'अपना मुंह बंद करके बल्‍लेबाजी करो': हैदराबाद टी20 में केसरिक-कोहली के बीच स्‍लेजिंग वाली पूरी बात

Virat Kohli vs Kesrick Williams: भारतीय कप्‍तान विराट कोहली और कैरेबियाई गेंदबाज केसरिक विलियम्‍स‍ पिछले साल हैदराबाद में खेले गए टी20 इंटरनेशनल मैच के दौरान एक मजेदार घटना में शामिल थे।

virat kohli vs kesrick williams
विराट कोहली बनाम केसरिक विलियम्‍स 

मुख्य बातें

  • कोहली ने हैदराबाद में खेले गए मैच में विलियम्‍स के नोटबुक जश्‍न की नकल की थी
  • 2017 में जमैका में खेले गए टी20 मैच में विलियम्‍स ने कोहली के खिलाफ ऐसा जश्‍न मनाया था
  • विलियम्‍स ने खुलासा किया कि कोहली ने दूसरे टी20 में दोबारा स्‍लेजिंग करने की कोशिश की थी

नई दिल्‍ली: वेस्‍टइंडीज के तेज गेंदबाज केसरिक विलियम्‍स ने पिछले साल हैदराबाद टी20 इंटरनेशनल मैच में विराट कोहली के साथ हुई स्‍लेजिंग पर चुप्‍पी तोड़ी और उस रात की पूरी घटना बताई। कोहली ने विलियम्‍स के मशहूर नोटबुक सेलिब्रेशन जश्‍न की नकल की और ऐसा दिखाया कि अपनी लिस्‍ट में से तेज गेंदबाज के नाम पर टिक लगा दिया है। कोहली ने 208 रन के लक्ष्‍य का पीछा करते समय विलियम्‍स की गेंद पर छक्‍का जमाने के बाद यह हरकत की थी। कोहली ने अपने टी20 इंटरनेशनल करियर की सर्वश्रेष्‍ठ पारी खेलते हुए 188 के स्‍ट्राइक रेट से 94 रन बनाए थे और टीम को जीत दिलाई थी।

विलियम्‍स ने नोटबुक सेलिब्रेशन की शुरूआत 2017 में की थी जब जमैका में खेले गए टी20 मैच में उन्‍होंने कोहली को अपना शिकार बनाया था। भारतीय सुपरस्‍टार बल्‍लेबाज इसे नहीं भूले और सुनिश्चित किया कि पिछले साल कैरेबियाई गेंदबाज को यह अच्‍छे से याद दिला सके। विलियम्‍स ने इस घटना पर खुलकर बातचीत की। उन्‍होंने खुलासा किया कि दोनों खिलाड़‍ियों के बीच क्‍या बातचीत हुई।

विलियम्‍स ने फर्स्‍टपोस्‍ट से बातचीत में कहा, 'पहले मैच में जब कोहली बल्‍लेबाजी करने आए तो वो सीधे मेरे पास आए और बोले- अरे सुनो, तुमने जमैका में आखिरी बार मेरे खिलाफ गेंदबाजी करके मुझे अपना शिकार बनाया था। मगर यहां ऐसा नहीं होगा। मैं सोच में पड़ गया कि वो 2017 था और अब 2019 है। इस आदमी ने सचमुच इस बात को ध्‍यान रखा? मैं सोच में पड़ गया कि इस पर विश्‍वास नहीं होता।'

विलियम्‍स ने आगे कहा, 'मैंने एक गेंद डाली। किसी ने लेग साइड पर हल्‍के हाथों से शॉट खेला और मैं गेंद की तरफ दौड़ा। मगर कोहली एक रन लेने के लिए दौड़े और मैं लगभग उनसे टकराने वाला था। मैं रुका और उन्‍हें जाने दिया। फिर उन्‍होंने अंपायर की तरफ देखा और पूछा क्‍या चल रहा है? मैंने कहा दोस्‍त, मैं माफी चाहता हूं, ऐसा जानबूझकर नहीं किया। मैं दौड़कर आपकी तरफ नहीं आना चाह रहा था। और वहां से इसकी शुरूआत हुई। विराट कोहली इस तरह की बात कह रहे थे, जिसे मैं दोबारा नहीं कहना चाहता।'

