ओपनिंग उतरे और नॉट आउट लौटे, 174 बॉल में बनाए महज 36 रन, जब महान बल्लेबाज ने खेली करियर की सबसे 'घटिया' पारी

Sunil Gavaskar in first World Cup match: क्रिकेट इतिहास में कई पारियां दर्ज हैं, जिनमें बल्लेबाज ने काफी सुस्ती दिखाई। ऐसी ही एक पारी महान भारतीय बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने भी खेली थी।

Sunil Gavaskar
सुनील गावस्कर  |  तस्वीर साभार: Twitter

महान भारतीय बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने अपने करियर में कई बड़े रिकॉर्ड बनाए। उन्होंने कई यादगार और शानदार पारियां खेलीं। लेकिन उन्होंने आज ही के दिन यानी 7 जून, 1975 को एक ऐसी पारी खेली थी, जिसे वह खुद भी पसंद नहीं करते। दरअसल, गावस्कर ने 1975 वनडे विश्व कप में इंग्लैंड के खिलाफ 174 गेंदों में सिर्फ 36 रन बनाए थे। वह ओपनिंग करने उतरे थे और आखिर में नॉट आउट लौटे। यह पहला वनडे था और भारतीय टीम पहला ही मैच खेल रही थी। गावस्कर ने ऑटोबायोग्राफी 'सनी डेज' में कबूल किया था कि यह उनकी करियर की सबसे घटिया पारी थी।

इंग्लैंड ने खड़ा किया 334 का स्कोर

उन दिनों वनडे 60 ओवर के हुआ करते थे। इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 60 ओवर में 4 विकेट गंवाकर 334 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया था। डेनिस एमिस (137), कीथ फ्लेचर (68) और क्रिस ऑल्ड (51) ने टिककर बल्लेबाजी की थी।  वहीं, भारत के लिए सैयद आबिद अली ने दो जबकि मोहिंदर अमरनाथ और मदन लाल ने एक-एक विकेट चटकाया था। वनडे में उस समय 300 स्कोर काफी मुश्किल माना जाता था। ऐसे में सभी को पता था कि भारतीय टीम को काफी संघर्ष करना पड़ेगा। हालांकि, यह किसी को उम्मीद नहीं थी कि गावस्कर एक सुस्त पारी खेलेंगे।

गावस्कर ने पारी में सिर्फ एक चौका मारा

गावस्कर ने शुरू से ही धीमी गति से रन जुटाए। उन्होंने कोई बड़ा शॉट जमाना का ज्यादा रिस्क नहीं लिया। साथी खिलाड़ी भी गावस्कर को इस तरह बैटिंग करते देख हैरान थे। उन्होंने 174 गेंदों का सामना करते हुए महज 1 चौके की मदद से नाबाद 36 रन जोड़ सके। भारतीय टीम को विश्व कप के इस मैच में 202 रन से करारी शिकस्त झेलनी पड़ी थी। भारत ने निर्धारित 60 ओवर में 3 विकेट पर 132 रन बनाए। गावस्कर भी अपनी पारी से खुश नहीं थे। उन्होंने अपनी पारी के बारे में कहा था कि  मैंने कई बार स्टंप इस तरह छोड़े ताकि बोल्ड हो जाऊं, लेकिन मैं ना ही रन बना पा रहा था और ना ही आउट हो पा रहा था।

गावस्कर ने वनडे में महज एक शतक बनाया

गौरतलब है कि 1971 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का आगाज करने वाले गावस्कर दुनिया के महान क्रिकेटर्स में से एक हैं। उनके नाम एक ऐसा रिकॉर्ड दर्ज है, जिसे क्रिकेट के रहते कभी नहीं भुलाया जा सकेगा। वह दुनिया के पहले बल्लेबाज हैं, जिसने टेस्ट क्रिकेट में पहली बार 10,000 रन का आंकड़ा छुआ था। हालांकि, टेस्ट की तुलना में गावस्कर का वनडे करियर कुछ खास नहीं रहा। 1974 में वनडे डेब्यू करने वाले गावस्कर ने 108 मैचों में 35.14 के औसत से 3092 रन बनाए। उन्होंने इस दौरान एक शतक और 27 अर्धशतक बनाए। उन्होंने 1987 में क्रिकेट को अलविदा कह दिया था।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर