17 साल पहले ब्रायन लारा के वर्चस्व को मैथ्यू हेडेन ने दी थी चुनौती, अपने नाम किया था सबसे बड़ा विश्व रिकॉर्ड 

17 साल पहले आज ही के दिन कैरेबियाई क्रिकेट की विरासत माने जाने वाले टेस्ट क्रिकेट के सबसे बड़े वर्ल्ड रिकॉर्ड को मैथ्यू हेडेन ने अपने नाम किया था।

Matthew Hayden
मैथ्यू हेडेन( साभार WACA)  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • मैथ्यू हेडेन ने आज ही के दिन तोड़ा था ब्रायन लारा का सबसे बड़ा विश्व रिकॉर्ड
  • जिंबाब्वे के खिलाफ पर्थ में खेली थी धमाकेदार पारी
  • हेडेन छह महीने तक रह पाए थे टेस्ट क्रिकेट के शहंशाह

नई दिल्ली: 10 अक्टूबर 2003 का दिन अपने आप में बेहद विशिष्ट है। इस दिन वेस्टइंडीज के दिग्गज बल्लेबाज ब्रायन लारा के सबसे बड़े रिकॉर्ड को ऑस्ट्रेलिया के धाकड़ ओपनर मैथ्यू हेडेन ने अपने नाम कर लिया था। लारा को ये बात इतनी खली कि महज 6 महीने बाद उन्होंने एक बार फिर इस वर्ल्ड रिकॉर्ड को अपने नाम कर लिया। 

जिंबाब्वे के खिलाफ 9 अक्टूबर से 13 अक्टूबर के बीच पर्थ में खेले गए टेस्ट मैच के दूसरे दिन हेडेन ने धमाकेदार अंदाज में तिहरा जड़ा था और लारा का टेस्ट क्रिकेट में सबसे बड़ी व्यक्तिगत पारी का विश्व रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। हेडेन ने धमाकेदार अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए 362 गेंद में टेस्ट करियर का पहला तिहरा शतक पूरा किया था। इस दौरान उन्होंने 33 चौके और 8 छक्के जड़े थे। इसके बाद भी उन्होंने अपना धमाका जारी रखा और 402 गेंद में 350 रन के आंकड़े को भी पार कर लिया। 

तकरीबन 10 साल लारा के नाम रहा था रिकॉर्ड 
ऑस्ट्रेलिया की ओर से सबसे बड़ी टेस्ट पारी खेलने का रिकॉर्ड अपने नाम करने के बाद हेडेन की नजर ब्रायन लारा के टेस्ट क्रिकेट में सबसे लंबी पारी के रिकॉर्ड(375 रन ) पर जा टिकी। ये रिकॉर्ड लारा ने साल 1994 में इंग्लैंड के खिलाफ एंटिगा में बनाया था। दस साल में लारा के रिकॉर्ड को कोई खिलाड़ी चुनौती नहीं दे सका था। 

इस रिकॉर्ड को माना जाता है कैरेबियाई क्रिकेट की धरोहर 
एक तरह से इस रिकॉर्ड को कैरेबियाई क्रिकेट की धरोहर माना जाता था जो लारा से पहले सर गैरी सोबर्स के नाम दर्ज था। सोबर्स ने 365 रन की पारी साल 1958 में पाकिस्तान के खिलाफ जमैका के किंग्सटन में खेली थी। लारा ने सोबर्स को पीछे छोड़कर कैरेबियाई क्रिकेट की परंपरा को आगे बढ़ाया था। लारा ने अपनी 375 रन की ऐतिहासिक पारी के दौरान  538 गेंद का सामना किया था। इस दौरान उन्होंने 45 चौके जड़े थे।

400 रन की पारी खेलने चूक गए थे हेडेन 
ऐसे में हेडेन ने अंतत: लारा का रिकॉर्ड तोड़कर विश्व रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। उनके पास टेस्ट इतिहास में 400 रन की व्यक्तिगत पारी खेलने वाले पहले खिलाड़ी बनने का मौका था लेकिन ऑफ स्पिनर ट्रेवर ग्रिपर ने उन्हें ऐसा नहीं करने दिया। हेडेने ने 437 गेंद में 380 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने 38 चौके और 11 छक्के जड़े और स्टुअर्ट कार्लाइल के हाथों लपके गए। 

गिलक्रिस्ट ने दिया था हेडेन का साथ 
हेडेन की इस पारी की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने उस पर्थ टेस्ट की पहली पारी 6 विकेट पर 735 रन पर घोषित कर दी। हेडेन के अलाव इस मैच में एडम गिलक्रिस्ट ने 122 रन की पारी खेली थी और हेडेन की रिकॉर्ड तोड़ पारी खेलने में मदद की थी। गिलक्रिस्ट 94 गेंद में 113 रन बनाकर नाबाद रहे थे। हेडेन और गिलक्रिस्ट के बीच छठे विकेट के लिए 233 रन की साझेदारी हुई थी। इसके बाद बल्लेबाजी करने उतरी जिंबाब्वे की टीम पहली पारी में 239 और दूसरी पारी में 321 रन पर ढेर हो गई थी और ऑस्ट्रेलिया ने ये मैच पारी और 175 रन के अंतर से अपने नाम कर लिया था।  

लारा ने किया था हेडेन को फोन
हेडेन ने जब वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम किया तो लारा ने उन्हें व्यक्तिगत तौर पर फोन करके बधाई दी थी। लेकिन लारा को अपने हाथ से वर्ल्ड रिकॉर्ड टूट जाने का बहुत दुख हुआ था। लेकिन 6 महीने बाद इंग्लैंड के खिलाफ उसी मैदान पर अप्रैल 2004 में महज 6 महीने बाद नाबाद 400 रन की पारी खेलकर इस रिकॉर्ड को अपने नाम कर लिया और 16 साल से उनके नाम ये वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है। 

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर