते साल हुई थी हत्‍या
दिल्ली के नजफगढ़ इलाके में रहने वाले जिम ट्रेनर मोहित की उस वक्‍त हत्‍या कर दी गई थी, जब वह अपने दोस्‍त से मिलने फोटोकॉपी की दुकान पर गए थे। वहां स्‍कूटर पर सवार तीन युवकों ने ताबड़तोड़ गोलियां चलाकर मोहित की हत्‍या कर दी थी। यह पूरी वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई थी। जिम ट्रेनर मोहित मोर सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहते थे और टिक-टॉक पर उसके 5 लाख से ज्यादा फॉलोअर्स थे। इंस्टाग्राम पर भी उसके 3 हजार फॉलोअर्स थे।

रंज‍िश बनी जान की दुश्‍मन
जांच में सामने आया था कि 21 मई, 2019 को हुई हत्‍या की यह वारदात आपसी रंजिश में हुई थी। पुलिस जांच में सामने आया था कि उसने 30 लाख रुपये उधार लिए थे और वह पैसे देने में आनाकानी कर रहा था, जिसके कारण आरोपियों ने इस वारदात को अंजाम दिया। रोहित के तार द्वारका के एक अन्‍य आपराधिक गैंग से जुड़े होने की बात भी सामने आई थी। बताया गया कि वह न केवल 30 हजार रुपये उधार चुकाने में आनाकानी कर रहा था, बल्कि उसने अपने लिए द्वारका के प्रदीप सोलंकी गैंग से 'प्रोटेक्‍शन' भी मांगी थी। मोहित की हत्‍या के कुछ दिनों बाद पुलिस ने इस मामले में एक नाबालिग को गिरफ्तार भी किया था।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर