नहीं थक रहे जेम्स एंडरसन, जताई ऑस्ट्रेलिया में एशेज सीरीज खेलने की इच्छा 

James Anderson want to play Ashes in Australia: उम्र के 37 पड़ाव पार कर चुके इंग्लैंड के दिग्गज तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने अगले साल ऑस्ट्रेलिया में एशेज सीरीज में भाग लेने की इच्छा जताई है।

James Anderson
जेम्स एंडरसन   |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • अगले साल ऑस्ट्रेलिया में एशेज सीरीज में खेलना चाहते हैं जेम्स एंडरसन
  • साझा किया अपना प्लान, कैसे करेंगे इसे साकार
  • अब तक खेले 152 टेस्ट मैच में झटक चुके हैं 587 विकेट

मैनचेस्टर: इंग्लैंड क्रिकेट इतिहास के महानतम तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन का फिलहाल संन्यास लेने का कोई इरादा नहीं है। वेस्टइंडीज के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज में खेल रहे एंडरसन ने अगले साल ऑस्ट्रेलिया में एशेज में भाग लेने की इच्छा जताई है। 

उम्र का 37वां पड़ाव पार कर चुके एंडरसन पिछले कुछ साल से लगातार चोटिल हो रहे थे लेकिन कोरोना वायरस के वजह से मिले तीन महीने लंबे ब्रेक ने उनकी चोट से पूरी तरह उबरने में मदद की है। ऐसे में वो इसका पूरा फायदा उठाना चाहते हैं।

एशेज में खेलने के लिए ऐसा होगा प्लान
एंडरसन ने अगली एशेज सीरीज में भाग लेने के प्लान के बारे में कहा कि इसके लिए उन्हें बीच में कुछ मैच नहीं खेलने होंगे। उन्होंने कहा, व्यापक तौर पर देखें तो मैं अगली एशेज सीरीज के दौरान टीम के साथ रहना चाहता हूं। इस योजना में सफल होने के लिए अलग ढंग से काम करना होगा।'

उन्होंने आगे कहा, मुझे इस दौरान मैं कुछ मैच मिस करूंगा ताकि तब तक मैं सर्वश्रेष्ठ संभावित स्थित में रहूं। मैं लगातार गेंदबाजी करते हुए सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में रहना चाहता हूं। लेकिन जहां तक संभव हो मुझे अपने शरीर का भी ख्याल रखना होगा। तीन चार साल पहले की अपेक्षा मैं इसके लिए अब ज्यादा तैयार हूं। 

एंडरसन वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज का साउथैमप्टन में पहला टेस्ट खेले थे। दूसरे टेस्ट के लिए उन्हें और क्रिस वोक्स को आराम दिया गया था। ऐसे में तीसरे टेस्ट के लिए उनकी टीम में वापसी हो सकती है। इंग्लैंड के पास मौजूदा दौर में 5-6 तेज गेंदबाज हैं उनमें से तीन का चयन करना टीम मैनेजमेंट के लिए मुश्किल काम है।



600 विकेट से 13 कदम दूर  
37 वर्षीय एंडरसन अब तक करियर में 152 टेस्ट खेल चुके हैं। इस दौरान उन्होंने 587 विकेट हासिल किए हैं। 600 विकेट के मुकाम पर पहुंचने के से अभी वो 13 कदम दूर हैं। संभवत: वेस्टइंडीज के बाद पाकिस्तान के खिलाफ तीन टेस्ट मैच की सीरीज के दौरान वो इस मुकाम पर पहुंच जाएंगे। वो सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने वाले खिलाड़ियों की सूची में मुथैया मुरलीधरन, शेनवॉर्न और अनिल कुंबले के बाद चौथे पायदान पर हैं। 

अगली खबर