नंबर.36: टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री ने बताया, आखिर क्यों भारतीय क्रिकेट में इस नंबर का है महत्व

Significance of No.36 in Indian cricket: भारतीय क्रिकेट टीम में सबसे ज्यादा नंबर.36 का इतना महत्व क्यों है, आखिर क्या खास है इस नंबर में। इस बारे में टीम इंडिया के मौजूदा मुख्य कोच रवि शास्त्री ने बताया है।

Ravi Shastri explains significance of number 36 in Indian cricket
Ravi Shastri explains significance of number 36 in Indian cricket  |  तस्वीर साभार: Instagram

मुख्य बातें

  • भारतीय क्रिकेट और नंबर.36 का संबंध
  • आखिर क्यों ये नंबर भारतीय क्रिकेट में इतना महत्व रखता है
  • टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने इस बारे में बताया

नई दिल्लीः भारतीय क्रिकेट टीम में जर्सी नंबरों की महत्वता के बारे में तो आपने कई बार सुना होगा। चाहे वो सचिन तेंदुलकर का जर्सी नंबर.10 हो या फिर धोनी का नंबर.7, लेकिन हम यहां जिस नंबर की बात करने जा रहे हैं, वो जर्सी नंबर नहीं है। टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर किया है जिसमें उन्होंने नंबर.36 की भारतीय क्रिकेट में भूमिका के बारे में बताया है।

रवि शास्त्री के मुताबिक 36 नंबर भारतीय क्रिकेट में काफी महत्व रखता आया है। शास्त्री ने कुच ऐसे किस्सों के बारे में बताया है जो कहीं ना कहीं इस नंबर को भारतीय क्रिकेट से जोड़ते हैं। शास्त्री ने इस पोस्ट में लिखा, "काफी सारे 36..मेरे 6 छक्के, टीम 36 एडिलेड, वनडे नंबर 36, गावस्कर 36, युवराज सिंह के 6 छक्के..और भी हो सकते हैं।"

रवि शास्त्री ने जिन किस्सों को जोड़ते हुए 36 का महत्व बताने का प्रयास किया है। उसमें सबसे पहले उन्होंने अपने लगातार जड़े 6 छक्कों के बारे में बताया है। शास्त्री ने 1984-85 रणजी ट्रॉफी सीजन में मुंबई की तरफ से खेलते हुए 6 गेंदों में 6 छक्के जड़े थे।

इसके बाद शास्त्री ने टीम 36 एडिलेड का जिक्र किया है। ये दिसंबर 2020 में विराट कोहली की अगुवाई में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला गया वो मैच था जिसमें टीम इंडिया 36 रन पर सिमट गई थी, लेकिन उस हार से टीम इंडिया ने ऐसा सबक लिया कि उसके बाद ऑस्ट्रेलिया को सीरीज में शिकस्त देकर ही घर लौटे।

इसके अलावा शास्त्री ने सुनील गावस्कर की 36 रनों की उस पारी का जिक्र किया है जिसने सबको चौंका दिया था। बात 1975 क्रिकेट विश्व कप से जुड़ी है। इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए मैच में भारत को जीत के लिए 60 ओवर में 335 रन बनाने थे लेकिन गावस्कर ने इतनी धीमी बल्लेबाजी की, कि आज तक लोग हैरान हैं। गावस्कर ने 174 गेंदों में 36 रनों की पारी खेली थी।

वहीं शास्त्री ने युवराज सिंह के छह छक्कों का जिक्र भी किया है। जब डरबन में 2007 टी20 विश्व कप के दौरान युवराज सिंह ने इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्रॉड के खिलाफ लगातार 6 छक्के जड़ते हुए एक ओवर में 36 रन बना डाले थे।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर