डेब्‍यू करने से पहले युवराज सिंह को आ जाता हार्ट अटैक! जानिए क्‍या था पूरा मामला

Sourav Ganguly pranked on Yuvraj Singh: युवराज सिंह ने खुलासा किया था कि उनके डेब्‍यू मैच से पहले कप्‍तान सौरव गांगुली ने एक ऐसा मजाक किया था कि वह रात भर सो नहीं पाए थे। युवराज ने 84 रन बनाए थे।

yuvraj singh debut match
युवराज सिंह डेब्‍यू मैच 

मुख्य बातें

  • युवराज सिंह की कप्‍तान सौरव गांगुली ने डेब्‍यू मैच से पहले खींची थी टांग
  • गांगुली ने युवराज से कहा कि आपको ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ ओपनिंग करना है
  • युवराज रात भर सो नहीं पाए थे, उन्‍होंने नींद के लिए दवाईयां ली थीं

नई दिल्‍ली: भारतीय क्रिकेट टीम में हमेशा से प्रथा रही है कि जब भी टीम में नए खिलाड़ी की एंट्री होती है, तो उसकी खूब मजे ली जाती है। टीम इंडिया के पूर्व धाकड़ ऑलराउंडर युवराज सिंह नए खिलाड़‍ियों के साथ प्रेंक करने में माहिर माने जाते थे। मगर जब उन्‍हें अपना वनडे डेब्‍यू करना था, तो वह भी बलि का बकरा बने थे। युवराज सिंह की हालत ऐसी हो गई थी मानो हार्ट अटैक न आ जाए। बता दें कि युवराज सिंह ने साल 2000 आईसीसी नॉकआउट में केन्‍या के खिलाफ डेब्‍यू किया था, लेकिन उन्‍हें बल्‍लेबाजी का मौका नहीं मिला था। इसलिए ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ उनकी पारी डेब्‍यू के रूप में याद रखी जाती है।

जब कप्‍तान ही शरारती हो तो...

युवराज सिंह ने खुद इस घटना का खुलासा किया था। उन्‍होंने बताया था, 'ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ मैच से पहले गांगुली रात में मेरे कमरे में आए और कहा- तू कल ओपन करेगा? हम भी जज्‍बाती थे। मैंने कहां हां भैया, ओपन कर लेंगे क्‍या हो गया। उन्‍होंने कहा- ठीक है, तू कल शायद ओपन करेगा। रात को मुझे नींद नहीं आई कि कैसे ओपन करेगा। ऑस्‍ट्रेलिया बेहद मजबूत टीम थी। उनके पास ब्रेट ली, ग्‍लेन मैक्‍ग्रा और जेसन गिलेस्‍पी जैसे दिग्‍गज गेंदबाज थे। ओपन तो गांगुली करते थे।'

खुला राज तो आई जान में जान

युवराज सिंह के लिए वह रात काफी भयावह बीती। वह पूरी रात यही सोचते रहे कि ओपनिंग कैसे करूंगा। ध्‍यान हो कि युवी प्रमुख रूप से मिडिल ऑर्डर बल्‍लेबाज थे। युवराज ने आगे का किस्‍सा बताया, 'अगले दिन मैं ग्राउंड में पहुंचा कि ओपन करना है। दादा ने मुझे कहा- मैं मजाक कर रहा था रे। ओपन तो मैं ही करूंगा। मैं ये सोचने लगा कि यार ये कैसा कप्‍तान है। मेरा पहला अंतरराष्‍ट्रीय मैच है और उन्‍होंने मेरा मजाक बना दिया। फिर उस दिन तुक्‍का लग गया और मुझे नहीं पता कि कैसे 84 रन बन गए।'

युवी बने हीरो, भारत ने जीता मैच

7 अक्‍टूबर 2000 को नैरोबी में खेले गए इस मुकाबले में ऑस्‍ट्रेलियाई कप्‍तान स्‍टीव वॉ ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्‍लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। सौरव गांगुली के नेतृत्‍व वाली टीम इंडिया ने निर्धारित 50 ओवर में 9 विकेट खोकर 265 रन बनाए। युवराज सिंह ने 80 गेंदों में 12 चौके की मदद से 84 रन बनाए। वह भारतीय टीम के सर्वश्रेष्‍ठ स्‍कोरर रहे। जवाब में ऑस्‍ट्रेलियाई टीम 46.4 ओवर में 245 रन पर ऑलआउट हो गई। भारत ने 20 रन से मैच जीता। युवराज सिंह को उनकी पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर