तो उमर अकमल आधिकारिक रूप से मूर्खों की लिस्‍ट में हुए शामिल: रमीज राजा

Ramiz Raja on Umar Akmal ban: रमीज राजा ने उमर अकमल के बैन के बाद पाकिस्‍तानी क्रिकेटर के खिलाफ जमकर अपनी भड़ास निकाली है। राजा ने कहा कि अकमल जैसे लोगों को जेल के अंदर भेजना चाहिए।

umar akmal and ramiz raja
उमर अकमल और रमीज राजा 
मुख्य बातें
  • रमीज राजा ने उमर अकमल के बैन के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली
  • उमर अकमल पर मैच फिक्सिंग जांच के बाद तीन साल का प्रतिबंध लगा
  • राजा ने कहा कि उमर अकमल आधिकारिक रूप से मूर्खों की लिस्‍ट में शामिल हुए

लाहौर: पाकिस्‍तान के पूर्व क्रिकेटर रमीज राजा ने पीसीबी के भ्रष्‍टाचार आरोपों में उमर अकमल को बैन करने के फैसले का स्‍वागत किया। राजा ने कहा कि उमर अकमल आधिकारिक रूप से मूर्खों की लिस्‍ट में शामिल हो गए हैं और उन जैसे लोगों को जेल के अंदर भेज देना चाहिए। पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने उमर अकमल पर सभी तरह के क्रिकेट से तीन साल का प्रतिबंध लगाया है क्‍योंकि क्रिकेटर ने मैच फिक्सिंग की जानकारी अधिकारियों को नहीं दी है। 

राजा ने ट्वीट किया, 'तो उमर अकमल आधिकारिक रूप से मूर्खों की लिस्‍ट में शामिल हो गए हैं। तीन साल के लिए प्रतिबंधित। क्‍या तो प्रतिभा का कबाड़ा हुआ। यह सही समय है कि मैच फिक्सिंग के खिलाफ कानून पास किया जाए। ऐसे लोगों को जेल के अंदर भेज देना चाहिए। या फिर ज्‍यादा की अपेक्षा करें।'

पीसीबी ने सोमवार को ट्विटर के जरिये अकमल पर बैन लगाने की जानकारी दी। पीसीबी ने ट्वीट किया, 'अनुशासनात्‍मक पैनल के चेयरमैन जस्टिस (रिटायर्ड) फजल-ए-मिरान चौहान ने उमर अकमल पर सभी प्रकार के क्रिकेट से तीन साल का प्रतिबंध लगाया है।' अकमल को संहिता के 2.4.4 आर्टिकल के उल्‍लंघन का दोषी पाया।

बता दें कि अकमल ने एक इंटरव्‍यू में खुलासा किया था कि एक मैच में दो गेंद छोड़ने के लिए फिक्‍सर ने उन्‍हें 2 लाख यूएस डॉलर की पेशकश की थी। अकमल ने यह भी दावा किया था कि उन्‍हें भारत के खिलाफ मैच नहीं खेलने के लिए मोटी रकम का ऑफर मिला था। अकमल ने इंटरव्‍यू में कहा था, 'मुझे एक बार दो गेंदें छोड़ने के लिए 2 लाख यूएस डॉलर का ऑफर दिया गया था। मुझे भारत के खिलाफ मैच नहीं खेलने के लिए मोटी रकम का ऑफर दिया गया था।'

बल्‍लेबाज ने कहा था कि 2015 विश्‍व कप में भी बुकी ने उनसे संपर्क साधने की कोशिश की थी। हालांकि, अकमल इस बात का ध्‍यान दिलाना भूल गए थे कि उन्‍होंने इसकी जानकारी भ्रष्‍टाचार विरोधी ईकाई (एसीयू) को दी थी या नहीं। आईसीसी भ्रष्‍टाचार विरोधी संहिता 2.4.4 और 2.4.5 के मुताबिक खिलाड़‍ियों को भ्रष्‍टचार से संबंधित सभी जानकारी अधिकारियों को देनी होती है। अगर वह ऐसा नहीं करते हैं तो फिर उन्‍हें कम से कम पांच साल की सजा हो सकती है।

विवादों से भरा रहा करियर

उमर अकमल और विवाद एक-दूसरे के पूरक बनकर चले हैं। 2014 में अकमल को एक दिन हिरासत में रखा गया था क्‍योंकि वह ट्रैफिक वॉर्डन से झगड़ा कर बैठे थे। 2017 में विकेटकीपर बल्‍लेबाज तीन महीने के लिए निलंबित हुए थे क्‍योंकि वह राष्‍ट्रीय टीम के हेड कोच मिकी आर्थर से विवाद कर बैठे थे। अकमल के लिए 2020 की शुरुआत अच्‍छी नहीं रही जब उन्‍होंने लाहौर में फिटनेस ट्रेनर के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग किया था। फिटनेस टेस्‍ट के दौरान अकमल ने अपने कपड़े उतारकर ट्रेनर से पूछा था कि उनके शरीर में कहां चर्बी है।

ट्रेनर ने तुरंत इसकी जानकारी पाकिस्‍तान के हेड कोच और चयनकर्ता मिस्‍बाह उल हक को दी, जिन्‍होंने इस मामले में सुनवाई आयोजित करने के लिए कहा। हालांकि, इस मामले में उमर अकमल को किसी प्रकार की सजा नहीं हुई। कई पूर्व पाकिस्‍तानी क्रिकेटरों का मानना था कि 29 साल के अकमल में गजब की प्रतिभा है, लेकिन इन विवादों के कारण वह अपना करियर बर्बाद कर रहे हैं।

अकमल ने 121 वनडे में 34.34 की औसत से 3194 रन बनाए। इस दौरान उन्‍होंने दो शतक और 20 अर्धशतक भी जमाए। वहीं अकमल ने 16 टेस्‍ट में 1 शतक और 6 अर्धशतक की मदद से 1003 रन बनाए। अकमल ने आखिरी बार अक्‍टूबर 2019 में पाकिस्‍तान टीम का प्रतिनिधित्‍व किया था।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर