'अभी भी पता लगा रहा हूं कि उस दिन मैदान पर आखिर हुआ क्या था'- विलियमसन

Kane Williamson speaks up on World Cup Final: कीवी टीम के कप्तान केन विलियमसन ने आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 के बारे में पहली बार खुलकर बात सामने रखी है।

Kane Williamson speaks on ICC World Cup 2019 Final
विश्व कप 2019 पर खुलकर बोले केन विलियमसन  |  तस्वीर साभार: IANS

वेलिंग्टन: पिछले साल का सबसे रोमांचक क्रिकेट मैच कहें या विश्व कप इतिहास का सबसे दिलचस्प फाइनल मुकाबला..इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच खेला गया 2019 आईसीसी विश्व कप फाइनल एक गजब का मुकाबला था। उस मुकाबले में विजेता बेशक एक ही टीम थी लेकिन दिल दोनों ही टीमों ने जीते, खासतौर पर न्यूजीलैंड की टीम ने। आज भी उनके कप्तान केन विलियमसन उस मैच को याद करते हैं और अभी भी असमंजस में हैं।

न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन ने कहा है कि वह अभी भी इस बात को समझ नहीं पा रहे हैं कि 2019 विश्व कप फाइनल उनकी टीम का अच्छा समय था या बुरा। विलियम्सन अपने देश को पहला विश्व कप दिलाने के काफी करीब खड़े थे लेकिन किस्मत को शायद कुछ और मंजूर था। मेजबान इंग्लैंड के साथ हुए फाइनल में सुपर ओवर हुआ जो टाई रहा। बाद में इंग्लैंड को ज्यादा बाउंड्री स्कोर करने के कारण जीता घोषित कर दिया गया। आईसीसी ने हालांकि बाद में इस नियम को हटा दिया।

अभी भी इस बात का पता लगा रहा हूं

विलियम्सन ने क्रिकबज वेबसाइट पर हर्षा भोगले के साथ बात करते हुए कहा, 'वो अच्छा समय था या बुरा इस बात को पहचानने में थोड़ा समय लगेगा। मैं अभी भी इस बात का पता लगा रहा हूं कि वो क्या था।' उन्होंने कहा, 'हमें फल नहीं मिला लेकिन वो मैच बहुत शानदार था, लेकिन समझने के लिए काफी मुश्किल और इससे बाहर निकलने के लिए भी क्योंकि आप उस खेल का हिस्सा थे।

कुछ चीजों पर नियंत्रण नहीं

कीवी टीम के कप्तान ने कहा, 'हर मैच में कुछ ऐसी चीजें होती हैं जिन पर आप नियंत्रण नही कर सकते।' केन विलियमसन को टूर्नामेंट का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया था लेकिन वो सचिन तेंदुलकर से पुरस्कार लेते हुए खुश नहीं दिखे थे। न्यूजीलैंड ने उस मैच में पहले बल्लेबाजी की और आठ विकेट के नुकसान पर 241 रन बनाए। इंग्लैंड की बल्लेबाजी बिखर गई लेकिन बेन स्टोक्स ने टीम को बराबरी के स्कोर पर पहुंचा दिया। मैच सुपर ओवर में गया। इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 15 रन बनाए और न्यूजीलैंड की टीम भी 15 रन ही बना सकी, लेकिन मैच में ज्यादा बाउंड्री मारने के कारण इंग्लैंड को विजेता घोषित कर दिया गया।

अगली खबर