एक पारी में सबसे ज्यादा बाउंड्री का विश्व रिकॉर्ड, टेस्ट मैच में ऐसी बल्लेबाजी कोई नहीं कर सका

9th July in Cricket History: आज के दिन क्रिकेट के मैदान पर इंग्लैंड के पूर्व बल्लेबाज जॉन एडरिच ने वो कमाल किया था, जिस विश्व रिकॉर्ड को आज तक कोई तोड़ नहीं सका है। एक ऐसी धुआंधार पारी जिसने सबका दिल जीत लिया।

John Edrich
John Edrich (ICC)  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • क्रिकेट इतिहास में आज का दिन - 9 जुलाई - जॉन एडरिच ने किया था सबसे बड़ा कमाल
  • इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच 1965 में खेले गए टेस्ट मैच में आज का दिन एडरिच ने बनाया था यादगार
  • धमाकेदार ट्रिपल सेंचुरी जड़ी और साथ में बना दिया एक पारी में सर्वाधिक बाउंड्री का रिकॉर्ड

क्रिकेट के खेल में टेस्ट क्रिकेट सबसे पुराना प्रारूप होने के साथ-साथ सबसे धीमा प्रारूप भी होता है। इस फॉर्मेट में बल्लेबाज समय लेकर संयम के साथ पारी आगे बढ़ाने में विश्वास रखते हैं ताकि पांच दिवसीय मुकाबले में टीम को मजबूती दी जा सकी। लेकिन कुछ बल्लेबाज ऐसे भी हुए हैं जो इन बातों पर विश्वास नहीं रखते। वो टेस्ट क्रिकेट में भी उसी तरह खेलते हैं जैसे आज बल्लेबाज वनडे या टी20 क्रिकेट में खेलते हैं। इसी फेहरिस्त में जॉन एडरिच का नाम भी आता है। इंग्लैंड का एक ऐसा बल्लेबाज जिसके दौर में बेशक टी20 क्रिकेट नहीं था, लेकिन वनडे क्रिकेट शुरू होने से छह साल पहले 9 जुलाई 1965 को इस खिलाड़ी ने दुनिया को दिखाया था कि आखिर धुआंधार बल्लेबाजी क्या होती है।

हम यहां बात कर रहे हैं इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच 1965 में लीड्स में खेले गए टेस्ट सीरीज के तीन मैच की। उस मुकाबले में इंग्लैंड की टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था। इंग्लैंड का पहला विकेट महज 13 रन के अंदर बॉब बार्बर के रूप में गिर गया था लेकिन उसके बाद शुरू हुआ दूसरे ओपनर जॉन एडरिच का कहर।

वो बाउंड्री से भरी ट्रिपल सेंचुरी, दूसरे नंबर पर सहवाग

जॉन एडरिच ने पहला विकेट गिरने के बाद मोर्चा संभाला और ताबड़तोड़ बैटिंग शुरू कर दी। उन्होंने 532 मिनट बल्लेबाजी की जिस दौरान 450 गेंदें खेलते हुए नाबाद 310 रनों की पारी खेली। उनकी इस पारी में रिकॉर्ड 52 चौके और 5 छक्के शामिल थे। यानी उनकी पारी के 238 रन (77 फीसदी) बाउंड्री के जरिए आए। ये किसी भी टेस्ट पारी में सबसे ज्यादा बाउंड्री जड़ने का विश्व रिकॉर्ड है जो आज तक कायम है। इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर भारत के पूर्व दिग्गज ओपनर वीरेंद्र सहवाग का नाम आता है जिन्होंने लाहौर में पाकिस्तान के खिलाफ 2006 में 247 गेंदों में 254 रनों की ताबड़तोड़ टेस्ट पारी खेली थी। उनकी उस पारी में 47 चौके और 1 छक्का शामिल था।

इंग्लैंड ने बनाए 546 रन

उस मैच में जॉन एडरिच के अलावा केन बैरिंग्टन ने भी 163 रनों की पारी खेली थी जिन्होंने 26 चौके जड़े थे। इन दोनों बल्लेबाजों के दम पर इंग्लैंड ने पहली पारी में 4 विकेट खोकर 546 रन बनाए और पारी घोषित कर दी। जवाब देने उतरी मेहमान न्यूजीलैंड की टीम अपनी पहली पारी में सिर्फ 193 रन पर ढेर हो गई। इसके बाद इंग्लैंड ने उनको फॉलोऑन खिलाया और इस दूसरी पारी में उनको 166 रन पर समेटते हुए पारी और 187 रन से करारी शिकस्त दी।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर