पाकिस्तानी गेंदबाज के बड़े बोल, कहा- मुझे साधारण बल्लेबाज लगे थे विराट कोहली 

Pakistan Fast Bowler Junaid Khan termed Virat Normal Batsman: पाकिस्तान के तेज गेंदबाज जुनैद खान ने बताया कि विराट कोहली के खिलाफ साल 2012-13 के भारत दौरे पर वो कैसे सफल हुए थे।

Virat Kohli Junaid Khan
विराट कोहली के विकेट का जश्न मनाते जुनैद खान  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • पाकिस्तान के खिलाफ तीन मैच की घरेलू वनडे सीरीज में बुरी तरह नाकाम हुए थे विराट
  • तीन मैच में तीन बार बने थे तेज गेंदबाज जुनैद खान के शिकार
  • भारत को वनडे सीरीज में मिली थी 1-2 के अंतर से हार

इस्लामाबाद: भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली पिछले कई सालों से वर्ल्ड क्रिकेट में राज कर रहे हैं। वनडे हो या टेस्ट या फिर टी20 हर फॉर्मेट में विराट ने धमाकेदार प्रदर्शन करते हुए अपना झंडा बुलंद रखा है। विराट ने अपने 12 साल लंबे करियर के दौरान दुनियाभर के गेंदबाजों की जमकर धुनाई की है लेकिन एक गेंदबाज ऐसा है जिसके सामने विराट कोहली की नहीं चली थी। 

साल 2012-13 में पाकिस्तानी टीम ने द्विपक्षीय सीरीज खेलने के लिए आखिरी बार भारत दौरा किया था। इस दौरान दोनों देशों के बीच खेली गई तीन मैचों की वनडे सीरीज में विराट कोहली का बल्ला नहीं चला था। ये सीरीज पाकिस्तान ने 2-1 के अंतर से अपने नाम की थी। विराट के बल्ले को सीरीज में खामोश रखने में अहम भूमिका पाकिस्तान के बांए हाथ के तेज गेंदबाज जुनैद खान ने निभाई थी। 

विराट लगे थे साधारण बल्लेबाज 
जुनैद ने सीरीज के तीन मैच में विराट कोहली के सामने 24 गेंदें फेंकी थी इस दौरान विराट उनके खिलाफ केवल 3 रन बना सके और 3 बार उनका शिकार बने थे। 8 साल पहले के इस वाकये को याद करते हुए जुनैद खान ने कहा, मैंने जब उसके सामने पहली गेंद डाली तो मेरे ऊपर भी दबाव था तो वो नो बॉल हो गई। लेकिन जब दूसरी गेंद मैंने की तो वो बीट हो गए तो मुझे लगा कि वो एक नॉर्मल बैट्समैन हैं। वहां से मेरी उनके खिलाफ लय बन गई।'

सीरीज के दौरान विराट कोहली के साथ मजाक में हुई बातचीत का जिक्र करते हुए जुनैद ने कहा, विराट ने कहा कि भारतीय पिचों में गेंद ज्यादा स्विंग नहीं होती है। तो मैंने उनसे कहा था देखूंगा लेकिन मैंने भी उनसे मजाक में कह दिया थी कि आप बांए हाथ के गेंदबाजों के खिलाफ थोड़े हलके हो।'

ऐसे की थी भारत दौरे की तैयारी 
भारत दौरे के लिए तैयारी की चर्चा करते हुए जुनैद ने कहा, भारत दौरे पर जाने से पहले में लगातार घरेलू क्रिकेट खेल रहा था। उस दौरान ज्यादा मैच फैसलाबाद में खेले थे। हर मैच में मैंने 30 से 35 गेंदें फेंकी थी तो इससे मेरा मोमेंटम बना था। जब हम भारत जा रहे थे तब मैं टेस्ट टीम में तो पर्मानेंट था लेकिन उस दौरे के लिए वनडे टीम में मेरी वापसी हुई थी। ऐसे में मेरे दिमाग में यह था कि मेरे पास यही मौका है वापसी करने का। भारत के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करने से मेरा काम आसान हो जाएगा। 

टीम इंडिया के उपकप्तान विराट कोहली उस सीरीज के तीन मैच में केवल 13 रन बना सके थे। तीनों बार वो जुनैद का शिकार बने थे। वहीं जुनैद ने सीरीज में भारत के सपाट विकेटों पर कुल 8 विकेट लिए और पाकिस्तान की 2-1 के अंतर से जीत में अहम योगदान दिया। 

आज विराट हैं सर्वश्रेष्ठ 
हालांकि जुनैद ने विराट को मौजूदा दौर में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों शुमार किया और कहा, बगैर किसी संदेह के विराट तीनों फॉर्मेट के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं। दुनिया में आज आप किसी से भी पूछें तो वो विराट कोहली, बाबर आजम, केन विलियमसन, जो रूट और स्टीव स्मिथ वर्ल्ड क्लास बल्लेबाज हैं। लेकिन उनमें से अगर कोई टॉप पर है तो विराट हैं क्योंकि उन्होंने तीनों फॉर्मेट में शानदार प्रदर्शन किया है। 

30 वर्षीय जुनैद ने पाकिस्तान के लिए अपने करियर में 22 टेस्ट, 76 वनडे और 9 टी20 मैच खेले हैं। इस दौरान उन्होंने टेस्ट में 71, वनडे में 110 और टी20 में 8 विकेट लिए हैं। वो पाकिस्तानी जर्सी में आखिरी बार पिछले साल इंग्लैंड के खिलाफ नॉटिंघम में विश्व कप से पहले नजर आए थे। 

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर