कोरोना पॉजिटिव-नेगेटिव के खेल के बाद पाकिस्तानी टीम से जुड़ा स्पिनर, जानिए कौन हैं काशिफ भट्टी

Who is Kashif Bhatti, Pakistan tour of England 2020: पाकिस्तान के इंग्लैंड दौरे से जुड़ी एक और ताजा खबर सामने आई है। कोरोनावायरस टेस्ट के लंबे खेल के बाद आखिर काशिफ भट्टी टीम से जुड़ गए हैं।

Kashif Bhatti
काशिफ भट्टी पाकिस्तानी टीम से जुड़े (PCB)  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • पाकिस्तान क्रिकेट टीम का इंग्लैंड दौरा
  • कोरोना टेस्ट नेगेटिव पाए जाने के बाद पाकिस्तानी टीम से जुड़े काशिफ भट्टी
  • पाकिस्तानी स्पिनर काशिफ भट्टी को पहली बार राष्ट्रीय टीम में मौका

कोविड-19 महामारी के चलते क्रिकेट तकरीबन चार महीने तक थमा रहा, लेकिन वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के बीच शुरू हुई टेस्ट सीरीज के जरिए एक बार फिर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैदान पर लौट आया है। मौजूदा वेस्टइंडीज-इंग्लैंड टेस्ट सीरीज के बाद पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच सीरीज शुरू होगी जिसके लिए पाकिस्तानी टीम काफी पहले इंग्लैंड पहुंच गई थी। हालांकि पाकिस्तान से इंग्लैंड आने तक पाकिस्तानी टीम के कई खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव टेस्ट और नेगेटिव टेस्ट के बीच चल रहे खेल से घिरे हुए थे। किसी तरह टीम पूरी की गई और अब खबर है कि स्पिनर काशिफ भट्टी का कोरोना टेस्ट आखिरकार नेगेटिव आ गया और वो टीम से जुड़ रहे हैं।

पाकिस्तान के बायें हाथ के स्पिनर काशिफ भट्टी को इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के नियमों के अनुसार दो बार कोविड-19 नेगेटिव पाए जाने पर वोरसेस्टर में बाकी टीम से जुड़ने की स्वीकृति मिल गई है। भट्टी को अगले महीने शुरू होने वाली सीरीज के लिए पाकिस्तानी क्रिकेटरों के तीसरे समूह के साथ ब्रिटेन आने पर कोरोना टेस्ट में पॉजिटिव पाया गया था। भट्टी पाकिस्तान में पॉजिटिव पाए जाने के बाद यहां देर से आए थे।

पॉजिटिव-नेगेटिव का सिलसिला

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के नियमों के अनुसार टेस्ट में दो बार नेगेटिव पाए जाने के बाद उन्हें ब्रिटेन जाने की स्वीकृति दी गई थी। लेकिन ब्रिटेन पहुंचने पर ईसीबी ने नियमों के अनुसार जब उनका शुरुआती टेस्ट कराया तो वो पॉजिटिव आया जिसके कारण उन्हें वोरसेस्टर में बाकी पाकिस्तानी टीम से अलग रहना पड़ा।

ईएसपीएनक्रिकइंफो की खबर के अनुसार अब लगातार दो नेगेटिव नतीजों के बाद उन्हें टीम से जुड़ने की स्वीकृति मिली है। ईसीबी के प्रवक्ता ने कहा, ‘अतीत में कोविड-19 संक्रमण के असर के कारण खिलाड़ी के परीक्षण का नतीजा पॉजिटिव आया था और इंग्लैंड के जन स्वास्थ्य विभाग और विषाणु रोग विशेषज्ञ से सलाह मशविरे के बाद सुरक्षात्मक रवैया अपनाते हुए खिलाड़ी को पृथक रखा गया था।’ उन्होंने कहा, ‘‘खिलाड़ी का अब दूसरा नतीजा नेगेटिव आया है और अन्य खिलाड़ियों तथा स्टाफ को संक्रमण का कोई खतरा नहीं है।’

ये खिलाड़ी भी ठीक होकर इंग्लैंड पहुंचे

काशिफ भट्टी साथी क्रिकेटरों हैदर अली और इमरान खान तथा टीम के मालिशिए मलंग अली के साथ ब्रिटेन पहुंचे थे। इन सभी को पाकिस्तान में शुरुआती में कोरोना वायरस परीक्षण में पॉजिटिव पाया गया था। पाकिस्तान के अधिकतर खिलाड़ी 29 जून को यहां पहुंचे थे जबकि खिलाड़ियों का दूसरा समूह पहले पॉजिटिव पाए जाने के बाद पुन: परीक्षण में नेगेटिव आने पर कुछ दिन बाद यहां पहुंचा था। दूसरे समूह में फखर जमां, मोहम्मद हसनैन, मोहम्मद हफीज, मोहम्मद रिजवान, शादाब खान और वहाब रियाज शामिल थे। पाकिस्तानी खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ का तीसरा समूह आठ जुलाई को यहां पहुंचा था। पाकिस्तान को इंग्लैंड के खिलाफ जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में तीन टेस्ट की श्रृंखला खेलनी है जिसकी शुरुआत मैनचेस्टर में पांच अगस्त से होगी।

कौन हैं काशिफ भट्टी?

काशिफ भट्टी 33 वर्षीय पाकिस्तानी स्पिनर हैं। वो बाएं हाथ के स्पिनर हैं इसलिए उनका महत्व टीम में और बढ़ जाता है। उन्हें पहली बार राष्ट्रीय टीम में मौका दिया गया है। इससे पहले वो किसी भी प्रारूप में पाकिस्तान के लिए खेलते नहीं दिखे हैं। अगर उनके प्रथम श्रेणी क्रिकेट करियर की बात करें तो काशिफ एक ऑलराउंडर की भूमिका निभाते नजर आए हैं। उन्होंने अब तक 84 प्रथम श्रेणी मैच खेले हैं जिसमें वो 2707 रन बना चुके हैं और इस दौरान उनके बल्ले से 2 शतक और 10 अर्धशतक निकले। गेंदबाजी की बात करें तो इस स्पिनर ने अब तक 84 प्रथम श्रेणी क्रिकेट मैचों में 2.64 के शानदार इकॉनमी रेट के साथ 331 विकेट लिए हैं। 

अगली खबर