Sourav Ganguly : इंग्लैंड के इस बदमिजाज ऑलराउंडर को दिया था गांगुली ने करारा जवाब

Sourav ganguly : भारतीय क्रिकेट में पूर्व कप्तान सौरव गांगुली को सबसे आक्रामक कप्तान माना जाता था। गांगुली की रणनीति थी कि विपक्षी टीम को उसी की भाषा में जवाब दिया जाए। यही कारण है कि इंग्लैंड के पूर्व ऑलराउंडर एंड्रयू फ्लिंटॉफ ने साल 2002 में भारत के खिलाफ छठा वनडे मैच जीतने के बाद बदतमीजी की तो गांगुली ने सिर्फ एक साल बाद उन्हीं के घर में अंग्रेजों को करारा जवाब दिया।

Sourav Ganguly
Sourav Ganguly in lords  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • 2002 में नेटवेस्ट सीरीज जीतने के बाद सौरव गांगुली ने टी-शर्ट उतारकर मनाया था जश्न
  • कुछ महीने पहले फरवरी 2002 में इंग्लैंड के ऑलराउंडर एंड्रयू फ्लिंटॉफ ने वानखेड़े स्टेडियम में उतारी थी अपनी टी-शर्ट
  • फ्लिंटॉफ को करारा जवाब देने के लिए गांगुली ने लॉर्ड्स की बालकनी में टी-शर्ट उतारकर मनाया था जीत का जश्न

Cricketer Sourav Ganguly : भारतीय क्रिकेट टीम को बुलंदियों पर पहुंचाने का श्रेय पूर्व कप्तान सौरव गांगुली को जाता है। वह काफी आक्रामक कप्तान थे और विपक्षी टीमों और खिलाड़ियों को उन्हीं की भाषा में जवाब देते थे। इसका एक बड़ा उदाहरण इंग्लैंड में साल 2002 में खेली गई तीन देशों की नेटवेस्ट सीरीज है, जिसका फाइनल जीतने के बाद टीम के कप्तान सौरव गांगुली ने एक ऐसा कारनामा किया, जिसे आज तक क्रिकेटप्रेमी कभी नहीं भूल सके। 

वानखेडे़ में मिले अपमान को भूला नहीं सके गांगुली

इंग्लैंड की टीम साल 2002 में 6 मैचों की वनडे सीरीज खेलने के लिए भारत दौरे पर आई थी। भारतीय टीम सीरीज में 3-2 से आगे थी और निर्णायक वनडे  मुकाबला 03 फरवरी को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला गया। इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 255 रन बनाए। जवाब में भारतीय टीम को यह मैच जीतने के लिए आखिरी ओवर में 11 रन चाहिए थे और दो विकेट शेष थे। लेकिन तेज गेंदबाज एंड्रयू फ्लिंटॉफ ने आखिरी ओवर में पहले अनिल कुंबले और जवागल श्रीनाथ को आउट करके इंग्लैंड को पांच रन से जीत दिला दी और सीरीज 3-3 से ड्रॉ करा दी। मैच जीतने के बाद फ्लिंटॉफ ने अपनी टी-शर्ट उतार दी और आक्रामक अंदाज में जीत का जश्न मनाया। उस समय टीम के कप्तान रहे सौरव गांगुली इस हरकत को देखकर आगबबूला हो गए।

युवराज और मोहम्मद कैफ ने पलट दी बाजी
कुछ महीने बाद जुलाई में भारतीय टीम तीन देशों की नेटवेस्ट सीरीज खेलने के लिए इंग्लैंड पहुंची। फाइनल में खिताब के लिए भारत की भिड़ंत मेजबान इंग्लैंड की टीम से थी। इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट पर 325 रन का विशाल स्कोर बनाया। उस समय इस लक्ष्य को हासिल करना किसी भी टीम के लिए बहुत मुश्किल था। भारतीय टीम ने 146 रन तक पांच विकेट गंवा दिए और उसके लिए जीत हासिल करना नामुमकिन लग रहा था। लेकिन युवराज सिंह (69 रन) और मोहम्मद कैफ (नाबाद 89 रन) ने जोरदार पारियां खेलकर भारतीय टीम को दो विकेट से ऐतिहासिक जीत दिला दी।

फिर दुनिया ने देखा दादा का जोशीला रूप
पारी का  50वां ओवर एंड्रयू फ्लिंटॉफ फेंकने के लिए आए। इस ओवर की तीसरी गेंद पर जैसे ही जहीर खान ने विजयी रन बनाया, वैसे ही लॉर्ड्स की बालकनी में पूरी टीम के साथ बैठे भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने अपनी टी-शर्ट उतारी और उसे जोर-जोर से घुमाकर जीत का जश्न मनाया। वहीं, हार से निराश फ्लिंटॉफ मैदान पर उदास बैठे थे। गांगुली का वो जश्न आज तक भारतीय क्रिकेट प्रेमियों को याद है।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर