Varanasi: वाराणसी का वो पूरा परिवार जो उजड़ गया..."पापा हमें इस तरह मार देना"..मरने से पहले बच्चों ने ये लिखा

क्राइम
Updated Feb 14, 2020 | 20:43 IST

Varanasi News: उत्तर प्रदेश के वाराणसी में एक व्यापारी ने अपने दो बच्चों और पत्नी की जान लेने के बाद खुदकुशी की है,हालांकि पुलिस की पड़ताल जारी है, मृतक ने पुलिस को 112 नंबर पर सुसाइड से पहले कॉल भी की थी।

A businessmen commit suicide after killed his two child and wife in Varanasi UP 
वाराणसी में एक विजनेसमैन ने अपनी पत्नी, बेटी और बेटे की हत्या करने के बाद खुदकुशी कर ली (प्रतीकात्मक फोटो) 

मुख्य बातें

  • वाराणसी में एक विजनेसमैन ने अपनी पत्नी, बेटी और बेटे की हत्या करने के बाद खुदकुशी कर ली
  • माना जा रहा है कि घर और व्यापार में आर्थिक समस्या के कारण परिवार ने ये भयानक कदम उठाया है
  • फांसी लगाने से पहले चेतन ने पुलिस की हेल्पलाइन 112 पर कॉल कर कहा कि वो परिवार सहित जान देने जा रहा है

नई दिल्ली: यूपी के वाराणसी से एक बड़ी खबर सामने आई है यहां एक विजनेसमैन ने अपनी पत्नी, बेटी और बेटे की हत्या करने के बाद खुदकुशी कर ली है, चार मौतों से इलाके में हड़कंप है।आत्‍महत्‍या करने वाले विजनेसमैन का नाम चेतन तुलस्यान है,बताया जा रहा है कि व्यापार में घाटा होने की वजह से ये फैमिली खासी परेशान थी जिसके चलते उन्होंने ये भयानक कदम उठाया है।

बताया जा रहा है कि वहां से एक सुसाइड नोट भी मिला है जिसमें अब मृत बेटे-बेटी की तरफ से लिखा है कि ‘हमें नींद की दवा खिलाकर सुला देना पापा, इसके बाद गला दबा देना।'

मिला है एक एफिडेविड भी जिसमें लिखा है- पूरी संपत्ति साले को दे दी जाए
सुसाइड नोट के साथ स्टाम्प पेपर पर लिखा एफिडेविट भी मिला है जिसे 22 जनवरी 2020 को बनवाया गया था। इस पर चेतन की तरफ से लिखा है कि मरने के बाद उनकी पूरी संपत्ति गोरखपुर में रहने वाले साले को दे दी जाए। गौरतलब है कि वाराणसी के एक व्यापारी चेतन तुलस्यान का काले पंखें की जाली बनाने का कारोबार है जिसमें उसको खासा नुकसान हो गया था जिससे ये बहुत परेशान था। 

माना जा रहा है कि घर और व्यापार में आर्थिक समस्या के कारण परिवार ने ये भयानक कदम उठाया है, वहीं पुलिस की पड़ताल जारी है जिसके बाद ही साफ होगा कि असल में मामला क्या था और क्यों 4 लोगों की जान गई।

एक कमरे में दोनों बच्चों की डेड बॉडी थी और दूसरे में लटके थे पति पत्नी
जिस घर में ये हादसा हुआ उसके ग्राउंड फ्लोर पर उसके माता पिता रहते हैं वहीं वो खुद अपने परिवार के साथ फर्स्ट फ्लोर पर रहता था, मौके पर घटनाक्रम को देखकर अनुमान लगाया जा रहा है कि पहले उसने जहर देकर अपने बेटे हर्ष और बेटी हिमानी को जहर दिया इन बच्चों की डेड बॉडी एक कमरे में मिली है।

वहीं दूसरे कमरे में चेतन और उनकी पत्नी रितु की डेड बॉडी पंखे पर लटकी मिली है,ये भी कहा जा रहा है कि पुलिस को घटनास्थल से सुसाइड नोट भी मिला है और ये काफी लंबा नोट है, इसमें आर्थिक तंगी सहित अन्य कारणों का उल्लेख करने की बात भी सामने आ रही है। 

पुलिस की हेल्पलाइन 112 पर मरने से पहले की थी कॉल
ये भी कहा जा रहा है कि फांसी लगाने से पहले चेतन ने पुलिस की हेल्पलाइन 112 पर कॉल कर कहा कि वो परिवार सहित जान देने जा रहा है इसके बाद पुलिस बल जब तक वहां पहुंचता ये भयानक घटना हो गई।

पुलिस घटना को लेकर परिजनों से पूछताछ कर रही है और घटना के कारण की पड़ताल में जुटी है, पंचनामा भरने के बाद पुलिस ने सभी शवों को पोस्‍टमार्टम के लिए भेजा है।

दिल्ली के भजनपुरा में एक ही घर से पांच लाशें मिलने से मच गई थी सनसनी
दिल्ली के भजनपुरा में बुधवार को एक ही घर से पांच लाशें मिलने से सनसनी फैल गई थी। एक ही परिवार के इन पांच सदस्यों में 3 बच्चों के शव भी थे। इस हत्याकांड में परिवार के ही एक करीबी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है कहा जा रहा है कि लेन-देन के विवाद को लेकर ही उसने पूरे परिवार का खात्मा कर दिया था।

बाद में दिल्ली पुलिस ने इस मामले को सुलझाने का दावा करते हुए कहा है कि गिरफ्तार किए गए शख्स का नाम प्रभु चौधरी है उसने उधार न लौटाने पर हुई कथित बेइज्जती का बदला लेने के लिए इस हत्याकांड को अंजाम दिया।

पुलिस के मुताबिक आरोपी की परिवार की महिला सदस्य से पैसों को लेकर लड़ाई हुई थी जिसके बाद उसने इस वारदात को अंजाम दिया।

 

 

 

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...