विलियम्‍स ने आगे कहा, 'विराट कोहली सब तरह की चीजें कह रहा था और मैं बोल रहा था हां दोस्‍त, क्‍या तुम पीछे जाओगे। जब मैं पीछे जा रहा था और कोहली नॉन स्‍ट्राइकर छोर पर थे तो वो आकर बोले- ऐसा कुछ नहीं होने वाला। आज मैं आपको अपने आप को आउट नहीं करने दूंगा। कभी नहीं। कभी आप मेरा विकेट नहीं ले पाओगे। मैंने कहा- दोस्‍त क्‍या तुम अपना मुंह बंद करके बल्‍लेबाजी कर सकते हो? सिर्फ बल्‍लेबाजी करो, मैच खेलो और मुझे अकेला छोड़ दो। विराट ने फिर कुछ शब्‍द कहे।'

कोहली ने फिर स्‍लेजिंग की: विलियम्‍स

केसरिक विलियम्‍स ने आगे कहा, 'विराट ने मैच समाप्‍त किया और मेरा नाम नोटबुक में ऊपर लिखा। मुझे नहीं पता कि उनके पास कौन सी नोटबुक है, लेकिन उन्‍होंने मेरा नाम ऊपर लिख लिया है और उसके साथ बढ़ रहे हैं। उन्‍होंने मैच जीता। अच्‍छी बात है। जब हम हैदराबाद से केरल जा रहे थे। मैं इकोनॉमी और कोहली बिजनेस क्‍लास में थे। उन्‍होंने पीछे मेरी तरफ देखा, मुझे देखकर हंसने लगे और चेहरे के भाव बनाने लगे। मैंने भी सोचा कि ठीक है, अगले मैच में आपको आउट कर लूंगा। मैंने कहा- अगले मैच में मुकाबला मेरे और आपके (कोहली) के बीच होगा। क्‍योंकि कोहली मेरे दिमाग में चढ़ चुके थे। मैं सोच रहा था कि आप मुझे दोबारा नहीं हरा सकते, क्रिकेट में कभी नहीं। ऐसा दोबारा नहीं होने वाला।'

विलियम्‍स ने फिर कहा कि कोहली ने तिरुवनंतपुरम में खेले गए दूसरे मैच में फिर स्‍लेजिंग करने की कोशिश की थी। कैरेबियाई गेंदबाज ने कहा, 'दूसरे मैच में, मैं फाइन लेग बाउंड्री पर था और वो वहां बैठे थे। उन्‍होंने घूरकर मुझे देखा और कहा केसरिक। मेरा मतलब है कि सही बात है पिछले मैच में हराया, लेकिन जो मन में आएगा वो करेंगे क्‍या। वह शीर्ष पर है। केसरिक (कोहली ने दोबारा कहा)। मैं तो बस इंतजार करने लगा कि कब कोहली बल्‍लेबाजी करने आए। एक विकेट गिरे और इस खिलाड़ी के लिए मैं तैयार था क्‍योंकि हर हाल में कोहली का विकेट लेना चाहता था। मुझे विश्‍वास था कि कोहली को आउट कर लूंगा।'

विलियम्‍स ने आगे कहा, 'जब वो बल्‍लेबाजी करने आए तो ज्‍यादा कुछ नहीं कहा। मैंने उन्‍हें आउट कर लिया। मुझे याद है कि उन्‍होंने टेस्‍ट सीरीज में होंठ पर उंगली लगाकर जश्‍न मनाया था। जब मैंने उन्‍हें आउट किया तो दर्शक शांत हो गए और मैंने लोगों को कहा- शांत रहो, इस बात को शांत रखो और लीजेंड के लिए ताली बजाकर उन्‍हें जाने दो। ठीक है। वो गया। उसे जाने दो। मैंने अपने होठ बंद किए और पीछे जाने लगा। उनके लिए कोई जश्‍न नहीं मनाया। मैं जश्‍न नहीं मनाना चाहता था। उन्‍हें जाने दो।'

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर