मोहम्मद शमी को ट्रोल करने वालों को विराट कोहली ने दिया करारा जवाब

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को सोशल मीडिया पर पाकिस्तान के खिलाफ हार के बाद निशाना बनाने वाले लोगों को करारा जवाब दिया है।

Virat-kohli-T20WC
विराट कोहली  |  तस्वीर साभार: AP
मुख्य बातें
  • विराट ने कहा, किसी पर धर्म के आधार पर हमला करने से ज्यादा निराशाजनक कुछ नहीं
  • विराट ने ट्रोलर्स को बताया रीढ़हीन लोगों का समूह
  • अपनी पहचान छिपाकर सोशल मीडिया पर किसी को निशाना बनाना है इंसानियत का सबसे निचला स्तर

दुबई: भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने पाकिस्तान के खिलाफ टी20 विश्व कप के पहले मैच में मिली हार के बाद धर्म को लेकर सोशल मीडिया पर तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को निशाना बनाने वालों को आड़े हाथों लेते हुए उन्हें 'रीढ़हीन लोगों का समूह' करार दिया। पाकिस्तान से दस विकेट से मिली हार के बाद शमी आलोचकों के निशाने पर थे हालांकि कोहली ने मैच के बाद कहा था कि पाकिस्तान ने भारतीय टीम से बेहतर प्रदर्शन किया।

ट्रोलर्स हैं रीढ़हीन लोगों का समूह
कोहली ने न्यूजीलैंड के खिलाफ मुकाबले की पूर्व संध्या पर प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा, 'मैदान पर हमारे खेलने की एक अच्छी वजह है। सोशल मीडिया पर लिखने वाले वे रीढ़हीन लोग नहीं जिनमें किसी व्यक्ति से आमने सामने बात करने का साहस नहीं है। रीढ़हीन लोगों के कुछ समूह के लिए सोशल मीडिया पर किसी का मजाक उड़ाना मनोरंजन का साधन बन गया है जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है। लोग अपनी पहचान छिपाकर लोगों को निशाना बनाते हैं, लोगों के सामने आने की उनकी हिम्मत नहीं है और वो किसी के भी पीछे पड़ जाते हैं, सोशल मीडिया के जरिए ऐसा करना बेहद दुखद है।'

यह है इंसानियत का सबसे निचला स्तर 
विराट ने आगे कहा, यह इंसानियत का सबसे निचला स्तर है। किसी पर धर्म के आधार पर हमला करने से ज्यादा निराशाजनक कुछ नहीं हो सकता। लोग  इंसानी काबिलियत का ऐसे गिरे हुए काम में उपयोग कर रहे हैं। मैं ट्रोलर्स को इसी तरीके से देखता हूं। व्यक्तिगत तौर एक खिलाड़ी के रूप में हम जानते, समझते हैं कि हमें मैदान पर क्या करना है। हमारे अंदर उसके लिए काबीलियत और मानसिक मजबूती है। हम क्या और कैसे करते हैं ऐसा करने की उनके अंदर ना तो काबीलियत है और ना ही साहस,वो ऐसा करने के बारे में सोच भी नहीं सकते हैं।'
 
हमने धार्मिक आधार पर पक्षपात के बारे में कभी नहीं सोचा
भारतीय कप्तान ने आगे कहा, 'कभी धर्म के आधार पर पक्षपात के बारे में नहीं सोचा। धर्म बहुत पवित्र चीज है। हमारे भाइचारे और दोस्ती को हिलाया नहीं जा सकता और इन चीजों से फर्क नहीं पड़ता। जो लोग हमें समझते हैं, मैं उन्हें श्रेय देता हूं।'

भारत की हार के बाद शमी के इंस्टाग्राम अकाउंट पर सैकड़ों संदेश थे जिनमें लिखा गया था कि वह गद्दार है और उन्हें भारतीय टीम से बाहर कर देना चाहिये। उनके प्रशंसकों और हर क्षेत्र की जानी मानी हस्तियों ने हालांकि उनका समर्थन किया।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर