पाक हिंदू क्रिकेटर ने बैन पर कहा- अगर सौरव गांगुली बने ICC अध्‍यक्ष तो फिर करूंगा अपील

Danish Kaneria on Sourav Ganguly: इंग्लिश काउंटी गेम के दौरान स्‍पॉट फिक्सिंग में आजीवन प्रतिबंध झेल रहे कनेरिया ने कहा कि अगर गांगुली आईसीसी अध्‍यक्ष बने तो वो अपने बैन के खिलाफ अपील जरूर करेंगे।

danish kaneria and sourav ganguly
दानिश कनेरिया और सौरव गांगुली 

मुख्य बातें

  • दानिश कनेरिया ने सौरव गांगुली के आईसीसी अध्‍यक्ष बनने का समर्थन किया
  • कनेरिया ने कहा कि गांगुली अध्‍यक्ष बने तो वह अपने बैन के खिलाफ अपील करेंगे
  • इंग्लिश काउंटी मैच में स्‍पॉट‍ फिक्सिंग के कारण कनेरिया पर आजीवन प्रतिबंध लगा है

नई दिल्‍ली: दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्‍तान ग्रीम स्मिथ के बाद दागी पाकिस्‍तानी लेग स्पिनर दानिश कनेरिया ने भी सौरव गांगुली के अगले आईसीसी अध्‍यक्ष बनने का समर्थन किया है। इंग्लिश काउंटी गेम के दौरान स्‍पॉट फिक्सिंग के कारण आजीवन प्रतिबंध झेल रहे पाकिस्‍तानी हिंदू क्रिकेटर कनेरिया ने कहा कि अगर गांगुली आईसीसी अध्‍यक्ष बनते हैं तो वो अपने बैन के खिलाफ दोबारा अपील करेंगे। कनेरिया को उम्‍मीद है क्रिकेट की सर्वोच्‍च संस्‍था से उन्‍हें तब बेहतर जवाब मिलने की उम्‍मीद है।

कनेरिया से पूछा गया कि अगर गांगुली अध्‍यक्ष बनते हैं तो क्‍या वो आईसीसी से अपील करेंगे। लेग स्पिनर के हवाले से इंडिया टीवी ने कहा, 'जी हां। अगर गांगुली आईसीसी अध्‍यक्ष बने तो मैं जरूर अपील करूंगा। मुझे विश्‍वास है कि आईसीसी मेरी हरसंभव मदद करेगा।' कनेरिया ने पाकिस्‍तान के लिए टेस्‍ट क्रिकेट में 261 विकेट चटकाए हैं। वह 2012 में एसेक्‍स का प्रतिनिधित्‍व करते समय स्‍पॉट फिक्सिंग में दोषी पाए गए और फिर उन पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया गया। स्पिनर ने पहले तो इन आरोपों को गलत करार दिया, लेकिन 2018 में आखिरकार सच्‍चाई बताई।

गांगुली से बेहतर कोई नहीं

दानिश कनेरिया ने कहा कि सौरव गांगुली शानदार क्रिकेटर थे और वह आईसीसी प्रमुख की भूमिका के लिए आदर्श उम्‍मीदवार हो सकते हैं। उन्‍होंने कहा, 'सौरव गांगुली दिग्‍गज क्रिकेटर थे। उन्‍हें खेल की अच्‍छी जानकारी है। आईसीसी प्रमुख की भूमिका के लिए उनसे बेहतर कोई उम्‍मीदवार नहीं है। गांगुली ने भारत का बेहतरीन तरीके से प्रतिनिधित्‍व किया और इसके बाद एमएस धोनी व विराट कोहली ने दमदार कप्‍तानी को आगे बढ़ाया। वह इस समय बीसीसीआई अध्‍यक्ष हैं और मेरा मानना है कि आईसीसी प्रमुख बनकर वह भारत को बहुत आगे ले जाएंगे।' कनेरिया ने साथ ही कहा कि गांगुली को आईसीसी अध्‍यक्ष बनने के लिए पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के समर्थन की जरूरत भी नहीं है।

पूर्व लेग स्पिनर ने कहा, 'गांगुली अपने आप में बहुत दमदार व्‍यक्ति हैं। मुझे नहीं लगता कि उन्‍हें पीसीबी के समर्थन की जरूरत है।' वैसे, गांगुली के अगले आईसीसी अध्‍यक्ष बनने में सबसे पहले समर्थन ग्रीम स्मिथ ने किया था। स्मिथ ने कहा था, 'आईसीसी के अध्‍यक्ष की भूमिका बहुत महत्‍वपूर्ण है क्‍योंकि किस तरह खेल को आगे बढ़ाना है और सही दिशा में आगे बढ़ाना है। यह फैसले उन पर निर्भर करेंगे। गांगुली जैसा व्‍यक्ति आईसीसी अध्‍यक्ष की भूमिका के लिए शानदार साबित हो सकता है।'

गांगुली ही क्‍यों

स्मिथ ने आगे कहा, 'गांगुली का अध्‍यक्ष बनना खेल के लिए अच्‍छा होगा। उन्‍हें खेल की समझ है। उन्‍होंने अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर तक खेला है और वह काफी सम्‍मानित हैं। अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट के लिए इस समय उनसे बेहतर नियुक्ति शायद ही कोई हो।' सौरव गांगुली का जुलाई में बीसीसीआई अध्‍यक्ष पद के रूप में कार्यकाल समाप्‍त होने जा रहा है। अगर सुप्रीम कोर्ट उनका कार्यकाल बढ़ाने की अनुमति नहीं देती तो ऐसी रिपोर्ट्स हैं कि पूर्व भारतीय कप्‍तान अगले आईसीसी अध्‍यक्ष के रूप में शशांक मनोहर की जगह लेंगे।

अगली खबर