Women's T20 world cup 2020,IND vs SL :भारत ने जीत के साथ किया लीग चरण का अंत, श्रीलंका को दी 7 विकेट से मात

Women's T20 world cup 2020, India vs Sri Lanka: भारतीय महिला क्रिकेट टीम का टी-20 विश्व कप में विजय अभियान जारी है। भारतीय टीम ने लगातार चौखे मैच में जीत दर्ज करके ग्रुप ए में टॉप पोजीशन पर कब्जा कर लिया है।

INDIAN WOMEN CRICKET TEAM
INDIAN WOMEN CRICKET TEAM 

मेलबर्न: शेफाली वर्मा की धमाकेदार बल्लेबाजी और राधा यादव की शानदार गेंदबाजी की बदौलत भारत ने श्रीलंका को 7 विकेट से मात देकर टी-20 विश्व कप में अपना विजय अभियान जारी रखा है। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंका ने भारत के सामने जीत के विए 114 रन का लक्ष्य रखा था जिसे उसने शेफाली वर्मा की 47 रन की धमाकेदार पारी की बदौलत 14.4 ओवर में 7 विकेट रहते हासिल कर लिया। श्रीलंका को उसकी खराब बल्लेबाजी और फील्डिंग का खामियाजा हार के रूप में भुगतना पड़ा। भारत के लिए शेफाली ने 47 मंधाना ने 17 रन बनाए। वहीं हरमन, रोड्रिगेज और दीप्ति ने 15-15 रन की पारी खेली। 

पहले बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंका ने भारत के सामने जीत के लिए रन का 114 लक्ष्य रखा है। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंकाई टीम 20 ओवर में 9 विकेट पर 113 रन का स्कोर खड़ा कर सकी। राधा यादव(23/4) और राजेश्वरी गायकवाड़( 18/2) की स्पिन गेंदबाजी के सामने श्रीलंकाई टीम पिच पर अपने पैर नहीं जमा सकी। कप्तान चमारी अटपट्टू ही कुछ देर पिच पर टिकने में कामयाब हुईं। उन्होंने 24 गेंद पर 33 रन की पारी खेली। इसके अलावा और कोई बल्लेबाज धमाल नहीं मचा सका। पारी के तीसरे ओवर में विकेट गिरने का सिलसिला शुरू हुआ जो कि अंत तक जारी रहा। राधा और राजेश्वरी के अलावा शिखा पांडे, दीप्ति शर्मा और पूनम यादव ने 1-1 विकेट हासिल किए। 

अर्धशतक से चूकीं शेफाली

शेफाली वर्मा ने एक बार फिर शानदार बल्लेबाजी करते हुए 34 गेंद में 47 रन की पारी खेली। वो लगातार दूसरे मैच में अपना अर्धशतक पूरा करने से चूक गईं। जेमिमा के साथ गलतफहमी का शिकार होने के बाद वो रन आउट हो गईं। उन्होंने अपनी पारी में 7 चौके और 1 छक्का जड़ा।     

शेफाली मंधाना ने दी भारत को तेज शुरुआत 

जीत के लिए 114 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम  इंडिया के लिए शेफाली वर्मा और स्मृति मंधाना ने पारी की शुरुआत की। दोनों ने तेजी से रन बनाते हुए भारत को 4 ओवर में 33 रन तक पहुंचा दिया। लेकिन इसके बाद पांचवें ओवर में एक बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में मंधाना प्रबोधिनी की गेंद पर दिलहारी के हाथों लपकी गईं। उन्होंने 12 गेंद पर 17 रन की पारी खेली। इसके बाद कप्तान हरमनप्रीत नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने उतरीं और शेफाली की साथ देते हुए टीम को 50 रन के पार पहुंचाया। अब तक टूर्नामेंट में असफल रहीं हरमन ने कुछ अच्छे शॉट खेले लेकिन 81 के स्कोर पर 14 गेंद में 15 रन की पारी खेलकर कैच हो गईं। सिरिवर्धने ने उन्हें अपना शिकार बनाया। 

श्रीलंका की खराब शुरुआत 

श्रीलंका की शुरुआत खराब रही और तीसरे ओवर की पहली गेंद पर उसे पहला झटका दीप्ति शर्मा ने दिया। थिमाशिनी दीप्ति की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में कवर प्वाइंट की दिशा में राजेश्नरी गायकवाड़ के हाथों लपकी गईं। वो 2 रन बना सकीं। इसके बाद बल्लेबाजी करने आईं माधवी ने थोड़ी देर अपनी कप्तान का साथ दिया लेकिन वो गायकवाड़ की गेंद पर बोल्ड हो गईं। उन्होंने 17 गेंद में 12 रन की पारी खेली। 

