आईपीएल फ्रेंचाइजियों ने किया नजरअंदाज, अब इस जगह खेलकर धमाल मचाएंगे हनुमा विहारी

Hanuma Vihari: दाएं हाथ का यह बल्लेबाज इंग्लैंड पहुंच गया है और बर्मिंघम की इस काउंटी टीम के साथ इस सत्र के कम से कम तीन मैचों के लिए जुड़ेगा। विहारी टेस्‍ट की तैयारी वारविकशर से जुड़कर करेंगे।

hanuma vihari
हनुमा विहारी 

मुख्य बातें

  • हनुमा विहारी काउंटी क्रिकेट में वारविकशर के साथ जुड़े
  • हनुमा विहारी को आईपीएल में किसी फ्रेंचाइजी ने नहीं खरीदा
  • हनुमा विहारी ने भारत के लिए आखिरी टेस्‍ट सिडनी में खेला था

नई दिल्ली: इंडियन प्रीमियर लीग की फ्रेंचाइजियों द्वारा नजरअंदाज किये गये भारतीय टेस्ट विशेषज्ञ बल्लेबाज हनुमा विहारी इंग्लैंड में छह टेस्ट मैचों के आगामी दौरे की तैयारी काउंटी टीम वारविकशर से जुड़कर करेंगे। इंडियन प्रीमियर लीग के बाद भारतीय टीम को इंग्लैंड में विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में न्यूजीलैंड का सामना करना है। टीम को इसके बाद इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में भाग लेना है।

दाएं हाथ का यह बल्लेबाज इंग्लैंड पहुंच गया है और बर्मिंघम की इस काउंटी टीम के साथ इस सत्र के कम से कम तीन मैचों के लिए जुड़ेगा। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने पीटीआई-भाषा से मंगलवार को इसकी पुष्टि करते हुए कहा, 'हां, विहारी इस सत्र में इंग्लैंड की काउंटी टीम वारविकशर के लिए खेलेंगे। वह कुछ मैच खेलेंगे। वह इंग्लैंड में है।' वारविकशर काउंटी के हालांकि आधिकारिक तौर पर इसकी पुष्टि नहीं की है , लेकिन बीसीसीआई अधिकारियों के अनुसार इसके करार से जुड़ी चीजों पर काम किया जा रहा है।

उन्होंने कहा, 'करार से जुड़ी चीजों पर काम जारी है। वह कम से कम तीन मैच खेलेंगे। हम यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि क्या उन्हें कुछ और मैचों में खेलने का मौका मिल सकता है।' विहारी ने इससे पहले 2019 में दिल्ली कैपिटल्स का प्रतिनिधित्व किया था, लेकिन उसके बाद टेस्ट विशेषज्ञ का ठप्पा लगने के कारण आईपीएल नीलामी में किसी फ्रेंचाइजी ने उनके लिए बोली नहीं लगायी। इस 27 साल के बल्लेबाज ने भारत के लिए 12 टेस्ट में 32 के अधिक के औसत से 624 रन बनाये है। उन्होंने इस दौरान एक शतक और चार अर्धशतक लगाये है।

सिडनी में खेली थी जुझारू पारी

वह भारत के लिए आखिरी बार सिडनी टेस्ट में खेले थे। उन्होंने मांसपेशियों में खिंचाव के बाद भी चार घंटे की जुझारू पारी में नाबाद 23 रन बनाने के साथ रविचंद्रन अश्विन के साथ मिलकर टेस्ट मैच ड्रॉ करने में अहम भूमिका निभाई थी। बेंगलुरू स्थित राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में रिहैब्लिटेशन के बाद उन्होंने विजय हजारे ट्रॉफी राष्ट्रीय एकदिवसीय टूर्नामेंट से प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में वापसी की। आंध्र का यह बल्लेबाज पहले मैच में अर्धशतक लगाने के बाद अगले पांच मैचों में बड़ी पारी खलने में नाकाम रहा।

सूत्र ने कहा, 'इस बार का घरेलू सत्र काफी छोटा है और टेस्ट टीम के सदस्य विहारी को मैच अभ्यास की जरूरत है। चेतेश्वर पुजारा सहित टीम के उनके सभी साथी आईपीएल का हिस्सा हैं। आईपीएल सीमित ओवरों का प्रारूप है लेकिन वे फिट और मैच के लिए तैयार होंगे। हमें यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि विहारी को इंग्लैंड दौरे से पहले मैदान पर समय बिताने का मौका मिले। यह सिर्फ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के लिए नहीं है, बल्कि इसके बाद पांच टेस्ट मैचों की सीरीज भी है। हमें उसकी तैयारी की जरूरत है।'

पिछले कुछ वर्षों में बीसीसीआई की कोशिश रही है कि इंग्लैंड दौरे से पहले भारतीय खिलाड़ी काउंटी क्रिकेट में खेले। इशांत शर्मा, अश्विन और अक्षर पटेल हाल के वर्षों में काउंटी क्रिकेट में खेल चुके है।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर