बतौर हेड कोच पहली सीरीज जीतने के बाद बोले राहुल द्रविड़, 'जमीन पर रखने चाहिए हमें अपने पांव' 

What Rahul Dravid said after first series win as team India's Head Coach: टी20 सीरीज में न्यूजीलैंड का सूपड़ा साफ करने के राहुल द्रविड़ ने कहा है कि हम हकीकत से नहीं मोड़ सकते मुंह, जमीन पर रखने चाहिए हमें अपने पांव।   

Team-India-Head-Coach-Rahul-Dravid
भारतीय क्रिकेट टीम के हेड कोच राहुल द्रविड़ 
मुख्य बातें
  • राहुल द्रविड़ के टीम इंडिया का नया हेड कोच बनने के बाद न्यूजीलैंड को दी 3-0 से मात
  • जीत के बाद बोले द्रविड़ न्यूजीलैंड के लिए आसान नहीं था 6 दिन में 3 मैच खेलना
  • हकीकत से हम नहीं मोड़ सकते अपने मुंह, जीत के बाद भी हमें रखने चाहिए जमीन पर अपने पांव

कोलकाता: भारतीय क्रिकेट टीम ने टी20 वर्ल्ड कप 2021 के प्रदर्शन को पीछे छोड़ते हुए न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज 3-0 से अपने नाम कर ली। टी20 टीम ने नए कप्तान रोहित शर्मा और नए हेड कोच राहुल द्रविड़ के नेतृत्व में कई दिग्गज खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी के बावजूद कीवी टीम का सीरीज में सूपड़ा साफ कर दिया। इसके साथ ही भारतीय क्रिकेट में एक नए युग की शुरुआत हुई।

हकीकत से नहीं मोड़ सकते हैं मुंह
कोलकाता में न्यूजीलैंड को 73 रन के बड़े अंतर से मात देने के बाद टीम इंडिया ने ट्रॉफी पर कब्जा कर लिया। इस शानदार जीत के बाद हेड कोच राहुल द्रविड़ ने कहा, जीत वाकई में शानदार रही है। हर किसी ने अच्छा प्रदर्शन किया है। अच्छी शुरुआत होना अच्छा है लेकिन हम हकीकत से भी मुंह नहीं मोड़ सकते। जीत के बाद भी हमें अपने पैर जमीन पर बनाए रखने की दरकार है। 

जमीन पर रखने होंगे हमें अपने पांव
द्रविड़ ने आगे कहा, हम इस सीरीज जीत की हकीकत से मुंह नहीं मोड़ सकते। न्यूजीलैंड की टीम के लिए टी20 वर्ल्ड कप फाइनल में खेलने के तीन दिन बाद भारत आना और छह दिन में तीन मैच खेलना आसान नहीं था। हमारे लिहाज से ये सीरीज अच्छी रही है, लेकिन हमें अपने पैर जमीन पर रखकर, सीरीज से कुछ सीख लेकर आगे बढ़ना है। ये सफर काफी लंबा है अगले 10 महीने में हमारे हिस्से में बहुत से उतार-चढ़ाव आएंगे। 

युवा खिलाड़ियों की सफलता रही सीरीज की उपलब्धि
सीरीज से क्या सीख मिली इसके जवाब में द्रविड़ ने कहा, सीरीज की सबसे अच्छी बात यह रही कई युवा खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया। इस दौरान हमने कुछ ऐसे खिलाड़ियों को भी मौका दिया जिन्होंने पिछले कई महीनों में ज्यादा क्रिकेट नहीं खेली थी। सीनियर खिलाड़ियों के आराम लेने की वजह से ऐसा हो सका। ऐसा करके हम ये जान पाए कि वो कैसा खेल रहे हैं। उन खिलाड़ियों ने भी सीरीज में अच्छा प्रदर्शन किया ये हमारे लिए सकारात्मक पहलू रहा। हमें कई अच्छे सबक सीरीज के दौरान मिले हैं आगे बढ़ते हुए हमें उस कौशल का विकास करने की जरूरत है। 

उपलब्ध हैं टीम में खिलाड़ियों के विकल्प
सीनियर खिलाड़ियों के बगैर इस तरह की जीत से संतुष्टि मिलने के सवाल पर द्रविड़ ने कहा, बड़े खिलाड़ियों के बगैर टीम का ऐसा प्रदर्शन खुशी की बात है। सीनियर खिलाड़ियों की वापसी से टीम निश्चित तौर पर और मजबूत होगी। सीरीज के दौरान ये देखकर अच्छा लगा कि हमारे पास कई विकल्प उपलब्ध हैं, जरूरत पड़ने पर हम टीम में बदलाव कर सकते हैं। 

आगे भी करते रहेंगे बदलाव 
द्रविड़ ने अंत में कहा, विभिन्न परिस्थितियों में हम अलग-अलग खिलाड़ियों को आजमा सकते हैं। ये सीजन काफी लंबा है और अभी से लेकर अगले टी20 वर्ल्ड कप तक बहुत सारी क्रिकेट खेली जानी है। इसलिए हम आगे भी ऐसे बदलाव करते रहेंगे जिससे कि सीनियर खिलाड़ी व्यापक पैमाने पर क्रिकेट खेल सकें। यह देखकर खुशी होती है कि युवा खिलाड़ी उभरकर सामने आगे आ रहे हैं, उन्हें इस स्तर पर मौके मिल रहे हैं और वो अच्छा प्रदर्शन भी कर रहे हैं।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर