Muzaffarpur: नाबालिग लड़की के साथ पहले रेप, फिर पंचायत ने दिया बच्चा बेचने का आदेश, जानें पूरा मामला

क्राइम
Updated Nov 12, 2019 | 18:05 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Bihar News: बिहार के मुजफ्फपुर में एक पंचायत ने बलात्कार पीड़िता से कहा कि वो अपने बच्चे को बेच दे। पीड़िता के साथ पहले मौलवी और फिर एक इलेक्ट्रिशियन ने रेप किया। पुलिस अब जांच में जुटी है।

rape
प्रतीकात्मक तस्वीर 

मुजफ्फरपुर: बिहार के मुजफ्फपुर से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां पुलिस ने कहा है कि वो एक ऐसे मामले की जांच कर रही है, जहां 17 साल की लड़की को स्थानीय पंचायत के आदेश पर उसके शिशु को बेचने के लिए मजबूर किया गया। नाबालिग लड़की ने पिछले महीने ही बच्चे को जन्म दिया। 

इस साल जुलाई के महीने में लड़की ने शिकायत दर्ज कराई थी कि जनवरी 2019 में एक मस्जिद के मौलवी और एक इलेक्ट्रीशियन द्वारा उसके साथ बलात्कार किया गया था। हाल ही में मुजफ्फरपुर की एक पंचायत ने कथित रूप से लड़की को बलात्कार के लिए दोषी ठहराया और आदेश दिया कि वह अपने बच्चे को 20,000 रुपए में बेच सकती है और पैसे को मुआवजे के रूप में माना जा सकता है।

पीड़िता के साथ कथित रूप से मौलवी द्वारा बलात्कार किया गया था जब वह मस्जिद गई थी। आरोपी ने इस आपराधिक कृत्य का वीडियो भी बनाया और नाबालिग लड़की को ब्लैकमेल करने के लिए इसका इस्तेमाल किया। बाद में एक स्थानीय इलेक्ट्रिशियन को इस मामले के बारे में पता चला और उसने भी लड़की के साथ बलात्कार किया। नाबालिग लड़की एक गरीब परिवार से है और अनपढ़ है।

बाद में पीड़िता ने स्थानीय पंचायत से इस मांग के साथ संपर्क किया कि बच्चे के पिता की पहचान करने के लिए डीएनए टेस्ट किया जाए, लेकिन इसके बजाय पंचायत ने उसे अपने नवजात बच्चे को बेचने के लिए कहा।

3 जुलाई को दर्ज कराई गई शिकायत में पीड़िता ने कहा, 'उसने मुझे घटना के बारे में किसी को नहीं बताने के लिए 15 रुपए दिए। एक अन्य व्यक्ति जो इलेक्ट्रीशियन है, उसने शादी के बहाने जनवरी और फरवरी के महीने के बीच मेरा बलात्कार किया। बाद में उसने मुझसे शादी करने से इनकार कर दिया। मैं छह महीने की गर्भवती हूं। मैं आपसे दोनों दोषियों को दंडित करने का अनुरोध करती हूं।'

मुजफ्फरपुर पुलिस ने अब स्थानीय पंचायत समेत पूरे मामले की जांच के आदेश दिए हैं। भारतीय दंड संहिता (IPC) और यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण (POCSO) अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत एक प्राथमिकी दर्ज की गई है। पुलिस ने फरार बताए गए दोनों आरोपियों को पकड़ने के लिए तलाश तेज कर दी है। इस बीच, मुजफ्फरपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP) जयंत कांत ने कहा कि जांच जारी है और मामले में सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर