भारत के हर युवा को पढ़ना चाहिए पीएम मोदी का एमएस धोनी के लिए लिखा पत्र, हिंदी में पढ़ें पूरा लेटर

PM Modi's letter for MS Dhoni in Hindi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी के लिए संन्यास का ऐलान करने के बाद एक पत्र लिखा है। इस पत्र को भारत के हर युवा को पढ़ना चाहिए।

Modi Dhoni Sakshi
पीएम मोदी एमएस धोनी और साक्षी धोनी  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • पीएम मोदी ने धोनी को बताया है करोड़ों भारतीयों के लिए प्रेरणा स्रोत
  • नए भारत की भावना का प्रतिनिधित्व करते हैं धोनी जो जोखिम लेने में नहीं घबराती
  • परिवार के नाम से नए भारत में नहीं निर्धारित होती है युवाओं की तकदीर, प्रतिभा से बल पर हासिल कर रहे हैं मुकाम

नई दिल्ली: टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी ने 15 अगस्त को अचानक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा करके सबको अचरज में डाल दिया था। धोनी के संन्यास का ऐलान करने के बाद उन्हें सोशल मीडिया पर हर जगह से शुभकामनाएं मिली थीं लेकिन पीएम नरेंद्र मोदी ने उनके लिए कोई संदेश नहीं लिखा। लेकिन इसके पांच दिन बाद पीएम मोदी का धोनी के लिए एक इमोशनल पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने धोनी को एक खिलाड़ी से बढ़कर करोड़ों युवाओं का प्रेरणा स्रोत बताया है। 

पीएम मोदी ने इस पत्र में धोनी के जीवन के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की है जिससे देश के युवा सीख सकते हैं। आइए हिंदी में पढ़ें पीएम मोदी द्वारा एमएस धोनी के लिए लिखे पत्र का हिंदी अनुवाद...

प्रिय महेंद्र,

                15 अगस्त को अपने चिरपरिचित अंदाज में आपने एक शार्ट वीडियो साझा किया जो कि पूरे देश के लिए एक लंबी और तीव्र परिचर्चा का विषय बनने के लिए काफी था। 130 करोड़ भारतीय निराश थे लेकिन पिछले डेढ़ दशक में आपने भारतीय क्रिकेट के लिए जो कुछ किया उसके लिए दिल से कृतज्ञ भी थे।

आपके क्रिकेट करियर को आंकड़ों के नजरिए से देखा जा सकता है। आप सबसे सफल कप्तानों में से एक रहे, भारत को दुनिया के सर्वोच्च मुकाम पर ले जाने में आपका योगदान रहा। आपका नाम इतिहास में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों, सर्वश्रेष्ठ कप्तानों और संभवत: दुनिया के सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर के रूप में दर्ज रहेगा। 

मुश्किल परिस्थितियों में आपके ऊपर निर्भरता और खासकर 2011 विश्व कप के फाइनल में मैच को खत्म करने का अंदाज आने वाली कई पीढ़ियों के यादों में बना रहेगा। 

लेकिन महेंद्र सिंह धोनी के केवल अपने करियर में आंकड़ों या मैच जिताने में भूमिका के लिए लिए नहीं याद किया जाएगा। आपकी ओर केवल एक खिलाड़ी के रूप में देखना अन्याय होगा। आपके प्रभाव का सही तरह से आकलन घटना (फिनामनान) के रूप में है!

एक छोटे से शहर से शुरुआत करने के बाद आप राष्ट्रीय परिपेक्ष्य में आए और खुद अपना नाम बनाया। सबसे अहम देश को गौरान्वित कराया। आपके उदय और व्यवहार ने देश के करोड़ों युवाओं को ताकत और प्रेरणा दी जिनकी आपकी तरह बड़े स्कूल या कॉलेज की पहुंच नहीं थी, न ही वो किसी बड़े परिवार से ताल्लुक रखते थे लेकिन उनके उनके पास खुद को सर्वोच्च स्तर पर सबसे अलग खड़ा करने करने की प्रतिभा थी। 

आप नए भारत की भावना का प्रतीक हैं जहां परिवार का नाम युवाओं की तकदीर का निर्धारण नहीं होता बल्कि वो अपना नाम और अपनी तकदीर खुद बनाते हैं। हम कहां से आए हैं ये तबतक मायने नहीं रखता जब तक कि हमें ये मालूम होता है कि हमें कहां जाना है इस तरह की भावना के साथ आपने कई युवाओं को प्रेरित किया है। 

मैदान पर आपके करियर के कई पल भारतीय युवाओं के लिए उदाहरण बने रहेंगे। भारत का मौजूदा पीढ़ी जोखिम उठाने में संकोच नहीं करती है और मुश्किल परिस्तियों में एक दूसरे की काबीलियत और क्षमता पर विश्वास करती है। जिस तरह आपने कई बार जोखिम उठाकर युवा खिलाड़ियों अधिक दबाव वाली परिस्थितियों में भरोसा दिखाया। साल 2007 के टी20 विश्व कप का फाइनल इसका सर्वश्रेष्ठ उदाहरण है। 

भारत का मौजूदा पीढ़ी निर्णायक स्थितियों में अपना आपा नहीं खोती है हमने कई बार मैच के दौरान आपके अंदर भी ऐसा देखा है। जिस तरह आपने टीम का नेतृत्व किया उसी तरह हमारे देश का युवा विपरीत परिस्थियों का सामना करते हुए दिल छोटा नहीं करता, और सबसे अहम वो निडर है। 

मैं आपके भारतीय सैन्य बलों के साथ जुड़ाव का भी विशेष रूप से उल्लेख करना चाहूंगा। हमारे सैनिकों के साथ आप सबसे ज्यादा खुश होते हैं। उनके हितों के प्रति आपकी चिंता हमेशा उल्लेखनीय रही है। 

मैं आशा करता हूं कि साक्षी और जीवा को अब आपके साथ अब ज्यादा वक्त गुजारने का मौका मिलेगा। मैं उन्हें भी अपनी ओर से शुभकामनाएं देता हूं क्योंकि उनके त्याग और सहयोग के बिना कुछ भी संभव नहीं होता। हमारा युवा आपसे पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ के बीच संतुलन बनाना भी सीख सकता है, मुझे आपकी एक तस्वीर याद है जब हर कोई आपके इर्दगिर्द थे और टूर्नामेंट की जीत का जश्न मना रहे थे तब भी आप अपनी बेटी के साथ खेल रहे थे। वो विटेंज एमएस धोनी था। 

आपको भविष्य के लिए मेरी ओर से शुभकामनाएं। 

आपका
नरेंद्र मोदी

 

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर