Taliban in Cricket HQ: अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के दफ्तर में AK-47 लेकर घुसे तालिबानी, साथ में पूर्व खिलाड़ी

अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद आंच अब अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के दफ्तर में भी आंच पहुंच गई है. तालिबानी पूर्व खिलाड़ी के साथ एसीबी के दफ्तर में एके-47 के साथ नजर आए हैं.

Talibani at ACB HQ
अफगानिस्तानी क्रिकेट बोर्ड के दफ्तर में तालिबानी  

मुख्य बातें

  • अफगानिस्तान को क्रिकेट ने दिलाया है आतंकवाद से इतर नाम
  • तालिबान के अफगानिस्तान पर कब्जा करने के बाद क्रिकेट के भविष्य को लेकर उठ रहे हैं सवाल
  • माना जा रहा है तालिबानी करते हैं क्रिकेट को पसंद, नहीं पड़ेगा खेल पर असर

काबुल: अमेरिका के अफगानिस्तान से रवाना होने के कुछ दिनों बाद ही एक बार फिर तालिबान ने पूरे देश को अपने कब्जे में ले लिया है। राजधानी काबुल पर तालिबानियों का कब्जा होने के बाद से पूरे देश में अफरा-तफरी का माहौल बना हुआ है। लोग देश छोड़ने की फिराक में हैं। 

अफगानिस्तान में तालिबानियों के कब्जे के बाद स्थितियां बद से बदतर होती जा रही है। ऐसे में एक दौर में अफगानिस्तान के युवाओं को अमन चैन की राह पर लाने में अहम भूमिका निभाने और वैश्विक स्तर पर अफगानिस्तान को सफलता का स्वाद चखवाने वाले क्रिकेट पर भी पड़ा है।

पिछले 20 साल में अफगानी क्रिकेट ने सफलता की जो इबारत लिखी वो हर किसी के लिए एक मिसाल है। लेकिन तालिबान के कब्जे में अफगानिस्तान के आने के बाद एक बार फिर से अफगानी क्रिकेट के सुनहरे भविष्य पर सवाल उठ खड़े हुए हैं। आईसीसी भी अफगानिस्तान में होने वाले बदलावों पर करीब से नजर रखे हुए है। 

ऐसे में गुरुवार को तालिबानियों के अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के काबुल स्थित दफ्तर तक पहुंचने की खबर आई। इस दौरान उनके साथ अफगानिस्तान के पूर्व खिलाड़ी अब्दुल्लाह मजारी भी थे। 

अफगान क्रिकेट बोर्ड के दफ्तर पहुंचे तालिबानी 
अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के दफ्तर में पहुंचे तालिबानियों की एक तस्वीर भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। इस तस्वीर में हथियारों से लैस तालिबानी लड़ाके एसीबी के कॉन्फ्रेंस हॉल में बैठे नजर आ रहे हैं। ये तस्वीरें अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सीईओ हामिद शेनवारी के ये भरोसा दिलाने के बाद वायरल हो रही हैं कि अफगानिस्तान में हुए राजनीतिक बदलाव का क्रिकेट पर कोई असर नहीं पड़ेगा। 

शेनवारी ने दावा किया था कि अफगानिस्तान की राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के सभी खिलाड़ी और उनके परिवार सुरक्षित हैं। तालिबान क्रिकेट को पसंद करता है और वो शुरुआत से ही हमारी मदद करते रहे हैं। वो हमारी गतिविधियों में हस्तक्षेप नहीं करेंगे।' 

सीईओ को है आशा नहीं होगा क्रिकेट में दखल 
शेनवारी ने ये बयान उस वक्त जारी किए थे जब रविवार को पूर्व राष्ट्रपति अशरफ घानी देश छोड़कर भाग गए थे। उन्होंने कहा था, मुझे नहीं लगता कि कोई दखलंदाजी क्रिकेट में होगी। हमें आशा है कि क्रिकेट को आगे ले जाने में हमें मदद मिलेगी। हमारे पास एक सक्रिय चेयरमैन है। आगामी सूचना तक मैं सीईओ हूं। 

अफगानिस्तान के खिलाड़ियों राशिद खान और मोहम्मद नबी अगले महीने यूएई में आईपीएल 2021 के अगले हिस्से में शिरकत करते नजर आएंगे। इसके बाद अफगानिस्तान को यूएई में ही आयोजित होने वाले टी20 विश्व कप 2021 में भी शिरकत करना है। राशिद और नबी इन दिनों इंग्लैंड में हैं और द हंड्रेड टूर्नामेंट में शिरकत कर रहे हैं। 
 

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर