Rajasthan: दलित छात्र ने पेयजल का मटका छुआ तो आगबबूला हुआ टीचर, बेरहम पिटाई से फट गई कान की नस; हुई मौत

Dalit Student Beaten Up In Rajasthan: राजस्थान में जालोर जिले के एक निजी स्कूल में एक अध्यापक ने पेयजल का मटका छूने पर नौ वर्षीय एक दलित बच्चे को कथित रूप से पीटा, जिसके बाद शनिवार को उसकी मौत हो गई।

Dalit boy beaten up by teacher for touching drinking water pot in Rajasthan school dies
बेरहम पिटाई से छात्र की कान की नस फटी, हुई मौत (प्रतीकात्मक तस्वीर)  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • राजस्थान: स्कूल में पेयजल का मटका छूने पर अध्यापक ने दलित बच्चे को पीटा
  • बेरहम पिटाई से छात्र की कान की नस फटी, हुई मौत
  • एक हफ्ते तक राजस्थान के अस्पताल में भर्ती रहा छात्र, बाद में अहमदाबाद किया गया रिफर

Dalit Student Beaten Up In Rajasthan: एक तरफ देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है तो दूसरी तरफ कुछ ऐसी खबरें सामने आ रही हैं जो हैरान और परेशान करने वाली हैं। राजस्थान  के जालोर जिले  से एक ऐसा मामला सामने आया है जहां एक स्कूल शिक्षक ही हैवान बन गया। दलित छात्र को प्यास लगी तो उसने पानी का मटका छू दिया जिससे टीचर आगबबूला हो गया और उसने 9 वर्षीय छात्र की इतनी पिटाई की कि उसकी कान की नस तक फट गई। इलाज के लिए छात्र को अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई। 

शिक्षक गिरफ्तार

पुलिस ने 40 वर्षीय शिक्षक चैल सिंह को गिरफ्तार कर लिया है और उस पर हत्या और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।  सुराणा गांव के निजी स्कूल के छात्र इंद्र मेघवाल की 20 जुलाई को पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी और शनिवार को अहमदाबाद के एक अस्पताल में उसकी मौत हो गई। राज्य के शिक्षा विभाग ने मामले की जांच शुरू कर दी है और राजस्थान एससी आयोग के अध्यक्ष खिलाड़ी लाल बैरवा ने आदेश दिया कि इसकी त्वरित जांच की जाए। 

सवर्णों के लिए स्कूल में उतरवाए दलित बच्चियों के कपड़े! धमकाकर बोले टीचर- चलो, उतारो यूनिफॉर्म; DM ने कहा- दर्ज करें FIR

निर्मम तरीके से पीटा

जालोर के पुलिस अधीक्षक हर्षवर्धन अग्रवाल ने कहा कि लड़के को बुरी तरह से पीटा गया था और कहा कि इसका कारण बताया गया कि छात्र ने पीने के पानी के बर्तन को छू दिया था। अभी तक जांच नहीं की गई है। पुलिस अधिकारी ने कहा, 'हमने शिक्षक चैल सिंह के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 और एससी/एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है और उन्हें गिरफ्तार कर लिया है।' लड़के के पिता ने कहा कि उसके चेहरे और कान में चोटें आईं थी और वह लगभग बेहोश हो गया। लड़के को जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे उदयपुर के एक अस्पताल में रेफर कर दिया गया।

अहमदाबाद किया गया रिफर

लड़के के पिता देवाराम मेघवाल ने कहा, 'वह लगभग एक सप्ताह तक उदयपुर के अस्पताल में भर्ती रहा, लेकिन कोई सुधार नहीं होने पर हम उसे अहमदाबाद ले गए। लेकिन उसकी हालत में भी सुधार नहीं हुआ और उसने शनिवार को दम तोड़ दिया।' राज्य के शिक्षा विभाग ने दो अधिकारियों से मामले की जांच कर प्रखंड शिक्षा अधिकारी को रिपोर्ट सौंपने को कहा है।

Pune: स्कूल बस ड्राइवर ने नाबालिग दलित लड़की का किया रेप, आरोपी फरार

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर