कप्तानी के पहले 'टेस्ट' में फेल होने के बाद क्या बोले बेन स्टोक्स

Ben Stokes reaction after loss in First test: जानिए पहली बार इंग्लैंड की कमान संभालते हुए हार का सामना करने के बाद क्या बोले कप्तान बेन स्टोक्स।

Ben Stokes
Ben Stokes   |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • बेन स्टोक्स कप्तानी के पहले टेस्ट में हुए फेल, पहली बार संभाल रहे थे इंग्लैंड की कमान
  • बतौर खिलाड़ी उन्होंने साउथैम्पटन टेस्ट में किया शानदार प्रदर्शन
  • मैच में दोनों पारियों में 89 रन बनाने के अलावा लिए 6 विकेट

साउथैम्पटन: वेस्टइंडीज के खिलाफ साउथैम्टन इंग्लैंड की कमान संभालने वाले स्टार ऑलराउंडर बेन स्टोक्स कप्तानी के पहले टेस्ट में असफल साबित हुए। बतौर खिलाड़ी उन्होंने अपनी टीम के लिए गेंद और बल्ले दोनों से योगदान किया लेकिन कप्तान के रूप में टीम को जीत नहीं दिला सके। पांच दिन चले टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने चौथी पारी में जीत के लिए कैरेबियाई टीम को 200 रन का लक्ष्य दिया था जिसे उन्होंने 4 विकेट शेष रहते हासिल कर लिया और सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली। 

दर्शकों के बगैर खेलना अजीब रहा
बेन स्टोक्स ने हार के बाद कहा,  सबसे अहम और सबसे बड़ी बात यह है कि हम मैदान में वापस आकर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल सके। हम दर्शकों के सामने क्रिकेट खेलने के आदी हैं ऐसे में टीवी प्रोड्यूसर्स और कॉमेन्ट्रेटर्स के बीच खेलने में थोड़ा अजीब रहा। लेकिन दर्शकों के लिहाज से देखें तो इस वजह से टीवी पर क्रिकेट की वापसी हो सकी है और इस प्रयास में शामिल रहने का अनुभव शानदार रहा।'

पहली पारी में नहीं बना सके बड़ा स्कोर 
इग्लैंड के कप्तान ने आगे कहा, दोनों टीमों ने इस मुकाबले को बनाने में लंबा वक्त लिया। मुझे नहीं लगता कि इस दौरान किसी की धड़कन बढ़ी होगी ये बेहद कड़ी प्रतिस्पर्धा के साथ खेला गया टेस्ट मैच था। जब भी कोई टेस्ट मैच पांच दिनों तक जाता है तो वह शानदार होता है। उन्होंने आगे कहा, आपको ये मानना ही पड़ेगा की 200 रन की बढ़त काफी है। यदि आपने पहले ही ये मान लिया कि आप ज्यादा रन स्कोर नहीं कर सके, तो इसका मतलब आपने पहले ही हार मान ली है। आदर्श स्थिति में तो हमें पहली पारी में ढेर सारे रन बनाने चाहिए थे।'



पहली बनाम चौथी पारी का रहा मैच 
उन्होंने आगे कहा, मेरे हिसाब से तो यह पहली पारी बनाम चौथी पारी वाला टेस्ट मैच था। जैसा कि आमतौर पर होता है हमने बल्ले के साथ कई बार खुद को बेहतरीन स्थिति में पहुंचाया और दुर्भाग्य से हम वैसी पारी नहीं खेल सके जिनकी मैच में गिनती होती।'

बतौर खिलाड़ी किया शानदार प्रदर्शन
स्टोक्स ने मैच में बतौर खिलाड़ी गेंद और बल्ले से शानदार प्रदर्शन किया। स्टोक्स ने दोनों पारियों में बल्ले से 43 और 46 रन की पारियां खेलीं। वहीं गेंदबाजी के दौरान उन्होंने पहली पारी में 49 रन देकर 4 और दूसरी पारी में 39 रन देकर 2 विकेट झटके। मैच में उन्होंने 89 रन बनाए और 6 विकेट लिए। 


 

अगली खबर