अटपट्टू बनीं राधा का शिकार

लय में दिख रहीं श्रीलंकाई कप्तान चमारी अटपट्टू ने पारी की शुरुआत से एक छोर थामे रखा था लेकिन टीम को पचास रन के करीब पहुंचाने के बाद वो राधा यादव की गेंद पर छक्का जड़ने की कोशिश में बाउंड्री पर शिखा पांडे के हाथों लपकी गईं। उन्होंने 24 गेंद में 33 रन की पारी खेली और इस दौरान 5 चौके और एक छक्का जड़ा। कप्तान अटपट्टू के आउट होने के बाद बैटिंग करने आईं हसिनी राधा यादव की गेंद पर विकेट के पीछे तानिया भाटिया के हाथों लपकी गईं। वो 7 रन बना सकीं। इसके बाद हंसिमा करुणारत्ने भी 7 रन बनाकर राधा यादव का तीसरा शिकार बनीं। वेदा कृष्णमूर्ति ने बाउंड्री पर शानदार कैच लपका। इसके बाद भी विकेटों की पतझड़ जारी रही। श्रीलंकाई टीम ने विकेटों की पतझड़ के बीच 8.5 ओवर में पचास रन के आंकड़े को पार किया। इसके बाद 18.1 ओवर में 100 रन पूरे किए। 

बल्लेबाजी में करना होगा सुधार

भारत ने विश्व कप के पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया को 17 रन से और बांग्लादेश को 18 रन से हराया जबकि न्यूजीलैंड के खिलाफ गुरुवार को उसने चार रन से करीबी जीत दर्ज की थी। ऐसे में ग्रुप के अंतिम मैच में हरमनप्रीत कौर की अगुवाई आत्मविश्वास के साथ उतरेगी। लेकिन उनकी नजरें टीम में सुधार पर होंगी। पहले के तीनों मैचों में भारत बड़ा स्कोर बनाने में नाकाम रहा था। उसके दो स्टार खिलाड़ी स्मृति मंधाना और हरमनप्रीत कौर अपनी पहचान के अनुरूप बल्लेबाजी नहीं कर सकी हैं। ऐसे में भारतीय टीम आस्ट्रेलिया के खिलाफ वह 132, बांग्लादेश के खिलाफ 142 और न्यूजीलैंड के खिलाफ 133 रन ही बना पाया था। बल्लेबाजी में शेफाली और जेमिमा और दीप्ति ही मोर्चा संभाले रही हैं। भारतीय मध्यक्रम किसी भी मैच में अच्छी शुरुआत का फायदा नहीं उठा पाया और टीम कम स्कोर ही बना पायी। तीनों मैचों में हालांकि गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन करके भारत को जीत दिलायी।


महिला टी-20 विश्न कप के सेमीफाइनल में जगह बना चुकी भारतीय टीम की आज श्रीलंका से भिड़ंत हो रही है। भारतीय टीम ने अपने शुरुआती 3 मैच में 3 में जीत हासिल कर चुकी है। भारतीय टीम का ये चौथा और आखिरी लीग मैच है ऐसे में इस मैच को भारतीय टीम सेमीफाइनल की तैयारी के लिए अभ्यास मैच के रूप में ले रही है। वहीं श्रीलंका की टीम को अब तक खेले 2 मैच में हार का सामना करना पड़ा है और वह सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो चुकी है।

दोनों टीमें इस प्रकार हैं। 

भारत: शेफाली वर्मा, स्मृति मंधाना, तानिया भाटिया (विकेटकीपर), जेमिमा रोड्रिग्स, हरमनप्रीत कौर (कप्तान) , दीप्ति शर्मा, वेदा कृष्णमूर्ति, शिखा पांडे, राधा यादव, पूनम यादव, राजेश्वरी गायकवाड़।

श्रीलंका: चमारी अटापट्टू (कप्तान), उमेश थिमाशिनी, हसिनी परेरा, हंसिमा करुणारत्ने, शशिकला सिरीवर्धने, हर्षिता मदावी, अनुष्का संजीवनी (विकेटकीपर), नीलाक्षी डिसिल्वा, काव्या दिलहरी, सत्य संदीपनी, उदेशिका प्रभाकर। 

अगली खबर