..और लाइव प्रसारण के दौरान रो पड़ा ये दिग्गज पूर्व क्रिकेटर

Michael Holding on racism experience: वेस्टइंडीज के पूर्व महान तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग पुराना दर्द जाहिर करते हुए नस्लवाद से जुड़ा अपना अनुभव बयां किया है।

Michael Holding
माइकल होल्डिंग  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • माइकल होल्डिंग लाइव प्रसारण के दौरान हुए भावुक
  • पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज ने बयां किया नस्लभेद का अपना अनुभव
  • इंग्लैं-वेस्टइंडीज टेस्ट के दौरान खिलाड़ी कर रहे हैं आंदोलन का समर्थन

साउथम्पटन: अमेरिका में अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद पूरी दुनिया में नस्लवाद के खिलाफ जो आंदोलन छिड़ा उसने कई दबे दर्द भी सामने ला दिए। वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के बीच शुरू हुए पहले टेस्ट से पूर्व भी खिलाड़ियों ने घुटने के बल बैठकर इस आंदोलन को अपना समर्थन दिया। वहीं मैच के दौरान एक ऐसा भावुक पल भी आया जब वेस्टइंडीज के अपने जमाने के दिग्गज तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग लाइव प्रसारण के दौरान अपने माता पिता के साथ हुए नस्ली व्यवहार पर बात करते हुए आंसू नहीं रोक पाये। एक दिन पहले होल्डिंग ने नस्लवाद पर दमदार भाषण भी दिया था। 

इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच पहले टेस्ट मैच से पूर्व होल्डिंग ने कहा था कि अश्वेत नस्ल का अमानुषिकीकरण किया गया और अगर नस्लवाद पर संपूर्ण मानव जाति को शिक्षित नहीं किया गया तो यह जारी रहेगा। दूसरे दिन इस विषय पर बात करते हुए वह भावुक हो गये।

होल्डिंग हुए भावुक

माइकल होल्डिंग ने टीवी पर लाइव टेलीकास्ट के दौरान ‘स्काई न्यूज’ से कहा, ‘यह भावनात्मक पक्ष तब सामने आया जब मैंने अपने माता पिता के बारे में सोचना शुरू किया और मैं फिर से भावुक हो रहा हूं। मैं जानता हूं कि मेरे माता पिता किस दौर से गुजरे हैं। मेरी मां के परिवार ने उनसे इसलिए बात करना बंद कर दिया था क्योंकि उनके पति बहुत गहरे रंग थे।’ होल्डिंग ने कहा, ‘‘मैं जानता हूं कि वे किस दौर से गुजरे हैं और वह बात तुरंत ही मेरे जेहन में आ गयी। मैं जानता हूं कि यह धीमी प्रक्रिया है लेकिन भले ही यह छोटा कदम हो, भले ही यह बेहद धीमी से गति से आगे बढ़ रहा हो लेकिन मैं उम्मीद कर रहा हूं कि यह सही दिशा में आगे बढ़ता रहेगा।’’

दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने दिया समर्थन

अमेरिका में अफ्रीकी मूल के जार्ज फ्लॉयड के एक श्वेत पुलिस अधिकारी के हाथों मौत के बाद नस्लवाद प्रमुख मसला बन गया है। इसके बाद ही दुनिया भर में ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ अभियान चला और पहले टेस्ट मैच से पूर्व वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने इसका समर्थन किया। साउथम्पटन टेस्ट मैच से पहले खिलाड़ियों ने घुटने के बल बैठकर इस अभियान का समर्थन किया। इंग्लैंड क्रिकेट टीम की बात करें तो उनकी टीम में एकमात्र अश्वेत खिलाड़ी जोफ्रा आर्चर हैं जिनका जन्म वेस्टइंडीज में हुआ था।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर