क्या वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में पहुंच पाएगा भारत, जानिए कैसे हैं समीकरण? 

क्या दक्षिण अफ्रीका की लॉर्ड्स टेस्ट में इंग्लैंड के खिलाफ पारी के अंतर से जीत ने भारतीय टीम के लगातार दूसरी बार आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने के अरमानों पर पानी फेर दिया है। 

WTC-Final-Indian-Cricket-team
भारतीय क्रिकेट टीम  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • दक्षिण अफ्रीका ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में पहुंचने की भारत की राह मुश्किल कर दी है
  • भारत बाकी बचे मैचों में जीत के साथ हासिल कर सकता है अधिकतम 68.05 जीत प्रतिशत
  • फाइनल में पहुंचने के लिए इतना जीत प्रतिशत रहेगा नाकाफी

लंदन: दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट टीम के टेस्ट क्रिकेट में लगातार अच्छे प्रदर्शन का असर वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की अंक तालिका पर दिख रहा है। एक तरफ जहां सभी टीमों का ध्यान इन दिनों ऑस्ट्रेलिया की मेजबानी में खेले जाने वाले टी20 विश्व कप की ओर है। टी20 विश्व कप की तैयारी में जुटी पहली वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की उपविजेता भारत के लिए मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। 

फिलहाल 52.08 है टीम इंडिया का जीत प्रतिशत
ऐसे में सवाल उठता है कि क्या रोहित शर्मा की कप्तानी वाली टीम इंडिया वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के दूसरे सीजन के फाइनल में पहुंच पाएगी या नहीं? वर्तमान में टीम इंडिया के खाते में 12 टेस्ट में 6 जीत, 4 हार और 2 ड्रॉ के साथ कुल 75 अंक हैं। उसका जीत प्रतिशत 52.08 का है। भारत के खाते में पांच पेनल्टी प्वाइंट्स भी हैं।

दक्षिण अफ्रीका की इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स टेस्ट में पारी और 12 रन के अंतर से जीत ने भारत के लिए फाइनल में पहुंचने की राह में बड़ी मुश्किलें खड़ी कर दी हैं। द. अफ्रीकी टीम जहां 8 टेस्ट में 6 में जीत के साथ अंक तालिका में पहले पायदान पर पहुंच गई है।

68.05 हो सकता है भारत का अधिकतम जीत प्रतिशत
भारतीय टीम को दूसरे चरण में 6 टेस्ट मैच और खेलने हैं। अगर टीम इंडिया ने इन 6 में से 6 टेस्ट में जीत हासिल कर लेती है तो उसका जीत प्रतिशत 68.05 हो जाएगा। वहीं द. अफ्रीका को 7 मैच और खेलने हैं। अगर इन सात में से वो केवल 5 मैच में जीत हासिल करने में सफल होती है तो उसका जीत प्रतिशत 73.33 का हो जाएगा। जो भारत के जीत प्रतिशत से अधिक होगा। 

ये भी पढ़ें: WTC Points Table: इंग्लैंड को पटखनी देकर पहले पायदान पर पहुंचा द. अफ्रीका, जानिए टीम इंडिया का हाल 

ऑस्ट्रेलिया के टॉप 2 में रहने की संभावना है अधिक
वहीं अंक तालिका में दूसरे पायदान पर काबिज ऑस्ट्रेलिया की टीम अगर अपने बाकी बचे सभी मैच में जीत हासिल करके इसे 84.21 जीत प्रतिशत तक ले जा सकती है। जो भारत के बाकी बचे 6 मैच में जीत के बाद के जीत प्रतिशत से अधिक होगा। श्रीलंका की स्थिति भी ज्यादा सुखद नहीं दिख रही है। अगर वो अपने बाकी बचे चारों टेस्ट मैच जीत लेती है तो उसका जीत प्रतिशत 66.66 का हो जाएगा जो कि भारत के अधिकतम हो सकने वाले 68.05 जीत प्रतिशत से कम होगा। 

भारत, ऑस्ट्रेलिया और द. अफ्रीका के बीच है फाइनल की जंग
ऐसे में अब टॉप दो पोजीशन के लिए लड़ाई द. अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच ही होगी। इन तीनों में से भारत के फाइनल में पहुंचने की संभावना बेहद कम हैं। कुछ अप्रत्याशित परिणाम या करिश्मा ही भारतीय टीम के लिए लगातार दूसरी बार वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के दरवाजे खोल सकता है। 

 
 

देश और दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | क्रिकेट (Cricket News) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर